Ranchi Train Division: रांची मंडल की ट्रेनों के आरपीएफ जवान होंगे आधुनिक उपकरणों से लैस, कम होंगी दुर्घटनाएं

Ranchi Train Division: रांची रेल मंडल के यात्रियों के लिए बेहद अच्छी खबर है। अब यात्री इस रूट पर सुरक्षित यात्रा कर सकेंगे। ट्रेनों में आरपीएफ जवान आधुनिक उपकरणों से लैस रहेंगे।

Now the journey of trains will be safe in Ranchi Division
अब रांची मंडल में सुरक्षित होगा ट्रेनों का सफर (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • आरपीएफ की एस्कार्ट पार्टी बाडी वार्न कैमरा से रहेगी लैस
  • ट्रेन में चढ़ते ही एस्कार्ट पार्टी का कैमरा हो जाएगा चालू
  • गाड़ी में होने वाली घटना हो जाएगी रिकॉर्ड

Ranchi Train Division: रेल यात्रियों को सुरक्षित सफर करने की अब चिंता नहीं सताएगी। रांची रेल मंडल के आरपीएफ जवान अब हाईटेक बनेंगे। इनके पास अत्याधुनिक उपकरण होंगे। रेल अधिकारियों ने बताया कि, आरपीएफ की एस्कार्ट पार्टी बाडी वार्न कैमरे से लैस रहेगी। स्कार्ट पार्टी जब ट्रेन पर चढ़ेगी तो यह कैमरा चालू हो जाएगा। इस कैमरे में ट्रेन में होने वाली हर गतिविधि रिकॉर्ड होगी।  

बता दें, इस तरह की सेवा दूसरे राज्यों में काफी पहले से चालू है। इस कैमरे के जरिए आरपीएफ के जवानों पर भी नजर रहेगी। यह कैमरा आरपीएफ जवान के कंधे पर लगा होगा। आरपीएफ के पास आठ कैमरे हैं। और कैमरे की खरीदारी के लिए मुख्यालय के पास प्रस्ताव भेजा गया है। इन कैमरों में ऑडियो और वीडियो रिकॉर्डिंग होती है। 

ड्यूटी के दौरान ऑन रहेगा कैमरा

रेल अधिकारी ने बताया कि, आरपीएफ जवान ड्यूटी पर रहेगा तो उसे अनिवार्य रूप से इस कैमरे को ऑन रखना है। इसमें रिकॉर्ड डेटा अगले एक माह तक सुरक्षित रहेगा। इस बारे में रांची रेल मंडल आरपीएफ के सीनियर डीएससी प्रशांत यादव ने बताया कि, हमारी पहली प्राथमिकता यात्रियों की सुरक्षा है। यात्रियों की सुरक्षा के लिए आरपीएफ जवानों को बॉडी वार्न कैमरा दिया जाएगा। जल्द यह सेवा सभी एस्कार्ट पार्टी को मिलेगी। 

जानें इस कैमरे की खासियत

1. ट्रेन में यात्रियों की सुरक्षा की मॉनिटरिंग में कारगर। आपराधिक गतिविधियां होंगी रिकॉर्ड।
2. ट्रेन में यात्री आपस में लड़ेंगे तो उसकी भी मिलेगी जानकारी।
3. महिला यात्रियों से होने वाली छेड़खानी की घटनाओं में आएगी कमी।
4. आरपीएफ जवानों की भी मॉनिटरिंग होगी।
5. अवैध वेंडरों पर भी रखी जाएगी पैनी नजर।
6. बार-बार चेन पुलिंग के मामले भी कम होंगे।
7.महिला यात्री की सीट पर पुरुष यात्री के बैठने पर की जा सकेगी कार्रवाई।
8. कैमरे की रिकॉर्डिंग से यात्री के संज्ञान में रहने पर किसी तरह की बदमाशी नहीं होगी।
9. रेलवे कर्मचारियों द्वारा अवैध उगाही पर लग सकेगी लगाम।
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर