Mumbai Barber Shops: मुंबई में खुलने लगे सैलून, दुकानदारों और ग्राहकों को बरतनी होगी बहुत सावधानी

Mumbai Barber Shops: मुंबई में नाई की दुकानें, ब्यूटी पार्लर और सैलून फिर से लंबे समय के बाद खुलने लगे हैं। हालांकि इस दौरान दुकानदारों और ग्राहकों को बहुत सावधानी बरतनी होगी।

Barber Shops
मुंबई में खुलने लगी नाई की दुकानें  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • अभी तक मुंबई में कोविड-19 के 72,287 मामले सामने आए हैं
  • अभी तक मुंबई में कोरोना वायरस से 4,177 लोगों की मौत हुई है

मुंबई: महाराष्ट्र सरकार ने आज से मुंबई में नाई की दुकानें और सैलून फिर से खोलने की अनुमति दे दी है। मार्च में लॉकडाउन लागू होने के बाद अब मुंबई में नाई की दुकान, ब्यूटी पार्लर और सैलून खोलने की अनुमति दी गई है। एक दुकान मालिक ने कहा, 'मैं सरकार को फिर से खोलने की अनुमति देने के लिए धन्यवाद देता हूं। हम हर उपकरण को उनके उपयोग से पहले साफ करते हैं। सैलून भी हर 2 घंटे में साफ किया जाता है।'

सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों का पालन करते हुए आज नागपुर में हेयर सैलून्स दोबारा खुल गए। सैलून कर्मचारी ने कहा, 'कल सलून को साफ किया गया था। सैलून में लोग अप्वॉइंटमेंट लेकर आ रहे हैं। यहां 'यूज एंड थ्रो' एप्रन का इस्तेमाल किया जा रहा है।' 

बिना अप्वॉइंटमेंट के सेवा नहीं

एक अन्य सैलून के मालिक शाहिद हुसैन ने कहा, 'हम ग्राहकों के तापमान की जांच करेंगे और जब वे हमारी दुकान में प्रवेश करेंगे तो उन्हें हैंड सैनिटाइजर दिया जाएगा। हम प्रत्येक ग्राहक के लिए एक नया तौलिया और बाल कटवाने की सीट का उपयोग करेंगे।' उन्होंने कहा कि यूज एंड थ्रो उत्पादों का उपयोग किया जाएगा। बिना अप्वॉइंटमेंट के किसी भी ग्राहक को सेवा नहीं दी जाएगी। हम केवल अधिकतम चार से पांच कर्मचारियों का उपयोग करेंगे। हेयर स्टाइलिस्ट मास्क और दस्ताने पहनेंगे और दूरी बनाए रखने की कोशिश करेंगे। 

करना होगा दिशा-निर्देशों का पालन

सरकारी अधिसूचना के अनुसार, पहले से अप्वॉइंटमेंट लेने वाले लोग ही ब्यूटी पार्लर या सैलून में सेवाएं ले सकते हैं। इसके अलावा, केवल चुनिंदा सेवाओं जैसे कि बाल कटवाने, थ्रेडिंग, रंगाई बाल आदि की अनुमति है। फिलहाल त्वचा से संबंधित सेवाएं देने की अनुमति नहीं है। इसे दुकानों में स्पष्ट रूप से प्रदर्शित किया जाना चाहिए। इसके अलावा कर्मचारी सुरक्षात्मक गियर में होने चाहिए, जिसमें एप्रन, दस्ताने और मास्क शामिल हैं। 

साथ ही हर सेवा के बाद सभी वर्कस्टेशनों के स्वच्छता को सुनिश्चित करना होगा। इसके अलावा, सभी सामान्य क्षेत्रों और फर्श को हर दो घंटे के बाद साफ किया जाना चाहिए।

अगली खबर