Pune PCMC: कर्मचारी अब नहीं कर सकेंगे कामचोरी, कर्मचारियों पर नजर रखेगा ये खास दस्‍ता, होगी कार्रवाई

Pune PCMC: पिंपरी-चिंचवड महानगरपालिका में कार्यरत कर्मचारियों पर नजर रखने और लापरवाही करते पाए जाने पर कार्रवाई करने के लिए एक सात सदस्‍यीय टीम का गठन किया गया है। यह टीम ऑडिट और वित्तीय मामलों में होने वाली अनियमितता की जांच करने के साथ कार्यालय में अनुशासनहीनता पर विराम लगाने का कार्य करेगी।

Pune PCMC
महानगरपालिका में कर्मचारियों पर नजर रखने के लिए टीम गठित   |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • लापरवाह कर्मचारियों पर नजर रखेगा यह खास दस्‍ता
  • लापरवाही पर दोषियों के खिलाफ होगी दंडात्मक कार्रवाई
  • ग्रुप सी और डी के कर्मचारियों पर सीधे कार्रवाई का अधिकार

Pune PCMC: पिंपरी-चिंचवड महानगरपालिका में कार्य करने वाले ऐसे कर्मचारियों की मुसीबत बढ़ने वाली है, जो कार्यालय समय के दौरान टाइमपास करते या फिर कामचोरी करते हैं। ऐसे कर्मचारियों पर नजर रखने और कार्रवाई करने के लिए सहायक आयुक्त के नियंत्रण में 7 सदस्यों के एक खास दस्‍ते का गठन किया गया है। यह दल कर्मचारियों पर नजर रखने के साथ दोषियों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की सिफारिश भी करेगी। इस संबंध में पिंपरी-चिंचवड महानगरपालिका के अपर आयुक्त विकास ढाकने ने आदेश जारी कर दिए हैं।

महानगरपालिका के इस खास दस्‍ते में सहायक आयुक्त प्रशासन वामन नेमाने के अलावा प्रभारी प्रशासनिक अधिकारी नंदकुमार यनपुरे, मुख्य लिपिक राकेश सौदे, बालासाहेब तुंगे, लिपिक समीर ठाकर, सत्यजीत मुंगी और सागर नेवाले को शामिल किया गया हैं। यह टीम ऑडिट और वित्तीय मामलों में होने वाली अनियमितता की जांच करने के साथ कार्यालय में अनुशासनहीनता पर विराम लगाने का कार्य करेगी।

इसलिए जांच दल गठन की जरूरत  

महानगरपालिक आयुक्‍त को लगातार शिकायत मिल रही थी कि कर्मचारी समय पर कार्य नहीं कर रहे। यहां आने वाले नागरिकों को छोटे-छोटे कार्य के लिए भी घंटो भटकना पड़ता है और कर्मचारी गप्‍पे मारते रहते हैं। जिसकी वजह से न तो कार्य में पारदर्शिता आ पा रही थी और न ही नागरिकों की शिकायतों का निवारण हो पा रहा था। गठित टीम अब इन कार्यों के साथ यह भी देखेगी कि निर्धारित समय के भीतर कार्यों को पूरा कैसे कराया जाए और कार्यालय के कार्य में त्रुटियां न हों। यह जांच दल महानगरपालिका के विभागों के पूर्ण, आंशिक निरीक्षण के साथ प्रशासन विभाग में प्रभावी नियंत्रण बनाने का कार्य करेगा।

कार्रवाई से पहले टीम प्रस्ताव प्रस्तुत करेगी

जांच दस्ते के अधिकारियों और कर्मचारियों को सहायक आयुक्त प्रशासन बालासाहेब खांडेकर को दैनिक कार्य रिपोर्ट और अतिरिक्त आयुक्त विकास ढाकने को साप्ताहिक रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी। जिसके बाद टीम प्रशासन के सहायक आयुक्त के माध्यम से अतिरिक्त आयुक्त, आयुक्त को अधिकारियों के कामकाज के संबंध में एक प्रस्ताव प्रस्तुत करेगी और समूह सी और डी में कर्मचारियों के संबंध में नोटिस भी देगी और स्पष्टीकरण मांगेगी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर