Patna Cyber Fraud: आईबी का इंटरव्यू दे चुका युवक कर रहा था ठगी, लोगों को झांसे में लेकर 2.86 करोड़ ठगे

Cyber Crime in Patna: तेलंगाना पुलिस द्वारा पटना में गिरफ्तार किया गया साइबर ठग खुद तो बहुत पढ़ा-लिखा है ही, उसके गिरोह के अन्य सदस्य भी उच्च शिक्षित हैं। आरोपी खुफिया विभाग की नौकरी के लिए इंटरव्यू तक दे चुका है।

Educated youth doing cyber fraud in Patna
पटना में पढ़े-लिखे युवा कर रहे साइबर ठगी  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • नालंदा के कतरीसराय से तेलंगाना और पटना पुलिस कर रही आकाश से पूछताछ
  • आकाश की निशानदेही पर गया जिले के निवासी शशि और शुभम को किया गया गिरफ्तार
  • शशि ने इस साल जून महीने में दिल्ली में आईबी का इंटरव्यू दिया था

Patna News : कार कंपनी की एजेंसी दिलाने के नाम पर तेलंगाना के कारोबारी से ठगी करने वाले गिरोह के सदस्य अब पुलिस की पकड़ में आ गए हैं। तेलंगाना पुलिस द्वारा पटना में साइबर ठग आकाश को गिरफ्तार किया गया था। तेलंगाना और पटना पुलिस की पूछताछ में आकाश ने अपने गिरोह के अन्य सदस्यों की जानकारी दी है। इसके बाद दोनों शहरों की पुलिस ने संयुक्त छापेमारी कर गया जिले के निवासी शशि और शुभम को गिरफ्तार कर लिया है। 

वहीं शेखपुरा की रेखा भारती की बेंगलुरु से गिरफ्तारी हुई है। इन सबकी गिरफ्तारी के बाद बड़ी चौंकाने वाली बात सामने आई है। पुलिस ने जिस शशि को गिरफ्तार किया है, वह 20 जून 2022 को दिल्ली में इंटीलिजेंस ब्यूरो (आईबी) का इंटरव्यू दे चुका है। बता दें गिरोह का सरगना आकाश भी 2016 में जेईई मेंस क्वालिफाई कर चुका है। 

शातिरों पर कई राज्यों में दर्ज हैं साइबर ठगी के मामले

गिरोह का सरगना ने जेईई मेंस में कम पर्सेंटाइल होने की वजह से किसी कॉलेज में दाखिला नहीं लिया था। इसके बाद उसने साइबर ठगी की दुनिया में कदम रखा। उसने कार की डीलरशिप देने के नाम पर छह माह में 2.86 करोड़ रुपए की ठगी की। इस बारे में तेलंगाना पुलिस को तकनीकी सहयोग करने वाले साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट दीपक कुमार का कहना है कि गिरफ्तार चारों शातिर साइबर अपराधी हैं। इन पर कई राज्यों में साइबर ठगी के मामले दर्ज हैं। 

पिछले साल अगस्त में जमानत पर छूटे थे आकाश और शुभम

गिरफ्तार आकाश, शुभम और कौशलेंद्र को करोड़ों की ठगी के मामले में कटक पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इन लोगों ने पेट्रोल पंप देने के नाम पर कटक के व्यवसायियों से करोड़ों रुपए की ठगी की थी। इस केस में कटक की कोर्ट ने 17 अगस्त 2021 को इन तीनों को जमानत दी थी। जमानत देते समय कोर्ट ने कहा था कि अगर दोबारा इस तरह के अपराध में ये नामित होते हैं तो इनके बेल बॉन्ड को रद्द कर दिया जाएगा। अब तेलंगाना पुलिस इन शातिरों को बेल बॉन्ड भी रद्द करावएगी। 

पढ़िए Patna के सभी अपडेट Times Now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर