ये हैं साईंबाबा के 10 स्थान, जहां आपकी 10 तरह की मनोकामनाएं हो सकती हैं पूर्ण

holy places of Sai,Sai kripa: शिरडी वाले साईं बाबा के 10 स्थान ऐसे हैं, जहां भक्त अपनी मनोकामनाओं के लिए विशेष पूजा करते हैं। इन स्थानों पर पूजा से 10 आशीर्वाद मिलते हैं। तो आइए जानें की ये स्थान कौन से हैं।

10 holy places of Sai Baba, साईं बाबा के 10 पवित्र स्थान
10 holy places of Sai Baba, साईं बाबा के 10 पवित्र स्थान 

मुख्य बातें

  • मनोकामना पूर्ति के लिए साईं के मंदिर में बैठ कर करें प्रार्थना
  • साईं बाबा के मंदिर में 10 स्थान पर की जाती है प्रार्थना
  • साईं का दर्शन गुरवार के दिन करने से मिलता है विशेष पुण्लाभ

शिरडी के साई मंदिर की प्रसिद्धि दुनियाभर में और इसके पीछे कारण यही है कि यहां आने वाला कभी खाली हाथ नहीं लौटता। साईं बाबा के इस विशेष स्थान पर उनकी शक्ति और भक्ति दोनों ही नजर आती है। यहां यदि आप किसी विशेष मनोकामना के साथ आते हैं तो आपकी ये इच्छा आसानी से पूर्ण हो जाती है। मान्यता है कि यहां साई के 10 स्थान ऐसे हैं, जहां मनोकामना पूर्ति के लिए जरूर मत्था टेकना चाहिए।

ये 10 पवित्र स्थान 10 आशीवार्द के लिए जाने जाते हैं। आइए आपको बताएं कि ये 10 जगह कौन से हैं, जहां आप अपनी मनोकामना के लिए साईं से प्रार्थना कर सकते हैं।

शिरडी वाले साईं बाबा के इन पवित्र 10 स्थानों पर मिलता है 10 वरदान

  1. सुखी जीवन का वरदान : यदि आप सुखी जीवन वरदान चाहते हैं तो साईं बाबा के समाधि स्थल पर यजरूर आएं और यहां बाबा के चरणों में धूप, लोबान और अगरबत्ती जरूर जलाएं। यह काम आप यदि गुरुवार या शुक्रवार की शाम को करेंगे तो इसके पुण्यलाभ ज्यादा मिलेंगे।
  2. आर्थिक संकट से छुटकारे के लिए : धन संकट या संपत्ति विवाद से जूझ रहे तो आपको नंदादीप के पास लेंडीबाग में दीपदान जरूर करना चाहिए। यहां आप तेल या घी किसी भी चीज का दीपक जला सकते हैं। आपके धन से जुड़ी हर समस्या दूर हो जाएगी।
  3. तरक्की की आस है तो यहां आएं : यदि व्यापार या नौकरी में तरक्की नहीं मिल रही तो आप किसी भी दिन साईं के समाधि दर्शन करें और उसके बाद ग़रीबों को जरूरतमंद चीजों का दान कर भोजन खिलाएं। इससे आपकी तरक्की की राह आसान हो जाएगी।
  4. बीमारियों से मुक्ति के लिए : यदि आप या आपका परिवार बीमारियों से जूझता रहता है तो आपको साईं के प्रसादालय का प्रसाद ग्रहण करने भर से ही सारे रोग दूर हो जाएंगे। रोग मुक्ति के लिए आपको यहां गरीबों की मदद लिए भी दान करना चाहिए।
  5. शत्रु भय दूर करने के लिए : यदि शत्रुओं का प्रकोप या भय बढ़ गया है तो आपको साई बाबा की समाधि स्थल पर पूजा के बाद प्रार्थना करनी चाहिए। साईं के दर्शन के बाद हनुमान जी के मंदिर में जाकर कर उनके शरीर पर लगा सिंदूर अपने माथे पर लगा लें।
  6. अनजाने भय से मिलेगी मुक्ति : यदि मन में किसी प्रकार का भय हो या नकारात्मक शक्तियां हावी हों तो गुरुवार को रात 09:15 से रात 10 बजे के बीच होने वाला पालकी समारोह में शामिल हो कर भक्तों को  टॉफी या कोई मीठी चीज बांटें।
  7. सर्व मनोकामना पूर्ति के लिए : किसी भी तरह की मनोकामना की पूर्ति के लिए बाबा के धर्म ग्रंथ और साई साहित्य द्वारका माई में जाकर रात में पढ़ें और आरती की किताब भक्तों में बांटे।
  8. नौकरी पाने के लिए : यदि आपके पास नौकरी नहीं तो साईं मंदिर में बैठकर श्रीविष्णु सहस्त्र नाम का पाठ करें और साईं के समक्ष प्रार्थना करें।
  9. झूठे मुकदमे से मुक्ति के लिए : यदि आप पर किसी प्रकार झूठा मुकदमा या विवाद हो तो आप खंडोबा मंदिर में प्रार्थना करें। यहां खड़े बाबा का रुप बहुत मनोहारी है।
  10. शिरडी में मिलेगा हर समस्या का समाधान :शिरडी वाले साईं बाबा के शरण में आपको हर समस्या का सामधान मिल सकता है। इसके लिए साईं के समक्ष एक कागज में अपनी समस्या लिखें और उसे गुरु स्थान के सामने पढ़ें। साथ ही समस्या दूर होने पर दोबारा दर्शन का वादा करें। आपकी हर समस्या दूर हो जाएगी।

यदि आप शिरडी नहीं पहुंच पा रहे तो अपने शहर के किसी भी शिरडी मंदिर में जा कर साईं के चरणों में पीला फूल-फल और धूप-दीप जला कर प्रार्थना कर सकते हैं। आपकी आस पूरी हो जाएगी।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर