महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री कर्नाटक में गिरफ्तार, शहीद दिवस कार्यक्रम में बेलगावी पहुंचे थे राजेश पाटिल

कर्नाटक के बेलगावी में शहीद दिवस कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश पाटिल को गिरफ्तार कर लिया गया। संजय राउत ने कहा कि मैं कल जाऊंगा देखते हैं कौन रोकता है? 

Health Minister of Maharashtra arrested by Karnataka Police
Health Minister of Maharashtra arrested by Karnataka Police 

मुख्य बातें

  • महाराष्ट्र एकीकरण समिति द्वारा आयोजित शहीद दिवस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए बेलगावी महाराष्ट्र के मंत्री राजेश पाटिल
  • पुलिस और महाराष्ट्र एकीकरण समिति समर्थकों के बीच एक गरमा-गरम बहस के बाद गिरफ्तार में लिया गया
  • 1980 में महाराष्ट्र राज्य के साथ बेलगावी जिले के एकीकरण के लिए जान गंवाने वाले मराठी कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि देने के लिए महाराष्ट्र एकीकरण समिति हर साल शहीद दिवस मनाता है

मुंबई: महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश पाटिल को कर्नाटक पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जब वह एक कार्यक्रम के लिए बेलागवी की यात्रा कर रहे थे। मंत्री शुक्रवार को महाराष्ट्र एकीकरण समिति द्वारा आयोजित शहीद दिवस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए बेलगावी में हुतात्मा चौक पर पहुंचे थे तभी महाराष्ट्र में स्वास्थ्य राज्य मंत्री पाटिल को पुलिस और महाराष्ट्र एकीकरण समिति समर्थकों के बीच एक गरमा-गरम बहस के बाद गिरफ्तार में लिया गया। यह बहस तब शुरू हुई जब पुलिस ने मंत्री के काफिले को रोक दिया और उसे आगे बढ़ने की अनुमति नहीं दी।

गौर हो कि 1980 में महाराष्ट्र राज्य के साथ बेलगावी जिले के एकीकरण के लिए जान गंवाने वाले मराठी कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि देने के लिए महाराष्ट्र एकीकरण समिति हर साल शहीद दिवस मनाता है। शिवसेना नेता, जो आज बेलगावी का दौरा करने वाले हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पाटिल के साथ पुलिस ने हाथापाई की और कार्यक्रम को संबोधित करने से रोक दिया।

एएनआई के अनुसार संजय राउत ने मराठी में ट्वीट किया कि महाराष्ट्र के मंत्री राजेंद्र येद्रावकर के साथ कर्नाटक पुलिस ने हाथापाई की। उन्हें हुतात्मा को श्रद्धांजलि देने की अनुमति नहीं दी गई। क्या महाराष्ट्र बीजेपी भी कर्नाटक के इस आतंकवादी कृत्य की निंदा करेगी? मैं कल बेलगावी जा रहा हूं। देखते हैं क्या होता है।

पत्रकारों से बात करते हुए, शिवसेना नेता ने कहा कि मुझे पता चला है कि मुझे वहां प्रतिबंधित कर दिया गया है। हालांकि, मैं अभी भी वहां जाऊंगा। बेलगावी भारत में है। मैं एक सांसद हूं। मुझे वहां जाने का अधिकार है। यदि कोई मुझे रोकना चाहता है, तो मुझे कानूनन तरीके से रोको।

रिपोर्टों के मुताबिक कन्नड़ समर्थक नेताओं ने जिला प्रशासन और पुलिस से अनुरोध किया था कि महाराष्ट्र के किसी भी नेता को शहीद दिवस कार्यक्रम के लिए बेलगावी जाने की अनुमति न दें।

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर