Margashirsha Month: मार्गशीर्ष मास की अमावस्या पर करें ये उपाय, मां लक्ष्मी प्रसन्न होकर बरसाएंगी कृपा

उपाय-टोटके
Updated Nov 21, 2019 | 07:25 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

इस साल मार्गशीर्ष अमावस्या 26 नवंबर दिन मंगलवार को है। इस दिन मां लक्ष्‍मी की उपासना करने और जरूरतमंदों को दान करने से सारी इच्‍छाएं पूर्ण होती है। यहां जानें इस दिन कौन से उपाय करने चाहिये...

Margashirsha Month
Margashirsha Month 

हर साल कार्तिक अगहन मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को मार्गशीर्ष अमावस्या मनायी जाती है। इस दिन उपवास रखकर गंगा में स्नान करके पूरे विधि विधान से माता लक्ष्मी की पूजा की जाती है।  कहा जाता है कि मार्गशीर्ष अमावस्या के दिन जो कोई भी व्रत रखकर पूरी श्रद्धा से पूजा और मंत्र जाप करता है, माता लक्ष्मी उससे प्रसन्न होती हैं और अपनी कृपा बरसाती हैं।

इस साल मार्गशीर्ष अमावस्या 26 नवंबर दिन मंगलवार को है। मार्गशीर्ष अमावस्या काफी फलदायी होती है और इस दिन गंगा स्नान करने के बाद जरूरतमंदों को दान देने से बहुत सारा पुण्य प्राप्त होता है। इस दिन गंगा घाट पर स्नान करने वालों की भारी भीड़ जुटती है। इसके अलावा मार्गशीर्ष अमावस्या के दिन ही पितरों का तर्पण किया जाता है और उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया जाता है। इस दिन माता लक्ष्मी को खुश करने से घर में धन धान्य की कमी नहीं होती है।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by parchayi (@artist_ooma_sharma) on

मार्गशीर्ष अमावस्या पर करें ये उपाय 

  • अगर आपको अपने काम में सफलता नहीं मिल रही है या फिर आप जीवन में असफल हैं तो मार्गशीर्ष अमावस्या के दिन गीता का पाठ करें। भगवान श्रीकृष्ण द्वारा अर्जुन को दिए गए संदेशों का संकलन गीता का पाठ करने से सभी कार्य सिद्ध होते हैं।
  • गीता पाठ के बाद ब्राह्मणों को गीता दान करना भी बहुत फलदायी होता है।
  • मार्गशीर्ष अमावस्या के दिन कच्चा सूत लाकर इसे लपेटें और रोली का टीका लगाकर अपने व्यापार स्थल पर टांग दें। ऐसा करने से व्यापार में साझेदारी अच्छी चलती है। कोशिश करें कि प्रत्येक अमावस्या को नया सूत लपेटकर टांगें।
  • अगर आपकी कुंडली में पितृदोष है तो मार्गशीर्ष अमावस्या के दिन उपवास रखकर पितरों का तर्पण करें और उन्हें भोग लगाकर प्रार्थना करें। ऐसा करने से पितृदोष खत्म हो जाता है और संतान सुख की प्राप्ति होती है।
  • अगर आप आर्थिक परेशानियों से जूझ रहे हैं या फिर आपके घर में धन नहीं टिकता है तो मार्गशीर्ष अमावस्या की रात पश्चिम दिशा की तरफ मुख करके आसमान में देखें और हाथ उठाकर सात बार ताली बजाएं। ऐसा करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है और घर धन संपदा से भर जाता है।
  • अगर आपका बुरा समय चल रहा है तो इससे उबरने के लिए मार्गशीर्ष अमावस्या के दिन विष्णु मंदिर में पीले त्रिकोण वाला झंडा चढ़ाएं और हाथ जोड़कर भगवान विष्णु से प्रार्थना करें। ऐसा करने से सभी कष्ट दूर हो जाते हैं।

इस तरह मार्गशीर्ष अमावस्या के महत्व को समझते हुए इस दिन पूरे विधि विधान से माता लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए और गंगा स्नान करके पुण्य प्राप्त करना चाहिए।

अगली खबर