Gupt Navratri Upay: आषाढ़ गुप्त नवरात्रि 11 जुलाई से प्रारंभ, राशिफल अनुसार करें यह उपाय-मां जरूर करेंगी कृपा

Gupt Navratri 2021 ke Upay in Hindi: आषाढ़ मास की गुप्त नवरात्रि का विशेष महत्व है। इस वर्ष आषाढ़ गुप्त नवरात्रि 11 जुलाई से है। मान्यता अनुसार आषाढ़ गुप्त नवरात्रि के दौरान राशिफल अनुसार उपाय करने चाहिए।

Ashadh gupt navratri ke Upay 2021
आषाढ़ गुप्त नवरात्रि 2021 राशि अनुसार उपाय 

मुख्य बातें

  • माघ और आषाढ़ महीने में पड़ने वाली नवरात्रि को कहा जाता है गुप्त नवरात्रि, आषाढ़ गुप्त नवरात्रि 11 जुलाई से होगी प्रारंभ। 
  • गुप्त नवरात्रि के दौरान राशिफल के अनुसार करने चाहिए कई उपाय, मां दुर्गा होती हैं प्रसन्न।
  • आषाढ़ गुप्त नवरात्रि में मेष राशि वाले गरीब महिला को उड़द दाल करें दान, दूर होगी आर्थिक समस्याएं।

हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार, वर्ष में कुल 4 नवरात्रि मनाई जाती हैं जिनमें से चैत्र और शरद नवरात्रि बहुत महत्वपूर्ण मानी जाती है। वहीं माघ और आषाढ़ मास में पड़ने वाली नवरात्रि को गुप्त नवरात्रि के नाम से जाना जाता है। इस वर्ष आषाढ़ मास की गुप्त नवरात्रि 11 जुलाई से प्रारंभ हो रही है गुप्त नवरात्रि तांत्रिकों के लिए विशेष मानी जाती है क्योंकि इन 9 दिनों में 10 महाविद्याओं की साधना का विधान है।

सनातन धर्म में गुप्त नवरात्रि पर त्रिपुर भैरवी, मां बंगलामुखी, मां ध्रूमावती, मां काली, त्रिपुर सुंदरी, माता छिन्नमस्ता, कमला देवी, तारा देवी, माता भुवनेश्वरी और माता मातंगी की पूजा खास विधि के अनुसार की जाती है। मान्यताओं के अनुसार, गुप्त नवरात्रि में तंत्र विद्या के लिए साधना करना बहुत अनुकूल होता है। इन नौ दिनों में सभी सिद्धियों को प्राप्त किया जाता है और मां दुर्गा के सभी स्वरूपों की पूजा की जाती है।

इसके साथ यह कहा जाता है कि गुप्त नवरात्रि के दौरान जातकों को अपनी राशि के अनुसार कुछ उपाय अवश्य करने चाहिए। हिंदू मान्यताओं के अनुसार यह उपाय करने से मां दुर्गा, मां दुर्गा के नौ स्वरूप और दस महाविद्याएं प्रसन्न होती हैं और सभी मनोकामनाओं को पूर्ण करके भक्तों की समस्याएं दूर करती हैं।

यहां जानिए, आषाढ़ गुप्त नवरात्रि के दौरान जातकों को कौन से उपाय करने चाहिए।

मेष राशि:
मेष राशि के जातक आषाढ़ गुप्त नवरात्रि में किसी गरीब महिला को उड़द दाल महाकाली को अर्पित करने के बाद दान करें। यह उपाय करने से आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी तथा धन की कमी नहीं रहेगी।

वृषभ राशि:
ज्योतिष शास्त्रों के मुताबिक, आषाढ़ गुप्त नवरात्रि में वृषभ राशि के जातकों को कनेर के फूल महाकाली को अर्पित करने चाहिए। माना जाता है कि महाकाली को कनेर के फूल चढ़ाने से अनेक प्रकार के मानसिक विकारों से छुटकारा मिलता है तथा मन शांत रहता है। 

मिथुन राशि:
मिथुन राशि के जातक अगर अपने ऑफिस में परेशान रहते हैं तो आषाढ़ गुप्त नवरात्रि के दौरान महाकाली की पूजा करें और उन्हें लौंग अर्पित करके अपने ऑफिस के दराज में रख दें। इससे आपके काम में आने वाली सभी परेशानियां दूर हो जाएंगी।

कर्क राशि:
कर्क राशि वाले जातक महाकाली की पूजा के दौरान 6 लौंग अर्पित करें फिर उन्हें कपूर से जला दें। ऐसा करने से आपके जीवन में सकारात्मकता बनी रहेगी।

सिंह राशि:
जीवन में सफलता पाने के लिए तथा पढ़ाई में अव्वल आने के लिए सिंह राशि वाले आषाढ़ गुप्त नवरात्रि में महाकाली को तेजपत्ता अर्पित करें फिर उससे अपने किताब में रख दें। 

कन्या राशि:
कन्या राशि के जातक 6 लौंग महाकाली को अर्पित करके कपूर से जलाएं, यह उपाय करने से आप निरोगी बने रहेंगे।

तुला राशि:
अगर आप अपने जीवन में आने वाली परेशानियों से तंग आ चुके हैं तो आषाढ़ गुप्त नवरात्रि के दौरान महाकाली की पूजा करते समय उन्हें पीपल के पत्ते अवश्य चढ़ाएं।

वृश्चिक राशि:
वृश्चिक राशि के जातक आषाढ़ गुप्त नवरात्रि के दौरान महाकाली को नारियल अर्पित करें फिर उसे किसी गरीब या जरूरतमंद व्यक्ति को दान कर दें। ऐसा करने से महाकाली का आशीर्वाद आप पर बना रहेगा और आपके जीवन में धन से जुड़ी सभी समस्याएं दूर हो जाएंगी।

धनु राशि:
धनु राशि के जातक इन 9 दिनों में महाकाली की पूजा सच्ची श्रद्धा से करें और महाकाली पर जल चढ़ाने के बाद इस जल का छिड़काव अपने घर के हर एक जगह पर करें। ऐसा करने से आपके घर का वातावरण हमेशा शुद्ध रहेगा तथा घर के सदस्यों के बीच में प्यार बढ़ेगा।

मकर राशि:
मकर राशि वाले आषाढ़ गुप्त नवरात्रि में महाकाली को काजल अर्पित करें। उपाय से महाकाली प्रसन्न होंगी और आंखों से संबंधित सभी बीमारियां आपसे दूर रहेंगी।

कुंभ राशि:
आषाढ़ गुप्त नवरात्रि के दौरान कुंभ राशि वाले महाकाली की पूजा के दौरान सरसों के तेल का दीपक जलाएं। यह उपाय करने से महाकाली आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण करेंगी।

मीन राशि:
मीन राशि वाले जातक अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आषाढ़ गुप्त नवरात्रि के दौरान महाकाली को विभिन्न फल चढ़ाएं और गरीब बच्चों में बांट दें और जरूरतमंदों को दान कर दें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर