महाराष्ट्र पर एक और आफत की आहट, सीएम उद्धव ठाकरे की अपील दो दिन तक लोग घरों में रहें

cyclone nisarg and corona in maharashtra: कोरोना की वजह से महाराष्ट्र पहले ही परेशान है, अब दैवीय आपदा भी दस्तक देने के लिए तैयार है उसकी झलक मंगलवार को दिखाई दी।

Maharashtra पर एक और आफत ! सीएम उद्धव ठाकरे की अपील दो दिन तक लोग घरों में रहें
महाराष्ट्र पर चक्रवात निसर्ग का खतरा, सीएम उद्धव ठाकरे ने की अपील 

मुख्य बातें

  • मुंबई समेत तटीय इलाकों पर तूफान निसर्ग का खतरा
  • बुधवार को अलीबाग इलाके से गुजरेगा तूफान
  • 100 से 120 प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की आशंका

नई दिल्ली। महाराष्ट्र इस समय कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है। अब तक जो आंकड़े आए हैं वो डराने के लिए पर्याप्त हैं। हर एक दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या तादाद हजारों में है और मरने वालों की संख्या भी बढ़ी है। इसके बीच एक और आफत दस्तक देने के लिए तैयार है। मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवात निसर्ग करीब 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से अलीबाग इलाके में टकराएगा। निसर्ग की आहट से पहले मुंबई और तटीय इलाके बारिश से सराबोर हो गए हैं। सीएम उद्धव ठाकरे ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कम से कम दो दिन तक लोग घरों से बाहर न निकलें।

कोरोना के बाद सुपर साइक्लोन का खतरा
मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवात उत्तर और उत्तर पूर्व की तरफ बढ़ रहा है। यह महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात में हरिहरेश्वर और दमन के बीच से गुजरेगा। जिस समय तूफान तटीय भूमि पर दस्तक देगा उस समय उसरी रफ्तार 100 से 110 किमी प्रतिघंटे होगी। तूफान की रफ्तार 120 किमी प्रति घंटे तक जा सकती है। 

हालात से निपटने के लिए नेवी भी तैयार
हालांकि तूफान की आहट से पहले उसका असर मुंबई पर दिखाई दे रहा है। मुंबई के अलावा तटीय इलाकों में जबरदस्त बारिश हुई। इस समय तूफान गोवा की राजधानी पंजिम से 280 किमी और मुंबई से करीब 350 किमी दक्षिण पश्चिम में है। किसी भी तरह के हालात से निपटने के लिये वेस्टर्न कमांड की तरफ से हर संभव कोशिश की जा रही है। तूफान से पहले और उसके बाद किसी तरह की दिक्कत न हो इसके लिए फूड पैकेट्स लाइफ सेविंग बोट्स की तैनाती की जा रही है। नौसेना का कहना है कि तूफान के खतरे को देखते हुए सामान्य नागरिक प्रशासन को हर तरह की सहायता पहुंचाई जा रही है। 

इंडिगो ने बुधवार की 17 उड़ानों को कैंसिल किया
निसर्ग तूफान की आहट से इंडिगो ने बुधवार की 17 फ्लाइट्स को कैसिंल करने का फैसला किया है, सिर्फ तीन फ्लाइट्स ही उड़ान भरेंगी।
पालघर के डीसी का कहना है कि तटों पर रह रहे 21 हजार लोगों को शिफ्ट करने की जरूरत है। कोरोना को देखते हुए हर किसी को हैंड वॉश, सैनिटाइजर, मास्क का इंतजाम किया गया है। इसके साथ ही लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग पर अमल करने की अपील की गई है। 

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर