Noida: नोएडा में गर्मी की छुट्टियों में सुनहरी यादें लेने नाना के घर आया था बच्चा, हैवान ने कर डाली 'गंदी हरकत'

savagery in noida: नोएडा में फिर एक बच्चा हुआ हैवानियत का शिकार। गर्मी की छुट्टी में नाना के घर आए बच्चे के साथ हैवानियत की गई है। शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इधर इस घटना से बच्चा सदमे में है।

child abuse in noida
नोएडा में बच्चे से हैवानियत (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • नोएडा के सेक्टर 113 अंतर्गत परथला गांव की घटना
  • 12 साल के बच्चे से आरोपी ने की हैवानियत
  • घर के बाहर खेलने के लिए गया था बच्चा

sexual abuse: गर्मी की छुट्टी में नाना के घर आए बच्चे से पड़ोसी ने हैवानियत की। बच्चे ने परिजनों को जानकारी दी, जिसके आधार पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। घटना नोएडा की है। यहां सेक्टर 113 के अंतर्गत परथला गांव में 12 साल के बच्चे के साथ हैवानियत की गई। बच्चा घर के बाहर खेलने गया था, तभी आरोपी उसका मुंह दबाकर उसे झाड़ियों में ले गया और उसके साथ हैवानियत की। 

पुलिस को दी गई जानकारी के मुताबिक 12 वर्षीय बच्चा नाना के घर के पास खेल रहा था। तभी पड़ोसी का रहने वाला युवक आया और उसे उठा लिया। शोर मचाने पर उसने जोर से बच्चे का मुंह दबा दिया और झाड़ियों में लेकर चला गया। इसके बाद उस बच्चे के साथ हैवानियत की। 

बच्चे ने मामा को बताई आपबीती

अपर पुलिस उपायुक्त (जोन प्रथम) रणविजय सिंह का कहना है कि बच्चे ने अपने मामा को आपबीती बताई थी। इसके बाद मामा ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। अपर उपायुक्त ने घटना की रिपोर्ट दर्ज की और फिर आरोपी को गिरफ्तार किया गया। इसके बाद आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। 

पानी के प्लांट पर काम करता था आरोपी

अपर पुलिस आयुक्त के अनुसार पीड़ित बच्चा पानी के जिस प्लांट पर खेल रहा था, वहां आरोपी काम करता था। मौका देखकर उसने बच्चे के साथ हैवानियत की। इससे पहले आरोपी के खिलाफ किसी तरह की कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई थी। पुलिस ने गांव वालों से भी अपील की कि अपने बच्चों के साथ दोस्त बनकर रहे। उन्हें एकदम से शांत होने या गुमसुम होने पर उनसे बात करें। आशंका रहती है कि उनके साथ कुछ गलत हुआ हो, इसलिए बच्चों के गुमसुम होने पर नजरअंदाज नहीं करें। इसके साथ ही अपरिचित या किसी अन्य के साथ बच्चों को अकेला नहीं छोड़ें। बच्चों को गुड टच और बैड टच की भी जानकारी दें। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर