अंक ज्योतिष के जरिये चुनें अपने घर के लिए सबसे बेहतर जगह

अंक शास्‍त्र
Updated Jul 20, 2019 | 21:06 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

अंक ज्योतिष केवल आपकी परेशानियों को ही नहीं बल्कि आपकी दुविधाओं को भी दूर करने में बेहद मददगार होता है। यदि आपको अपने घर के स्थान के चयन में दुविधा है तो मूलांक का सहारा लें।

Numerology
Numerology  |  तस्वीर साभार: Getty Images
मुख्य बातें
  • शहर के मूलांक से तय करें अपने लिए बेहतर घर
  • किस शहर में बसाएं आशियाना जानें मूलांक से
  • जन्मांक से जानें अपने लिए बेस्ट घर

 घर का सपना किसका नहीं होता। हर कोई चाहता है कि उसका घर आलशीन तो हो ही ऐसी जगह पर हो कि उसे वहां बरकत मिले। खूबसूरत जगह पर बना खूबसूरत घर हर किसी के लिए एक सपना होता है लेकिन कई बार यह समझ नहीं आता है कि जो दिख रहा है वाकई वह फलदायी साबित होगा। यानी घर का स्थान आपके घर की खुशियों को तय करते हैं। सही दिशा और स्थान पर बना घर आपके लिए फलदायी हो सकता है जबकि गलत दिशा या स्थापन पर बना मकान आपके जीवन में परेशानियों का कारण बन सकता है। 

घर ऐसी चीज है जिसे बार-बार नहीं लिया जा सकता और न ही बदला जा सकता है। इसलिए घर लेने से पहले हर तरह से आश्वस्थ होकर ही लेना चाहिए। ज्योतिष के हिसाब से घर लेना आप अपने मूलांक से तय कर सकते हैं। यानी आप अपने जन्म मूलांक से खुद तय कर सकते हैं कि कौन सा घर आपके लिए बेस्ट हो सकता है।

मूलांक बताता है घर कौन सा होगा शुभ
आपके लिए कौनसी जगह शुभ हो सकती है या कौन सा मकान नंबर शुभ है, मकान में कितने कमरे होने चाहिए अथवा मकान की दिशा आपके मूलांक के अनुसार कौन सी हो जो फलदायी हो यह सब आपका जन्म मूलांक तय कर सकता है। इसलिए मकान के स्थान का चयन अपने अंक ज्योतिष से करें।

अंक ज्योतिष से निकालें शहर का नाम
अंक ज्योतिष के अनुसार आपको अपने घर के स्थान का चयन अपने जन्म मूलांक से तय करना चाहिए। यानी आपका जन्म मूलांक अगर चार है तो आप अंग्रेजी वर्णमाला के चौथे वर्ण वाले स्थान का चयन कर सकते हैं। जैसे डी चौथा वर्ण है। यानी डी के नाम से जो भी शहर हों वहां आपका घर हो सकता है। साथ ही मूलांक चार के जो भी मित्र अंक हैं उनके वर्ण के अनुसार भी घर के स्थान का चयन किया जा सकता है। जैसे मूलांक एक के मित्र अंक 2-4-7 होते हैं तो इन अंकों की वर्णमाला के अनुसार चयन कर उस स्थान पर भी घर लिया जा सकता है।

शहर का मूलांक से तय करें स्थान
शहर का मूलांक निकाल कर भी आप अपने लिए घर के स्थान का चयन कर सकते हैं। जैसे अंग्रेजी वर्णमाला के अनुसार अगर हम दिल्ली का मूलांक निकालें तो इस प्रकार से निकाल सकते हैं। जैसे डी शब्द चौथे स्थान पर आता है तो उसका मूलांक चार हुआ और आई 12 वें नंबर पर। इसतरह दिल्ली के पूरे वर्णमाला का नंबर निकाले। डी (4) ई (5) एल (12) एच (8) आई (9) । यानी इन सब को जब जोड़ दिया जाएगा तो मूलांक दो निकलेगा। यदि आपका मूलांक भी दो है या आपके मूलांक साथी में दो नंबर आता है तो आपके लिए दिल्ली में घर बनाना शुभदायी होगा।

मूलांक से जाने मित्र अंक और शत्रु अंक

  • मूलांक 1 के मित्र अंक - 1,3,5,7,9 हें जबकि शत्रु अंक - 2,4,6,8 हैं।
  • मूलांक 2 के मित्र अंक - 2,4,6,9 हैं और शत्रु अंक - 1,3,5,7,8 है।
  • मूलांक 3 के मित्र अंक - 2,4,5,6,8,9 हैं जबकि शत्रु अंक -1,3,7 हैं।
  • मूलांक 4 के मित्र अंक - 2,4,5,6,8,9 हैं और शत्रु अंक -1,3,7 है।
  • मूलांक 5 के मित्र अंक - 1,3,4,5,7,8 हैं जबकि शत्रु अंक - 2,,6,9 हैं।
  • मूलांक 6 के मित्र अंक - 2,,4, 6,9 होते हैं और शत्रु अंक -1,3,5,7,8 है।
  • मूलांक 7 के मित्र अंक - 1,3,5,7,8,9 है जबकि शत्रु अंक - 2,4,6 हैं।
  • मूलांक 8 के मित्र अंक - 3,4,5,7,8 होते हें और शत्रु अंक - 1,2,6,9 हैं।
  • मूलांक 9 के मित्र अंक - 1,2,3,4,6,7,9 हैं और शत्रु अंक -5,8 माने जाते हैं।

तो अपनी दुविधा को खत्म कर आप खुद अपने जन्म मूलांक से अपने घर के लिए बेहतर स्थान का चयन कर सकते हैं।
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर