Lal kitaab ke Upay: लाल किताब के जरिए कुंडली से दूर करें कालसर्प दोष, इन जगहों को रखें हमेशा साफ

Laal kitaab ke Upay: कुंडली में राहु और केतु की वजह से कालसर्प दोष का निर्माण होता है। कहा जाता है कि कालसर्प दोष से मुक्ति पाने के लिए भाद्रपद मास की अमावस्या सबसे अनुकूल है।

Kaal Sarp Yog
Kaal Sarp Yog 

मुख्य बातें

  • लाल किताब में दिए गए हैं कई परेशानियों से बचने के लिए उपाय।
  • राहु और केतु के वजह से बनता है कालसर्प दोष।
  • आसाम उपायों की मदद से मिल सकती है इससे मुक्ति।

नई दिल्ली. कालसर्प दोष एक ऐसा दोष है जिसका निवारण जल्द से जल्द करना चाहिए। अगर किसी इंसान की कुंडली में कालसर्प योग है तो उस इंसान को अपने सपने में सांप दिखाई देंगे या अत्यधिक परीक्षण करने के बाद भी उस इंसान को सफलता नहीं मिलेगी।

इंसान की कुंडली में यदि कालसर्प योग होता है वह लोग मानसिक तनाव से हमेशा ग्रस्त रहते हैं। मुश्किल वक्त में ऐसे लोगों को निर्णय लेने में परेशानी आती है और इनका पारिवारिक जीवन कलहपूर्ण गुजरता है। इन लोगों के कार्यों के बीच में गुप्त शत्रु आकर बाधा बनते हैं। 

अगर आपके जीवन में भी यह सारी कठिनाइयां आ रही हैं तो आपको किसी ज्योतिष ने अपनी कुंडली जरूर दिखानी चाहिए। अगर आपकी कुंडली में सर्प दोष है तो इन आसान उपायों को अपनाकर आप कालसर्प दोष से मुक्ति पा सकते हैं।

क्या है कालसर्प दोष?
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार राहु और केतु के वजह से इंसान की कुंडली में कालसर्प दोष का योग बनता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भाद्रपद मास की अमावस्या कालसर्प दोष के निवारण के लिए सबसे उचित मानी जाती है। 

अगर किसी व्यक्ति के जन्मांग चक्र में राहु और केतु ग्रह एक दूसरे के सामने आ जाते हैं और बाकी सात ग्रह राहु और केतु के एक तरफ हो जाते हैं और दूसरी तरफ अगर कोई भी ग्रह नहीं रहता है तो इसे कालसर्प दोष माना जाता है। 

इन जगहों को रखें हमेशा साफ
अगर आपके कुंडली में कालसर्प दोष है तो आपको हमेशा अपना खाना रसोई घर में बैठकर खाना चाहिए। कालसर्प दोष से मुक्ति पाने के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण है कि आप अपने दीवार, टॉयलेट और बाथरूम को हमेशा साफ-सुथरा रखें। 

आपको नियमित रूप से इन जगहों की सफाई करते रहना चाहिए। कई ज्योतिषाचार्य यह बताते हैं कि कालसर्प दोष से मुक्ति पाने के लिए 10 दिन तक धर्म स्थान की सीढ़ियों पर पोछा लगाना चाहिए। यह उपाय बहुत ही अचूक माना जाता है और इससे कालसर्प दोष से जल्दी मुक्ति मिलती है। 

माथे पर लगाएं चंदन
अगर आपके कुंडली में कालसर्प दोष बन रहा है तो माथे पर चंदन लगाना आपके लिए सबसे अनुकूल रहेगा। इसके साथ आपको अपने घर में ठोस चांदी का हाथी रखना चाहिए। 

चांदी का हाथी रखना शुभ माना जाता है और यह व्यवसाय में बढ़ोतरी भी करता है। आपको मंगल या फिर गुरु ग्रह का उपाय करना चाहिए। आप चाहें तो रोजाना हनुमान चालीसा का पाठ भी कर सकते हैं।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर