Nag Panchami Aarti: फलदायी मानी जाती है नाग पंचमी की आरती, देखें ह‍िंदी ल‍िर‍िक्‍स

Nag Panchami Aarti : नाग पंचमी श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है। शास्त्रों के अनुसार इस दिन नागों को दूध से अभिषेक करना सौभाग्य का बात माना जाता है।

Nag Panchami Aarti, Nag Panchami Aarti 2021, Nag Panchami Special Aarti, Nag Panchami ka Bhajan, Naag Devta Ki Aarti, Naag Devta Ka Bhajan, नाग पंचमी की आरती, नाग देवता का भजन, नाग पंचमी की स्पेशल आरती, नाग देवता का मधुर भजन
नाग पंचमी की स्पेशल आरती 

मुख्य बातें

  • नाग पंचमी हर साल श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी को मनाई जाती है
  • मान्यताओं के अनुसार इस दिन नाग देवता पर दूध चढ़ाने से उन्हे शीतलता प्राप्त होती है
  • नाग पंचमी के दिन नाग बाबा की आरती पढ़ने से शिव शंकर प्रसन्न होते हैं

Nag Panchami Aarti: भारत में नाग पंचमी हर साल श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती है। 2021 में नाग पंचमी 13 अगस्त को मनाई जाएगी। शास्त्रों के अनुसार इस दिन नाग देवता की पूजा करने से शिव शंकर प्रसन्न होकर व्यक्ति की सभी मनोकामना को शीघ्र पूर्ण कर देते हैं।

शास्त्र में नाग देवता को लक्ष्मी का स्वरूप माना जाता है। यदि आप अपने घर की विघ्न-बाधाओं को दूर कर धन की बारिश कराना चाहते हैं, तो नाग पंचमी के दिन ये विशेष आरती जरूर पढ़ें। यहां आप नाग देवता की विशेष आरती पढ़ सकते हैं। 

Nag Panchami Ki Aarti in hindi, नाग पंचमी की आरती

श्रीनागदेव आरती पंचमी की कीजै ।
  तन मन धन सब अर्पण कीजै ।
  नेत्र लाल भिरकुटी विशाला ।
 चले बिन पैर सुने बिन काना ।
 उनको अपना सर्वस्व दीजे।।

 पाताल लोक में तेरा वासा ।
 शंकर विघन विनायक नासा ।
 भगतों का सर्व कष्ट हर लिजै।।

 शीश मणि मुख विषम ज्वाला ।
   दुष्ट जनों का करे निवाला ।
भगत तेरो अमृत रस पिजे।।

वेद पुराण सब महिमा गावें ।
नारद शारद शीश निवावें ।
सावल सा से वर तुम दीजे।।

नोंवी के दिन ज्योत जगावे ।
खीर चूरमे का भोग लगावे ।
रामनिवास तन मन धन सब अर्पण कीजै ।
आरती श्री नागदेव जी कीजै ।।

नाग पंचमी की मान्‍यता 

मान्यताओं के अनुसार इस दिन नाग देवता को दूध से अभिषेक करने से शीतलता मिलती है। । शिव शंकर सर्प को अपने गले में हार के रूप में पहनते है। ऐसी मान्यता है, कि इस दिन सच्चे मन से व्यक्ति यदि नाग बाबा की पूजा अर्चना करें, तो नाग देवता के साथ शिव शंकर का आशीर्वाद हमेशा उस व्यक्ति के ऊपर बना रहता हैं।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर