Worship Rules: पूजा के दौरान ये गलतियां करना पड़ सकता है भारी, नाराज हो जाएंगे देवी-देवता

Worship Mistake: हिंदू धर्म में पूजा-पाठ का विशेष महत्व होता है। इससे जुड़े कुछ नियम भी होते हैं जिनका पालन करना जरूरी होता है। पूजा-पाठ के दौरान हुई गलतियों से देवी-देवता रुष्ट हो जाते हैं और मनोकामनाएं अधूरी रह जाती हैं।

Puja ke niyam
पूजा-पाठ में हुई गलतियों से पूरी नहीं होती मनोकामना 
मुख्य बातें
  • पूजा करने से पहले दीपक जलाना होता है अनिवार्य
  • हमेशा आसन में बैठकर करना चाहिए पूजा
  • पूजा-पाठ के दौरान हुई गलती से असफल रह जाती है पूजा

Puja Path ke Niyam: हिंदू धर्म से जुड़े सभी घरों में पूजा-पाठ किए जाते हैं। प्रतिदिन सुबह और शाम घर पर पूजा-पाठ किए जाते हैं। जिस घर पर प्रतिदिन पूजा-पाठ होते हैं वहां देवी-देवता वास करते हैं और उनकी कृपा घर पर बनी रहती है। लेकिन पूजा-पाठ से जुड़े कुछ विशेष नियम भी होते हैं, जिनका पालन करना जरूरी होता है। पूजा के दौरान हुई गलतियों से पूजा सफल नहीं मानी जाती और पूजा का फल प्राप्त नहीं होता। साथ ही भगवान भी नाराज हो जाते हैं। इसलिए हर व्यक्ति को पूजा पाठ से जुड़े नियमों के बारे में जानना जरूरी होता है। जानते हैं पूजा के दौरान किन चीजों में सावधानी बरतनी चाहिए जिससे कि गलतियां न हों।

शांत चित्त मन से करें पूजा

पूजा-पाठ करते समय अपना ध्यान इधर-उधर न भटकाएं। शांत और साफ मन से की गई पूजा ही सफल मानी जाती है। कुछ लोग पूजा-पाठ करते समय बार-बार मोबाइल फोन देखते हैं या बीच-बीच में इधर-उधर की बातें करते हैं। पूजा के दौरान ऐसा बिल्कुल न करें। इसे भगवान का अनादर होता है। यदि आप भी ऐसा करते हैं आज से ही इसे छोड़ दें। इस तरह से पूजा करने पर आपको पूजा का फल भी प्राप्त नहीं होता और न ही भगवान आपसे प्रसन्न होंगे।

Also Read: Navratri 2022 Colour: मां दुर्गा की पूजा में रंगों का है विशेष महत्व, दिन के हिसाब से पहनें अलग रंग के कपड़े

सबसे पहले करें गणपति की पूजा

भगवान गणेश को प्रथम पूज्य देव कहा जाता है। यानी शुभ व मांगलिक कार्य से लेकर किसी भी पूजा-पाठ में सबसे पहले उनकी पूजा करने का विधान है। यदि आप गणेश जी की पूजा नहीं करते इससे भी पूजा अधूरी मानी जाती है।

खाली जमीन पर न करें पूजा

कुछ लोग जमीन पर बैठकर पूजा करते हैं। हालांकि पूजा हमेशा बैठकर ही करनी चाहिए। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि खाली जमीन पर बैठकर पूजा न करें। हमेशा पूजा करने से पहले बैठने के लिए एक साफ आसन जरूर रखें। इन छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखकर पूजा करने से आपकी पूजा जरूर सफल होगी।

Also Read: Pitru Paksha 2022 : क्या आपके पितृ भी हैं आपसे नाराज? इन 5 अशुभ संकेतों से समझिए इशारा

जरूर जलाएं दीपक

किसी भी पूजा-पाठ में दीपक जरूर जलाना चाहिए। दीपक जलाए बिना पूजा अधूरी मानी जाती है। क्योंकि पूजा-पाठ में जलाया गया दीपक अग्नि का वह छोटा स्वरूप होता है जिसे देवशक्ति का प्रतीक माना गया है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि पूजा विधि में सबसे पहले दीपक जलाना चाहिए इसके बाद पूजा की अन्य विधियां करनी चाहिए।

(डिस्क्लेमर : यह पाठ्य सामग्री आम धारणाओं और इंटरनेट पर मौजूद सामग्री के आधार पर लिखी गई है। टाइम्स नाउ नवभारत इसकी पुष्टि नहीं करता है।)

देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | अध्यात्म (Spirituality News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर