Chandrayaan 2 को लेकर इसरो चीफ के सिवन ने दी ये खुशखबरी बताई ये बड़ी बात

साइंस
Updated Sep 26, 2019 | 15:06 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Chandrayaan 2: चंद्रयान-2 मिशन को लेकर इसरो ने ताजा अपडेट दिया है, इसरो चीफ ने बताया है कि चंद्रयान का ऑर्बिटर चंद्रमा पर अच्छे से काम कर रहा है 

Chandrayaan 2
चंद्रयान 2  

नई दिल्ली: इसरो (ISRO) के बेहद महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट चंद्रयान-2 (Chandrayaan 2) को लेकर पूरी दुनिया की निगाहें लगीं थीं, लेकिन अंतिम क्षणों में कुछ ऐसा हो गया कि विक्रम लैंडर का पता नहीं चल पा रहा है, ऐसे में इसरो ने इस मिशन को लेकर अब नया समाचार दिया है बताया जा रहा कि इस मिशन का अहम हिस्सा ऑर्बिटर (Orbiter) बढ़िया से काम कर रहा है। 

इसरो चीफ के सिवन ने बताया कि ऑर्बिटर काफी अच्छे से काम कर रहा है और सभी पेलोड संचालन शुरू हो गए हैं, यह बहुत अच्छा कर रहा है। हमें लैंडर से कोई संकेत नहीं मिला है लेकिन ऑर्बिटर बहुत अच्छा काम कर रहा है। 

 

 

उन्होंने आगे कहा कि हो सकता है कि जब समितियां रिपोर्ट सौंप दें तब भविष्य की योजना पर हम काम करें। आवश्यक अनुमोदन और अन्य प्रक्रियाओं की आवश्यकता होती है हम उस पर काम कर रहे हैं।

 

 

गौरतलब है कि सात सितंबर को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) का चंद्रयान-2 के विक्रम मॉड्यूल की चंद्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग कराने का प्रयास तय योजना के मुताबिक पूरा नहीं हो पाया था। लैंडर का आखिरी क्षण में जमीनी केंद्रों से संपर्क टूट गया था।

जिसके बाद आज तक इसरो अपने भरसक प्रयासों के बाद भी लैंडर से संपर्क नहीं साध पाया है। यहां तक कि अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने भी इस काम में इसरो की मदद करने का भरपूर कोशिश की लेकिन नासा के ऑर्बिटर भी लैंडर का पता लगाने में नाकाम रहा।

इसरो के चंद्रयान 2 मिशन को दुनिया भर में अंतरिक्ष एजेंसियों की तुलना में बेहद कम लागत पर तैयार किया गया है। इसरो का (चंद्रयान-2) 978 करोड़ रुपए की लागत से तैयार किया गया है। यह वास्तव में अन्य अंतरिक्ष एजेंसियों की तुलना में बेहद कम है।

 

अगली खबर