Cyber ​​Thug Caught in Patna: पटना में पकड़ा गया अब तक का सबसे बड़ा साइबर ठग, हर महीने की कमाई जानकर रह जाएंगे दंग

Patna Police: पटना शहर में एक बड़े साइबर ठग को पकड़ा गया है। शहर के पत्रकार नगर थाने की पुलिस की मदद से तेलंगाना की साइबरबाद थाना पुलिस ने ठग को दबोचा है। इसके पास लाखों रुपए, हीरे की चेन और तीन अंगूठी एवं अन्य चीजें बरामद हुईं हैं।

One who cheated crores of rupees every month caught in Patna
पटना में पकड़ा गया हर माह करोड़ रुपए ठगी करने वाला  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • हनुमान नगर स्थित एक मकान में छापेमारी कर पुलिस ने साइबर ठग को किया है गिरफ्तार
  • इसी गिरोह के एक सदस्य की दिल्ली में गिरफ्तारी के बाद पटना में छापेमारी हुई
  • तेलंगाना के कारोबारी चिलुका विजय कुमार ने कार की डीलरशिप दिलाने के नाम पर ठगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी

Patna Crime News: तेलंगाना की साइबराबाद थाना पुलिस ने पटना में छापेमारी कर एक बड़े शातिर साइबर ठग को गिरफ्तार किया है। इसके पास से पुलिस ने 33 लाख रुपए, हीरे की एक चेन, हीरे की तीन अंगूठी, 5 मोबाइल, पासबुक और अन्य दस्तावेज के साथ ही लड़कियों के कपड़े मिले हैं। दरअसल, तेलंगाना के कारोबारी चिलुका विजय कुमार को कार की डीलरशिप दिलाने के नाम पर 29 लाख रुपए की ठगी की गई थी।

इस पर विजय ने आकाश कुमार के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। इसकी जांच करते हुए तेलंगाना पुलिस ने इस गिरोह के एक सदस्य को दिल्ली में गिरफ्तार किया था। इसके बाद पटना के पत्रकार नगर पुलिस की मदद से हनुमान नगर स्थित एक मकान से साइबर ठग को दबोचा गया है। 

नालंदा के गंगापुर का रहने वाला है आरोपी आकाश

ठगी के शिकार विजय ने 16 जुलाई को तेलंगाना के साइबराबाद थाने में 488/22 कांड संख्या दर्ज करवाया था। आईपीसी की धारा 420 के अलावा आईटी एक्ट 66 की उपधारा सी और डी की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया था। विजय तेलंगाना के निजामपेट, साइबराबाद के वायु विहार के फ्लैट नंबर 201 में रहते हैं। वहीं, साइबर ठगी का आरोपी आकाश नालंदा के कतरीसराय थाने के गंगापुर का निवासी है। आकाश पिछले एक साल से पटना के हनुमान नगर स्थित एक किराए के मकान में रह रहा था। इसका किराया 15 हजार रुपए है। 

जेईई मेंस क्वालिफाई है आकाश

साइबर ठगी के मामले में गिरफ्तार आकाश जेईई मेंस क्वालिफाई है। इसका गिरोह देश भर में ठगी करता है। पटना में इसके सदस्यों की संख्या 10 से 15 है। इस बारे में थानेदार मनोरंजन भारती का कहना है कि, गिरोह के सभी सदस्य पढ़े-लिखे और टेक्नोक्रेट हैं। यह गिरोह लग्जरी कार की डीलरशिप, एजेंसी, फ्रेंचाइजी आदि देने के नाम पर हर महीने दो करोड़ रुपए की ठगी करता है। इस गिरोह की नजर तमाम कंपनियों की वेबसाइट पर रहती है। डीलरशिप, एजेंसी या फ्रेंचाइजी के लिए अप्लाई करने वालों का डिटेल ले लेते हैं। फिर कंपनी की वेबसाइट हैक कर हैंडल करने लगते हैं। 

पढ़िए Patna के सभी अपडेट Times Now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर