नीम करोली बाबा के इस कैंची धाम में खुल जाते हैं बंद किस्मत के ताले, स्टीव जॉब और जुकरबर्ग की भी बदली थी जिंदगी

धार्मिक स्‍थल
Updated Jul 29, 2019 | 15:29 IST | टाइम्स नाउ ब्यूरो

पूरी दुनिया में बाबा नीब करौरी का 108 आश्रम है। इन आश्रमों में कैंची धाम सबसे बड़ा है। बाबा के चमत्कारों को सुनकर दुनियाभर के लोग कैंची धाम जैसे पवित्र स्थल का दर्शन करने जरूर आते हैं।

Kainchai Dham ashram
Kainchai Dham ashram 

मुख्य बातें

  • कैंची धाम के नीब करौरी बाबा (नीम करौली) की लोकप्रियता पूरी दुनिया में है
  • कैंची धाम उत्तराखंड राज्य में नैनीताल से लगभग 65 किलोमीटर दूर स्थित है।
  • माना जाता है कि बाबा नीब करौरी गर्मी के दिनों में कैंची धाम आकर रहते थे

नई दिल्‍ली। Kainchai Dham ashram: आमतौर पर भारत में कई लोकप्रिय एवं पावन धार्मिक स्थल हैं जहां लोग अपनी मुरादें लेकर मत्था टेकने जाते हैं। इनमें से एक प्रसिद्ध स्थल कैंची धाम भी है। माना जाता है कि कैंची धाम जो भी व्यक्ति आता है वह खाली हाथ नहीं लौटता है।

यही कारण है कि यहां देश के साथ विदेशों में भी भारी संख्या में लोग आते हैं। कैंची धाम के नीब करौरी बाबा (नीम करौली) की लोकप्रियता पूरी दुनिया में है। बाबा नीब करौरी हनुमान जी के अनन्य भक्त थे। हनुमान जी की कड़ी उपासना करने के बाद उन्हें चमत्कारिक सिद्धियां प्राप्त हुई थीं। इस आर्टिकल में हम आपको कैंची धाम के महत्व और विशेषताओं के बारे में बताएंगे।


 

यहां स्थित है कैंची धाम
कैंची धाम उत्तराखंड राज्य में नैनीताल से लगभग 65 किलोमीटर दूर स्थित है। कैंची धाम के नीब करौरी बाबा (नीम करौली) की लोकप्रियता पूरी दुनिया में है। कहा जाता है कि वर्ष 1961 में बाबा नीब करौरी यहां पहली बार आए थे और उन्होंने 1964 में एक आश्रम का निर्माण कराया जिसे कैंची धाम के नाम से जाना जाता है।

बाबा नीब करौरी की अलौकिक शक्तियां
बाबा नीब करौरी हनुमान जी के अनन्य भक्त थे। हनुमान जी की कड़ी उपासना करने के बाद उन्हें चमत्कारिक सिद्धियां प्राप्त हुई थीं। यही कारण है कि कैंची धाम के लोग उन्हें हनुमान का अवतार मानते हैं। हालांकि बाबा नीब करौरी बहुत साधारण तरीके से रहते थे और किसी भी भक्त को अपना पांव नहीं छूने देते थे।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by(@guru_diaries_) on

विदेशी हस्तियां भी हैं बाबा के भक्त
बाबा नीब करौरी सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी अपने चमत्कार के कारण जाने जाते हैं। लोकप्रिय लेखक रिचर्ड अल्बर्ट ने मिरेकल ऑफ लव नाम से बाबा पर पुस्तक लिखी है। सिर्फ यही नहीं हॉलीवुड अभिनेत्री जूलिया राबर्ट्स, एप्पल के संस्थापक स्टीव जॉब्स और फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग सहित कई अन्य विदेशी हस्तियां भी बाबा के भक्त हैं।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by (@_anupam18_) on

बाबा को प्रिय था कैंची धाम
माना जाता है कि बाबा नीब करौरी गर्मी के दिनों में कैंची धाम आकर रहते थे। उन्हें यह स्थल बहुत प्रिय था। बाद में यहां हनुमान मंदिर का निर्माण कराया गया। हनुमान मंदिर में अन्य देवी देवताओं की मूर्तियों सहित बाबा नीब करौरी की भी विशाल मूर्ति है। पूरी दुनिया में बाबा नीब करौरी का 108 आश्रम है। इन आश्रमों में कैंची धाम सबसे बड़ा है।

बाबा के चमत्कारों को सुनकर दुनियाभर के लोग कैंची धाम जैसे पवित्र स्थल का दर्शन करने जरूर आते हैं। यहां आने वाला हर व्यक्ति हनुमान जी का दर्शन करके धन्य हो जाता है और झोली भरकर घर लौटता है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर