Patna Crime News: पटना में शर्मसार हुआ शिक्षा का मंदिर, टीचर ने प्रिंसिपल को कमरे में बंद करके पीटा, जानिए कारण

Patna Police: राजधानी में स्कूल में प्रधानाध्यापिका की पिटाई की गई है। प्रधानाध्यापिका को उनके स्कूल के शिक्षकों ने ही कमरे में बंद कर बुरी तरह पीटा है। छात्रों ने शोर मचाया तो आसपास के लोग इकट्ठा हुए और प्रधानाध्यापिका को बचाया। पीड़िता ने थाने में तीन शिक्षकों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई है।

Headmaster beaten up for asking a question in Patna
पटना में एक सवाल पूछने पर प्रधानाध्यापिका की पिटाई  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • बिक्रम प्रखंड के निसरपुरा बुनियादी विद्यालय की घटना
  • शिक्षकों से देर से आने का कारण पूछा तो कर डाली पिटाई
  • डीएम ने तीनों आरोपी शिक्षकों को निलंबित करने का दिया है आदेश

Patna Crime News: पटना के बिक्रम प्रखंड अंतर्गत निसरपुरा बुनियादी विद्यालय में शिक्षकों ने अमर्यादित काम कर डाला। प्रधानाध्यापिका ने देर से आए शिक्षकों से जब वजह पूछी तो तीन शिक्षकों ने मिलकर उनकी पिटाई कर डाली। प्रधानाध्यापिका को कमरे में बंद करके पीटता देखकर बच्चों ने शोर मचाना शुरू कर दिया, जिससे आसपास के लोग इकट्ठा हो गए। ग्रामीणों ने प्रधानाध्यापिका को कमरे से बाहर निकाला। 

प्रधानाध्यापिका शारदा कुमारी ने बिक्रम थाने में शिक्षिका रानी कुमारी, ऋतुराज और रूपा रानी के खिलाफ बंधक बनाकर मारपीट करने की प्राथमिकी दर्ज करवाई है। इधर, डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने तीनों आरोपी शिक्षकों को निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया है। मामले में दोषी पाए जाने पर शिक्षकों को बर्खास्त भी किया जा सकता है। 

पीटने वाली एक शिक्षिका स्कूल के प्रभार में भी नहीं

घटना के बाबत प्रधानाध्यापिका ने बताया कि शनिवार की सुबह नौ बजे वह विद्यालय पहुंची। काफी देर बाद शिक्षिका रानी कुमारी, ऋतुराज और रूपा रानी विद्यालय आए। उन्होंने विद्यालय में देर से आने का कारण पूछा तो तीनों उग्र हो गए। पकड़कर कमरे में लगे गए और जमकर पिटाई की। बच्चों ने शोर मचाकर ग्रामीणों को बुलाया तब मेरी जान मची। पीड़िता के मुताबिक आरोपी शिक्षिका रानी कुमारी विद्यालय के प्रभार में नहीं है। इसके बाद भी वह कार्यालय के जरूरी रजिस्टर अपने पास रखती है। अभी तक उनको प्रभार भी नहीं दिया है।  

अक्सर स्कूल से गायब रहते हैं तीनों शिक्षक

पीड़ित प्रधानाध्यापिका शारदा का कहना है कि उनके साथ पहले भी इन तीनों ने दुर्व्यवहार किया है। तब उन्होंने वरीय अधिकारी को जानकारी भी दी थी। बताया कि स्कूल में कक्षा एक से पांचवीं तक की पढ़ाई होती है। यहां 175 विद्यार्थी हैं। जबकि शिक्षक छह हैं। अक्सर शिक्षिका रानी कुमारी, ऋतुराज और रूपा रानी सुबह 11 बजे के बाद स्कूल आती हैं। 

बच्चों और रसोइया से की गई पूछताछ

मामले में बीडीओ प्रशांत कुमार एवं प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी राम विलास रमण ने जांच करते हुए बच्चों और रसोइया से पूछताछ की है। इसके बाद वे अपनी रिपोर्ट डीएम को सौंप देंगे। इधर, थानाध्यक्ष का कहना है कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पढ़िए Patna के सभी अपडेट Times Now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर