Patna : बिहार में बाढ़ का कहर जारी, 16 जिलों के 1165 पंचायतों में घुसा पानी

बिहार में बाढ़ की गंभीर स्थिति बनी हुई है। हालांकि कुछ नदियों के जलस्तर में कमी हुई है लेकिन गंगा के जलस्तर में वृद्घि देखी जा रही है। राज्य की अन्य नदियां भी कई क्षेत्रों में अभी भी लाल निशान से ऊपर है।

bihar flood
बिहार बाढ़ 

पटना : बिहार में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है। राहत की बात है कि कुछ नदियों के जलस्तर में कमी हुई है लेकिन गंगा के जलस्तर में वृद्घि देखी जा रही है। गंगा नदी कहलगांव के पास खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गई है। राज्य की अन्य नदियां भी कई क्षेत्रों में अभी भी लाल निशान से ऊपर है।

इधर, राज्य के 16 जिलों के 121 प्रखंडों में अभी भी बाढ़ का तांडव जारी है, जिससे अब तक 19 लोगों की मौत हो चुकी है। बिहार आपदा प्रबंधन विभाग ने राहत और बचाव कार्य जारी रहने का दावा किया है। इस बीच, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी बुधवार को दरभंगा और गोपालगंज बाढ़ग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया है।

बिहार राज्य जलसंसाधन विभाग के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि कोसी के जलस्तर में कमी का ट्रेंड बना हुआ है। वीरपुर बैराज के पास गुरुवार को सुबह छह बजे कोसी का जलस्तर 1.59 लाख क्यूसेक था जो आठ बजे घटकर 1.58 लाख क्यूसेक हो गया।

इधर, गंडक नदी का जलस्तर में मामूली वृद्घि हुई है। गंडक का जलस्राव बाल्मीकिनगरबैराज पर सुबह छह बजे 1.21 लाख क्यूसेक था जो आठ बजे बढ़कर 1.24 लाख क्यूसेक पहुंच गया है।

बागमती, बूढ़ी गंडक, कमला बलान, घाघरा तथा गंगा कई क्षेत्रों में खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्र डू ने बताया कि बिहार के 16 जिलों के कुल 121 प्रखंडों की 1़165 पंचायतें बाढ़ से प्रभावित हुई हैं। इन क्षेत्रों में करीब 66.60 लाख की आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है।

उन्होंने दावा करते हुए कहा कि इन इलाकों में 8 राहत शिविर खोले गए हैं, जहां 12 हजार से ज्यादा लोग रह रहे हैं। इसके अलावा, बाढ़ प्रभावित इलाकों में कुल 1,379 सामुदायिक रसोई घर चलाए जा रहे हैं, जिसमें प्रतिदिन करीब दस लाख लोग भोजन कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि बाढ़ के दौरान इलाकों में विभिन्न घटनाओं में 19 लोगों की मौत हुई है, इसमें सबसे अधिक सात लोगों की मौत दरभंगा जिले में हुई है। इस बीच 21 पालतू पशुओं की भी मौत हो गई है।

उन्होंने बताया कि सभी बाढ़ प्रभावित जिलों में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें राहत एवं बचाव का कार्य कर रही हैं। अब तक 4,80,884 लोगों को बाढ़ प्रभावित इलाकों से निकालकर सुरक्षित इलाकों में पहुंचाया गया है।

अपर सचिव ने बताया कि बाढ़ प्रभावित प्रत्येक परिवार को ग्रेच्युटी रिलीफ के अंतर्गत 6,000 रुपये की राशि दी जा रही है। अभी तक 3,75,547 परिवारों के बैंक खाते में कुल 225 करोड़ रूपये जीआर की राशि भेजी जा चुकी है। ऐसे परिवारों को एसएमएस के माध्यम से सूचित भी किया गया है।

इधर, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी बुधवार को बाढ़ प्रभावित दरभंगा और गोपालगंज जिले के बाढ़ग्रस्त इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया तथा दरभंगा के एक राहत केंद्र का जायजा लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कई निर्देश दिए।

Bihar Vidhan Sabha Chunav के सभी अपडेट Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर