सोमवती अमावस्या पर श्रद्धालु हरिद्वार में नहीं कर सकेंगे गंगा स्नान, कोरोना वायरस के चलते लगा प्रतिबंध

Somvati Amavasya 2020: कोरोना वायरस के चलते इस साल श्रद्धालु हरिद्वार में गंगा स्नान नहीं कर सकेंगे। इस दौरान सभी घाटों को अमावस्या की पूर्व रात्रि पर ही बंद कर दिया जाएगा।

Somvati Amavasya 2020
Somvati Amavasya 2020 

मुख्य बातें

  • इस साल सोमवती अमावस्या पर गंगा स्नान नहीं कर सकेंगे श्रद्धालु
  • कोरोना वायरस के चलते गंगा हरिद्वार गंगा स्नान पर लगाई गई रोक
  • अमावस्या की पूर्वरात्रि ही सभी सीमाओं को बंद कर दिया जाएगा

कोरोना वायरस के मामले तेजी से देश में बढ़ रहे हैं। इसके मद्देनजर कांवड़ यात्रा रद्द किए जाने के बाद अब 19 और 20 जुलाई को पड़ने वाली सोमवती अमावस्या पर भी श्रद्धालु यहां गंगास्नान नहीं कर सकेंगे।

घाट पर स्नान करने पर लगा प्रतिबंध

हरिद्वार के जिलाधिकारी सी रविशंकर और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अबुदई ने यह जानकारी दी कि सोमवती अमावस्या पर जिले की सभी सीमाएं पूरी तरह सील रखे जाने की जानकारी दी। जिलाधिकारी ने बताया कि जिले की सभी सीमाओं को अमावस्या की पूर्वरात्रि पर ही बंद कर दिया जाएगा तथा इस दौरान बाहरी राज्यों से आने वालों पर पूरी तरह रोक लगी रहेगी। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार के यात्रियों या स्थानीय नागरिकों का इस दौरान गंगा घाटों पर स्नान पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा।

पुजारी भी करेंगे सोशल डिस्टेंसिंग

प्रतिबंध को लागू किए जाने को लेकर अधिकारियों को यह आदेश दिए गए हैं कि इन्हे लेकर किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए तथा इनका सख्ती से पालन हो। उन्होंने कहा कि अमावस्या पर स्थानीय मंदिरों में पुजारियों द्वारा सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) का पालन भी अनिवार्य रूप से करवाया जायेगा।

बता दें कि सोमवती अमावस्या के दिन विधि विधान से पूजा करने से पितृदोष दूर होता है। इसे हिंदू धर्म में बेहद शुभ माना जाता है। सोमवती अमावस्‍या सोमवार के द‍िन ही पड़ती है, इसलिए इस द‍िन व‍िवाह‍ित महिलाएं पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर