टेनिस के प्रशंसकों के लिए आई एक और बुरी खबर, ये ग्रैंड स्लैम भी हो सकता है रद्द

कोरोना वायरस के कहर की वजह से विंबल्डन को रद्द किए जाने के बाद इसका असर व्यापक पैमाने और लंबे समय तक पड़ता दिख रहा है। स्थितियां अगले साल के पहले ग्रैंड स्लैम को रद्द करने की चर्चा तक पहुंच गई हैं।

Australian Open
Australian Open 

मुख्य बातें

  • द्वितीय विश्व युद्ध के बाद पहली बार रद्द हुआ विंबलडन का आयोजन
  • 13 जुलाई तक रद्द है अंतरराष्ट्रीय टेनिस कैलेंडर,
  • सितंबर के अंत तक स्थगित हो गया है फ्रेंच ओपन

सिडनी: कोरोना वायरस के कहर के कारण साल 2020 की दो ग्रैंड स्लैम प्रतियोगिताएं रद्द हो चुकी हैं। वहीं न्यूयॉर्क सहित पूरे अमेरिका में कोरोना ने रौद्र रूप धारण कर लिया है। अब तक इस जानलेवा वायरस की वजह से अकेले अमेरिका में ही लगभग 60 हजार लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। ऐसे में साल के आखिरी ग्रैंड स्लैम यूएस ओपन के रद्द होने के पूरे आसार नजर आ रहे हैं। हालांकि इस बारे में आखिरी फैसला जून में लिया जाएगा। लेकिन इससे ज्यादा बुरी खबर यह है कि साल 2021 के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन पर भी गाज गिर सकती है। इससे पहले इस साल विम्बलडन ग्रैंडस्लैम द्वितीय विश्व युद्ध के बाद पहली बार रद्द हुआ और फ्रेंच ओपन भी सितंबर के अंत तक स्थगित हो गया है।

ऑस्ट्रेलियन ओपन पर गिर सकती है गा
टेनिस ऑस्ट्रेलिया ने गुरूवार को स्वीकार किया कि अगर परिस्थितियां नहीं सुधरती हैं तो जनवरी में होने वाला ऑस्ट्रेलियाई ओपन रद्द हो सकता है लेकिन साथ ही कहा कि वह कोविड-19 महामारी संकट के कम होने की स्थिति में विकल्पों की तलाश कर रहा है। इस साल टेनिस कैलेंडर को कम से कम 13 जुलाई तक निलंबित कर दिया गया है और दुनिया भर में सीमायें बंद है तो अंतरराष्ट्रीय सर्किट के शुरू होने पर अनिश्चितता बनी हुई है।

सरकार के दिशानिर्देशों का करेंगे पालन
हालांकि साल 2021 के पहले ग्रैंड स्लैम का आयोजन 18 से 31 जनवरी के बीच होगा। इसके आयोजन में अभी आठ महीने का समय शेष है। लेकिन टेनिस ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि उस समय जो भी पांबदियां लागू होंगी, वह उसका पालन करेगा। टेनिस आस्ट्रेलिया की प्रवक्ता ने कहा, 'हम जिन भी विकल्पों को देख रहे हैं, हमने निश्चित रूप से इनको छुपाया नहीं है। हम बेहतर की उम्मीद कर रहे हैं लेकिन सभी परिस्थितियों के लिये योजना बना रहे हैं।'

इन विकल्पों पर कर रहे हैं काम
इन विकल्पों में टूर्नामेंट के रद्द होने की संभावना से लेकर विदेशी खिलाड़ियों को क्वारंटीन में रखना तथा केवल ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों को टूर्नामेंट देखने के लिये अनुमति देना शामिल है। उन्होंने कहा, 'हमें सभी चीजों को देखना होगा क्योंकि काफी सारे फैसले हमारे नियंत्रण से बाहर के होंगे जो सरकारी दिशानिर्देशों और पांबदियों से संबंधित होंगे।  हमें सबकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये सभी नियमों का पालन करने की आवश्यक्ता होगी।'
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर