Ranchi Hospital: रांची के सदर अस्पताल में शुरू होगी सर्जरी से जुड़ी ये नई सुविधा, शहर के मरीज उठा सकेंगे लाभ

Sadar Hospital Ranchi: रांची के लोगों को सस्ता इलाज सदर अस्पताल में मिल सकेगा। पीडियाट्रिक सर्जरी और यूरोलॉजी सर्जरी की शुरूआत कुछ ही दिनों में होने जा रही है। इसके लेकर तैयारी पूरी हो गई है। इन रोगों की सर्जरी के लिए डॉक्टरों की भी नियुक्ति हो चुकी है।

Ranchi Sadar Hospital
रांची के सदर अस्पताल में होगी पीडियाट्रिक और यूरोलॉजी सर्जरी (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • सर्जरी के लिए डाक्टरों की टीम तैयार
  • लेप्रोस्कोपी सर्जरी के लिए डाक्टरों के पास होगी अपनी मशीन
  • गरीब तबके के लोगों को मिलेगा अब सदर अस्पताल में सस्ता इलाज

Ranchi Sadar Hospital News: रांची के लोगों के लिए अच्छी खबर है। अब रांची के सदर अस्पताल में दस दिनों के अंदर पीडियाट्रिक सर्जरी और यूरोलॉजी सर्जरी शुरू हो जाएगी। इसका समूचित लाभ रांची के सभी तबके के लोग ले सकेंगे। अस्पताल की ओर से जानकारी दी गई है कि डाक्टरों की टीम तैयार है। इसको लेकर चुनिंदा डाक्टरों की नियुक्ति की जा चुकी है।

एनिसथिसिया सेटअप भी पूरी तरह तैयार है, केवल सर्जरी के लिए मशीन चार से पांच दिनों के अंदर सदर अस्पताल को मिल जाएगी। उसके बाद यूरोलॉजी और लेप्रोस्कोपी सर्जरी भी शुरू हो जाएगी।

ऑपरेशन थियेटर किए जा रहे तैयार

सदर अस्पताल की ओर से जानकारी दी गई है कि, ओटी पूरी तरह से तैयार है, लेकिन इस ओटी में एक शिफ्ट में पहले यूरोलॉजी से संबधित ऑपरेशन किए जाएंगे। उसके बाद जनरल सर्जरी और पीडियाट्रिक सर्जरी के ऑपरेशन किए जाएंगे। सदर के छठे तल्ले में कई ऑपरेशन थियेटर तैयार किए जा रहे हैं। बता दें कि जब सदर अस्पताल का पूरा भवन प्रबंधन को हैंडओवर कर दिया जाएगा, तब सभी विभागों को अपने ओटी मिल जाएंगे।

गरीब मरीजों को मिलेगा लाभ

सदर अस्पताल में पीडियाट्रिक सर्जरी शुरू हो जाने से लोगों को बहुत राहत मिलेगी। बता दें कि वर्तमान में सदर अस्पताल मदर और चाइल्ड केयर यूनिट के तौर पर बड़े सेंटर के रूप में डेवलप हो रहा है। बड़ी संख्या में सदर अस्पताल में प्रसव हो रहा है। गाइनी से जुड़ी समस्याओं के निदान के लिए भी यह सेंटर लोगों का भरोसा बन रहा है। वहीं चाइल्ड केयर यूनिट में भी अत्याधुनिक सुविधाएं हैं। पर, पीडियाट्रिक सर्जरी की सुविधा नहीं होने के कारण रिम्स या किसी निजी अस्पतालों में जाना पड़ता है। पीडियाट्रिक सर्जरी के लिए भी डॉक्टरों की प्रतिनियुक्ति पहले से हो चुकी है। आर्थिक रूप से भी गरीब मरीजों को लाखों का बिल निजी अस्पतालों में चुकाना होता है। ऐसे में सदर में यह सुविधाएं शुरू हो जाने से लोगों को बहुत राहत मिलेगी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर