Vishnu Purana: विष्णु पुराण में इन चीजों को बेचना बनाता है पाप का भागीदार, भूलकर भी ना करें ये बिजनेस

आध्यात्म
Updated Dec 10, 2019 | 07:00 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

ऋषि पराशर (Rishi Parashar) का प्रणित विष्णु पुराण (Vishnu Purana), वैष्णव महापुराण है और इसमें कई चीजों को बेचने की मनाही है। इन चीजों को बेचना आपको पाप का भागी बना सकता है।

Vishnu Purana Fact Selling these things in this puran can make you a sinner
विष्णु पुराण।  |  तस्वीर साभार: Instagram

मुख्य बातें

  • गाय के दूध का बिजनेस नहीं करना चाहिए
  • गाय के घी को बेचना और खरीदना दोनों सही नहीं
  • महिला के गहने बुरे काम के लिए कभी नहीं बेचें

विष्णु पुराण, भगवान विष्णु और उनके समस्त अवतारों से जुड़ा पौराणिक ग्रंथ हैं। ऋषि पराशर के इस वैष्णव महापुराण में कहा जाता है जितनी भी बातें लिखी हैं वह कलयुग में सच साबित होती हैं। विष्णु पुराण में बहुत कुछ ऐसा लिखा है जो लोगों के वास्तविक जीवन को प्रभावित करता है। ऐसा कहा जाता है कि इसमें लिखी हर एक बात कलयुग में भी सही साबित होती है। विष्णु पुराण में कुछ चीजों का व्यवसाय करने की मनाही है। पुराण के अनुसार कुछ चीजों को बेचने से इंसान पाप का भागीदार बनता है। तो आइए जानें ये क्या चीजें हैं।

इन चीजों को बेचने का व्यवसाय न करें

  • किसी भी जरूरतमंद को चीजें बेचना पाप का भागीदार बना सकता है। इसलिए किसी असहाय या जरूरतमंद को कोई भी समान न बेचें।
  • हिंदू धर्म में गाय पूजनीय मानी गई है, इसलिए गाय का दूध आप सेवन कर सकते हैं, लेकिन इसका व्यवसाय न करें। भगवान विष्णु गाय का दूध बेचने वाले से नाराज होते हैं।
  • गाय का शुद्ध घी का आप दान करें या प्रयोग करें लेकिन उसे बिल्कुल भी बेचे नहीं। साथ ही गाय का घी खरीदना भी नहीं चाहिए।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

(@amritamaya5) on

  • पूजा के लिए लाल रंग के वस्त्र को बेचना बिलुकल सही नहीं होता। इसे बेचना पाप का भागीदार बनाता है, जबकि सफेद वस्त्र पूजा के लिए बेचा जा सकता है।
  • किसी महिला के गहने को किसी बुरे काम या शराब आदि के लिए बेचना भी पाप का भागी बनाता है।

तो विष्णु पुराण के अनुसार इन चीजों को बेचने से बचें, ताकि आप पाप के भागीदार न बन सकें।

अगली खबर