Noida Irani Gang Jewellary Thief: नोएडा पुलिस ने किया कुख्यात ईरानी गैंग का भंडाफोड़, एक आरोपी गिरफ्तार

Noida Irani Gang Jewellary Thief: यूपी के नोएडा में पुलिस ने ईरानी गैंग का भंडाफोड़ करते हुए मुख्य सरगना को हिरासत में ले लिया है। जबकि इसके दो साथी पुलिस को देखकर भाग निकले जिनकी तलाश की जा रही है।

Noida police busted irani gang arrested jewel thief
नोएडा पुलिस ने किया कुख्यात ईरानी गैंग का भंडाफोड़ 
मुख्य बातें
  • नोएडा पुलिस ने किया ईरानी गैंग का भंडाफोड़
  • देश के अलग-अलग राज्यों में कर चुके हैं चोरी
  • टप्पेबाजी से ज्वेलरी चुराकर भाग जाते हैं आरोपी

Noida Irani Gang Jewellary Thief: दिल्ली से सटे नोएडा में उत्तर प्रदेश पुलिस ने ज्वेलरी की दुकानों से चोरी करने वाले ईरानी गैंग का खुलासा किया है। पुलिस ने इस गैंग के एक सदस्य को गिरफ्तार किया है। गैंग ने बीते 14 जून को अट्टा मार्केट के एक ज्वेलरी शॉप से 20 लाख के आभूषण चोरी किए थे। गैंग के दो आरोपी अभी फरार हैं, जिनकी तलाश में पुलिस जुटी हुई। गिरफ्तार हुए चोर से भी पूछताछ की जा रही है। 

नोएडा के एडिशनल डीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि, बीते 14 जून को हुई चोरी के बाद पुलिस सीसीटीवी के आधार पर चोरों की तलाश में जुटी हुई थी। पुलिस को सूचना मिला था कि, ये गैंग दोबारा नोएडा सेक्टर 27 इंदिरा मार्केट में चोरी की घटना को अंजाम देने वाला है। जिसके बाद पुलिस ने जाल बिछाकर गैंग के सदस्य नजफ अली उर्फ ईरानी को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस को देखते ही दो आरोपी फरार

वहीं ईरानी का बेटा और गैंग सदस्य हैदर अली और एक अन्य साथी सरताज पुलिस को देख मौके से फरार हो गए, जिनकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है। आरोपी चोरी के लिए ऐसा इलाका ढूंढते हैं, जहां भीड़ भाड़ ज्यादा हो और चोरी के बाद आराम से भीड़ में घुसकर खुद को बचाया जा सके। यही कारण था कि, उन्होंने 3 दिन रेकी करने के बाद सेक्टर 27 अट्टा मार्केट में स्थित ज्वेलरी शॉप में बीते 14 जून को दुकान मालिक का ध्यान भ्रमित कर टप्पे बाजी करते हुए इन्होंने 20 लाख की चोरी की घटना को अंजाम दिया।

चोरी का सोना पिघला देते थे आरोपी 

चोरी करने के बाद यह गैंग सोने को पिघलाकर बिस्किट का रूप दे देते थे जिससे पकड़े जाने पर जेवर की पहचान ना हो सके। इनके कब्जे से सेक्टर 27 सट्टा मार्केट से चोरी 160 ग्राम गोल्ड बरामद हुआ है। कुल 380 ग्राम गोल्ड की चोरी हुई थी जिसमें से 160 ग्राम गोल्ड जिसे पिघलाकर बिस्किट बना दिया गया था, जो गिरफ्तार काले के जेब से बरामद हुआ है। पूछताछ में काले ने बताया है कि, बाकी का सोना उसके पुत्र हैदर अली और उसके साथी सरताज के पास है।

भोपाल बेस्ड है आरोपियों का ये गैंग

एडिशनल डीसीपी रणविजय सिंह ने आगे बताया कि, भोपाल बेस्ड ये ईरानी गैंग देशभर में इसी तरह की घटनाओं को अंजाम देते रहे हैं। काले के खिलाफ अलग-अलग राज्यों में टप्पेबाजी और चोरी के दो दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं। दिल्ली, महाराष्ट्र, यूपी, मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ से लेकर साउथ इंडिया तक चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे, फिलहाल इस गैंग के दो सदस्य जो अभी फरार है, उसकी तलाश में कई टीमें लगी हुई है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर