तुला संक्रांति 2021: सूर्यदेव का तुला राशि में गोचर, कुछ राशियों के लिए चुनौती-इन राशि का होगा भाग्योदय

आध्यात्म
सोमा रॉय
सोमा रॉय | PRINCIPAL CORRESPONDENT
Updated Oct 17, 2021 | 17:42 IST

Tula Sankranti effect on Zodiac Signs: आज तुला संक्रांति का पावन पर्व है। इस दिन सूर्यदेव कन्या राशि से तुला राशि में प्रवेश करते हैं। ऐसे में आइए जानते हैं तुला संक्रांति का महत्व तथा राशि परिवर्तन से किन राशियों की किस्मत चमकने वाली है।

Tula Sankranti effect on Zodiac Signs, Tula Sankranti 2021 date, Tula Sankranti 2021 kab hai
राशियों पर तुला संक्रांति का प्रभाव 
मुख्य बातें
  • सूर्यदेव को सभी ग्रहों का स्वामी कहा जाता है।
  • तुला राशि में सूर्य का गोचर आज यानि 17 अक्टूबर 2021, रविवार को दोपहर 1 बजे होगा।
  • इस दिन किसी पवित्र नदी में स्नान कर ब्राम्हणों को दान पुण्य करने से जातक की उम्र और आजीविका में होती है वृद्धि।

Tula Sankranti 2021: आज तुला संक्रांति का पावन पर्व है, इसे कार्तिक संक्रांति भी कहते हैं। सनातन धर्म में तुला संक्रांति का विशेष महत्व है। इस दिन सूर्यदेव कन्या राशि को छोड़कर तुला राशि में प्रवेश करते हैं। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार तुला संक्रांति के दिन तीर्थ स्नान, दान और सूर्य की पूजा अर्चना करने से जातक की उम्र और आजीविका में वृद्धि होती है। तथा सभी ग्रह दोष से मुक्ति मिलती है।

इस दिन धन की देवी महालक्ष्मी की पूजा का विधान है, मान्यता है कि इस दिन लक्ष्मी जी की पूजा अर्चना करने से धन की कमी नहीं होती और हमेशा पद प्रतिष्ठा की प्राप्ति होती है। हिंदू पंचांग के अनुसार तुला राशि में सूर्य का गोचर आज यानि 17 अक्टूबर 2021, रविवार को दोपहर 1 बजे होगा। तथा 16 नवंबर 2021, मंगलवार तक सूर्य तुला राशि में ही विराजमान रहेंगे।

बता दें सूर्यदेव को सभी ग्रहों का स्वामी कहा जाता है। ज्योतिषशास्त्र में राशि परिवर्तन को बेहद महत्वपूर्ण माना गया है। कहा जाता है कि राशि परिवर्त का अन्य राशियों पर भी असर पड़ता है। ऐसे में आइए जानते हैं तुला संक्रांति का महत्व तथा राशि परिवर्तन से किन राशियों की किस्मत चमकने वाली है और किसके लिए यह चुनौतीपूर्ण हो सकता है।

आज है तुला संक्रांति 2021:

हिंदू पंचांग के अनुसार आज यानि 17 अक्टूबर 2021, रविवार को तुला संक्रांति का पावन पर्व है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार 17 अक्टूबर 2021, रविवार को दोपहर 1 बजे सूर्यदेव तुला राशि में गोचर करेंगे। तथा 16 नवंबर 2021, मंगलवार तक सूर्य तुला राशि में विराजमान रहेंगे।

तुला संक्रांति का महत्व (Significance of Tula Sankranti):

सनातन हिंदू धर्म में तुला संक्रांति का विशेष महत्व है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन किसी पवित्र नदी में स्नान कर ब्राम्हणों को दान पुण्य करने से जातक की उम्र और आजीविका में वृद्धि होती है। इस दिन महालक्ष्मी और मां पार्वती की पूजा का भी विधान है। मां लक्ष्मी की पूजा अर्चना करने से कभी धन की कमी नहीं होती तथा धन प्राप्ति के मार्ग में वृद्धि होती है।
वहीं किसानों के लिए भी यह पर्व बेहद खास होता है। कर्नाटक और उड़ीसा में यह पर्व बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। यहां के स्थानीय लोगों द्वारा यह पर्व अकाल व सूखे को कम करने के लिए मनाया जाता है, ताकि उपज अच्छी हो और किसानों को अधिक लाभ प्राप्त हो सके।

किन राशियों की किस्मत चमकने वाली है?

सिंह राशि:

सिंह राशि के जातकों के लिए तुला संक्रांति का पर्व बेहद खास रहने वाला है। आने वाला 1 महीना आपके लिए काफी महत्वपूर्ण है। सूर्य के तुला राशि में प्रवेश करने से जातकों के साहस और पराक्रम में वृद्धि होगी। कार्यक्षेत्र में सहयोगियों का पूरा साथ मिलेगा। मान-सम्मान और पद प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी और लक्ष्य प्राप्ति के लिए अग्रसर होंगे तथा धन लाभ होगा व धन प्राप्ति के नए मार्ग खुलेंगे।

कन्या राशि:

कन्या राशि के जातकों के लिए भी आज से आने वाला महीना बेहद खास है। इस राशि के जातकों के यात्रा के योग बनेंगे, धन प्राप्ति के नए मार्ग खुलेंगे, शत्रुओं पर विजय की प्राप्ति होगी और दांपत्य जीवन खुशहाल व्यतीत होगा। तथा परिवार के सदस्यों में आपसी मनमुटाव दूर होगा और अच्छे संबंध स्थापित होंगे।

तुला राशि:

सूर्य का राशि परिवर्तन तुला राशि में हो रहा है। ऐसे में आने वाला महीना आपके लिए बेहद खास रहने वाला है। इस दौरान आपकी राशि पर सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ेगा। गोचर काल में आपको शुभ फल की प्राप्ति होगी, सभी गृह दोष से मुक्ति मिलेगी। तथा समाज में मान-सम्मान में वृद्धि होगी और पद प्रतिष्ठा की प्राप्ति होगी। साथ ही दांपत्य जीवन खुशहाल व्यतीत होगा।

वृश्चिक राशि:

इस राशि के जातकों का भी भाग्योदय होने वाला है। सूर्य के राशि परिवर्तन से आपको व्यापार में मुनाफा होगा, मानसिक तनाव कम होगा, नौकरी में पदोन्नति के योग बनेंगे और धन प्राप्ति के नए मार्ग खुलेंगे। तथा पारिवारिक जीवन सुखमय व्यतीत होगा।

इन राशि के जातकों के लिए सूर्य का गोचर हो सकता है चुनौतीपूर्ण:

धनु राशि:

धनु राशि के जातकों के लिए सूर्य का राशि परिवर्तन जीवन में कठिनाइयां ला सकता है। जातकों को परिवार में आपसी मनमुटाव का सामना करना पड़ सकता है, व्यापार में धन संबंधी भारी नुकसान हो सकता है और लक्ष्य प्राप्ति के लिए कठिन परिश्रम करना पड़ेगा।

मकर राशि:

सूर्य का राशि परिवर्तन आपके करियर और जॉब में नई बाधाएं उत्पन्न कर सकता है। इस दौरान महत्वपूर्ण कार्य करते समय काफी सावधानी बरतनी होगी। आलस आदि से दूर रहें, आलस से आपके जॉब में बाधा उत्पन्न हो सकती है। स्वास्थ्य का ध्यान रखें और नियमित तौर पर स्नान कर गायत्री मंत्र का पाठ करें।

कुंभ राशि:

कुंभ राशि के जातकों को इस दौरान कई तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। मन में नकारात्मक विचार आ सकते हैं, ज्यादा सोचने से डिप्रेशन के शिकार हो सकते हैं। सूर्य का राशि परिवर्तन आपके स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। ऐसे में अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें। तनाव और अवसाद की स्थिति ना बनने दें।

मीन राशि:

सूर्य के राशि परिवर्तन से इस राशि के जातकों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में अपने खर्चों पर लगाम लगाएं, आय से अधिक व्यय ना करें, नए कार्य की शुरुआत के लिए निवेश करने से बचें। तथा कर्ज लेने की स्थिति से बचें और अपने शत्रुओं पर विशेष ध्यान दें वह आपके कार्यक्षेत्र में नुकसान पहुंचाने का प्रयास कर सकते हैं।

Disclaimer: इस लेख में राशि से संबंधित दी गई जानकारी का हम पूर्णतया सत्य होने का दावा नहीं करते हैं। अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप अपने ज्योतिषाचार्य की मदद ले सकते हैं।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर