Sai Baba Prarthna : साईं बाबा की इस प्रार्थना से मन को मिलेगी असीम शांति, पूरी हो जाएगी हर मुराद

Sai Kripa, Sai Baba's hymn: मन में अशांति हो या किसी बात की चिंता तो गुरुवार के दिन साईं की प्रार्थना करने की आदत डाल लें। मानसिक शांति का इससे अच्छा उपाय और कुछ नहीं होगा।

Sai Baba Prarthna lyrics sai baba prayer in hindi sai baba prarthana mantra, साईं बाबा की प्रार्थना
Sai Baba Prarthna lyrics sai baba prayer in hindi sai baba prarthana mantra, साईं बाबा की प्रार्थना  

मुख्य बातें

  • साईं बाबा की प्रार्थना में मन की अशांति को दूर करने का दम है
  • साईं की पूजा या भजन हमेशा शांत मन से करना चाहिए
  • साईं का प्रिय प्रसाद भक्त के हाथों से बनी खिचड़ी होती हैं

गुरुवार का दिन साई बाबा को समर्पित होता है और इस दिन साईं को शुद्ध और निर्मल मन से याद करते हुए यदि आप आंख बंद कर उनकी प्रार्थना गा लें तो तय मानिए आंख खोलने के बाद आपकी सारी चिंता दूर हो जाएगी। बाबा अपने भक्तों के प्रेम के भूखे होते हैं और यही कारण है जब वह अपने भक्तों को किसी तनाव या चिंता में देखते हैं तो वह खुद परेशान हो जाते हैं। सच्चे और निर्मल मन से गुरुवार के दिन साईं के आगे धूप-दीप जला कर आप फूल भी चढ़ा दें तो साईं प्रसन्न हो जाते हैं। 

साईं को चढ़ांए उनका प्रिय प्रसाद

साईं बाबा का प्रिय प्रसाद खिचड़ी है। यदि गुरुवार के दिन आप साईं को ये प्रसाद चढ़ांए और गरीब बच्चों में बांटे तो निश्चित रूप से आपकी सारी ही मनोकामनाएं पूर्ण हो जाएंगी। 

Shirdi Sai Baba temple: Banks have no space to keep coins: Shirdi Sai Baba  temple CEO

प्रार्थना से पूर्व कर लें साईं के इन मंत्र को जाप / Sai Baba Pooja Mantra

साईं के इन मंत्रों में छुपा है आपकी हर समस्या का हल और मनोकामना पूर्ति का राज। गुरुवार के दिन ये मंत्र जाप आप सुबह या शाम कभी भी कर सकते हैं, लेकिन जब भी आप इस मंत्र जाप को करें, शांत भाव से करें। 

  1. ॐ शिर्डी वासाय विद्महे सच्चिदानंदाय धीमहि तन्नो साईं प्रचोदयात

  2. ॐ साईं गुरुवाय नम:

  3. ॐ शिर्डी देवाय नम:

  4. ॐ सर्वदेवाय रूपाय नम:

  5. ॐ अजर अमराय नम:

  6. ॐ सर्वज्ञा सर्व देवता स्वरूप अवताराriri

  7. ॐ साईं राम

  8. ॐ साईं देवाय नम:

अब करें साईं प्रार्थना - Sai Baba Prarthna / Prayer Lyrics in Hindi 

पल-पल जो रक्षा कें,सद रहें जो साथ।

सो हमरी रक्षा करें,समर्थ साई नाथ॥

जो निज तन में दिखलायें,राम,कृष्ण,हनुमान।

सो हमरी रक्षा करें,साईनाथ भगवान।।

जिनकी धूनी जले निरंतर,वर दे जिनके हाथ।

सो हमरी रक्षा करें,सद्गुरु साई नाथ॥

जिनकी जीवन लीला से मिलते निर्मल ज्ञान।

सो हमरी रक्षा करें,साई क़ृपानिधान॥

जो हैं शामा के सखा,म्हालसापति के नाथ।

सो हमरी रक्षा करें,सद् गुरु साई नाथ॥

रोग-शोक जो दूर करें,दें संकट को टाल।

सो हमरी रक्षा करें,दीनानाथ दयाल॥

जो बांटें उदी सदा,रक्ख़े सिर पे हाथ।

सो हमरी रक्षा करें,रहें सर्वदा साथ॥

जिनके चरणों में बसें सारे तीर्थ महान।


साई के भजन, प्रर्थाना या मंत्र को शाम के समय करना ज्यादा श्रेयस्कर होता है। साईं के समक्ष दीपक जला कर कोई भी पाठ करना चाहिए।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर