Navratri 2019: नवरात्रि के 9 दिन पहनें ये 9 रंग के कपड़े, चमक जाएगी किस्‍मत

अंक शास्‍त्र
Updated Sep 29, 2019 | 12:30 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

नवरात्रि मां के नौ अवतारों को समर्पित है। मां के विभिन्न स्वरूप के दिन यदि आप उनकी पंसद का भोग और फूल चढ़ाने के साथ उसी रंग का वस्त्र पहनें तो मां जल्दी प्रसन्न होती हैं।

Wear these colors on Navratri
Wear these colors on Navratri  

मुख्य बातें

  • नवरात्रि के नौ दिन पहने देवी के पसंदीदा रंग के वस्त्र
  • देवी दुर्गा के विभिन्न स्वरूप के नौ रंग होते हैं विशेष
  • देवी के पसंदीदा रंग के अनुसार उनका भोग, फूल और वस्त्र रखें

नवरात्रि का त्योहार देवी दुर्गा के नौ अवतारों के सम्मान के लिए होता है और हर दिन का अपना विशेष महत्व है। नवरात्रि बुराई पर देवी की जीत का जश्न का दिन होता है। त्योहार के इस प्रत्येक दिन एक अलग और शुभ रंग का होना भी बहुत मायने रखता है। मां दुर्गा के विभिन्न स्वरूपों के लिए अलग-अलग रंग तय हैं। भक्त मां के दिन के अनुसार यदि उन रंगों का भोग और उन्ही रंगों के फूल चढ़ाने के साथ स्वयं भी उनके प्रिय रंग के वस्त्र पहने तो मां प्रसन्न होती हैं। हर रंग मां के स्वरूप को व्यक्त करता है।

जानें कौन सा रंग किस मां के स्वरूप का प्रतिनिधित्व करता है।

दिन 1: पीला रंग

यह दिन मां शैलपुत्री को समर्पित होता है। मां प्रकृति का प्रतीक हैं और इस दिन के लिए विशेष रंग पीला होता है। यह रंग खुशी और उत्साह का प्रतीक है। इसलिए पीले वस्त्र, भोग और फूल का प्रयोग करना चाहिए।

दिन 2: हरा रंग

नवरात्रि का दूसरा दिन मां ब्रह्मचारिणी का होता है और ये दिन आध्यात्मिक ज्ञान के लिए समर्पित है। इस दिन व्यक्ति को हरा रंग पहनना चाहिए। मां अपनी शांत ऊर्जा के लिए जानी जाती हैं और वह मोक्ष का रास्ता प्रदान करती हैं।

दिन 3: ग्रे रंग

तीसरे दिन मां देवी चंद्रघंटा का होता है। देवी माथे पर अर्धचंद्र धारण करती हैं। शांति और समृद्धि प्रदान करने के लिए देवी को प्रसन्न करने के लिए इस दिन ग्रे रंग का प्रयोग करना चाहिए।

दिन 4: नारंगी रंग

चौथा दिन देवी कुष्मांडा को समर्पित है। चमक, खुशी और ऊर्जा का प्रतिनिधित्व करने वाली देवी को नारंगी रंग बेहद प्रिय है। इस दिन का रंग जुनून और शक्ति को दर्शाता है।

दिन 5: सफेद रंग

यह दिन देवी स्कंदमाता को समर्पित होता है। यह दिन शुद्धता का प्रतिनिधित्व करता है और इस दिन सफेद रंग का प्रयोग करना चाहिए। देवी मां भगवान कार्तिकेय की मां हैं, जिन्हें देवताओं ने राक्षसों के खिलाफ युद्ध में उनके सेनापति के रूप में चुना था।

दिन 6: लाल रंग

यह दिन देवी कात्यायनी को समर्पित है और मां का प्रिय रंग लाल है। इस दिन लाल रंग के परिधान, भोग और फूल का प्रयोग करना श्रेयस्कर होता है। देवी का यह स्वरूप मां दुर्गा की 6 छठवीं अभिव्यक्ति हैं। वह अनिष्ट शक्तियों को नष्ट करने वाली मानी जाती है।

दिन 7: गहरा नीला रंग

नवरात्रि का सातवां दिन मां कालरात्रि को समर्पित है, जिन्हें देवी दुर्गा का सबसे उग्र रूप माना जाता है। वह अपने भक्तों को शक्ति और शांति प्रदान करने के लिए जानी जाती हैं। देवी की अपार शक्ति को गहरे नीले रंग द्वारा दर्शाया गया है।

दिन 8: गुलाबी रंग

नवरात्रि का आठवां दिन देवी महागौरी को समर्पित है। इस दिन गुलाबी रंग पहनना चाहिए। मां की पूजा से अंतरात्मा शुद्ध होती है और आत्म-शोधन का अवसर मिलता है।

दिन 9: बैगनी रंग

नवरात्रि का अंतिम दिन देवी सिद्धिदात्री को समर्पित है। देवी ज्ञान का आशीर्वाद देती हैं। मां का प्रिय रंग बैंगनी है, जो आकांक्षा और शक्ति का प्रतिनिधित्व करता है। देवी मां को 26 विभिन्न कामनाओं का अधिकारी माना जाता है।

अगली खबर