6 लाख से अधिक कोरोना टीकाकरण करने वाला पहला राज्य बना UP

सर्वाधिक कोरोना जांच के बाद अब टीकाकरण कराने में भी यूपी शीर्ष पर है। प्रदेश में कोविड पर लगाम लगाने में योगी सरकार की नीतियां कारगर साबित हुई हैं।

CM Yogi Adityanath
CM Yogi Adityanath 

मुख्य बातें

  • यूपी में 6.43 लाख स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को लग चुका है टीका
  • पांच फरवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्‍सीन लगनी शुरू
  • देश में सर्वाधिक जांच व टीकाकरण करने वाला प्रदेश बना यूपी

लखनऊ: सबसे अधिक आबादी वाले उत्‍तर प्रदेश में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के दिशा निर्देशानुसार गुरुवार को लगभग प्रदेश के 1 लाख से अधिक हेल्‍थ वर्कर्स का टीकाकरण किया गया। वहीं फ्रंट लाइन वर्कर्स के टीकाकरण अभियान की शुरूआत पांच फरवरी से हुई। प्रदेश में 25 मार्च तक हेल्‍थ केयर वर्कर्स व फ्रंट लाइन वर्कर्स की वैक्‍सीनेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

प्रदेश में अब तक 6.43 लाख स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को टीका लग चुका है और इसी के साथ इतने टीकाकरण वाला यूपी पहला राज्‍य देश भर में बन गया है। वहीं कोरोना जांच की जहां तक बात है तो प्रदेश में अब तक दो करोड़ 84 लाख 53 हजार 058 सैंपलों की जांच की जा चुकी है। इसके साथ ही 24 करोड़ की आबादी वाले प्रदेश में सर्विलांस टीमें 18 करोड़ आबादी तक पहुंच चुकी हैं। प्रदेश में सर्विलांस टीमें यूपी की 85 प्रतिशत आबादी तक पहुंच चुकी है जो अन्‍य देशों में सर्वाधिक है।

सबसे अधिक आबादी वाले उत्‍तर प्रदेश में 16 जनवरी को 22,643, जनवरी 22 को 1,01,006, जनवरी 28 को 1,71,198, जनवरी 29 को 1,68,834 और 04 फरवरी को 1एक लाख से अधिक टीके हेल्‍थ वर्कर्स को लगाए गए। बता दें कि प्रदेश में कोरोना फ्रंटलाइन वर्कर्स की संख्‍या लगभग 08 लाख है। प्रदेश में पांच फरवरी से फ्रंट लाइन वर्कर्स का कोविड टीकाकरण किया जाएगा। जिसके तहत पुलिसकर्मी, सेना के जवानों, होमगार्ड, सिविल डिफेंस, सफाई कर्मचारी, रेवन्‍यू डिपार्टमेंट के कर्मचारियों को टीका लगाया जाएगा। 25 मार्च के बाद 50 साल से ऊपर के लोगों का टीकाकरण अभियान शुरू किया जाएगा।  

कोविड के एक्टिव केस पांच हजार से कम
कोरोना के खिलाफ यूपी की रणनीति दूसरे प्रदेशों से ज्‍यादा सफल रही है। इसका ही परिणाम है कि अब प्रदेश में केवल 4,629 एक्टिव केस रह गए हैं। पिछले 24 घंटें में प्रदेश में केवल 169 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं वहीं 263 मरीज स्‍वस्‍थ्‍य होकर डिस्‍चार्ज किए जा चुके हैं। अब तक प्रदेश में दो करोड़ 82 लाख 11 हजार 469 सैंपल की जांच की जा चुकी है। कान्‍टेक्‍ट ट्रेसिंग और ‘सर्विलांस’ के जरिए कोरोना वायरस की चेन को तोड़ वायरस पर काबू पाने में अदभुत सफलता हासिल की है।

15 को स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को लगेगी दूसरी डोज
उत्‍तर प्रदेश में 15 फरवरी को स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को दूसरी डोज लगेगी वहीं छूटे हुए हेल्‍थ वर्करों के लिए 12 फरवरी को मॉपअप राउंड भी चलाया जाएगा। इसके साथ ही 11, 12, 18 व 19 फरवरी को फ्रंटलाइन वर्कर्स का कोविड टीकाकरण किया जाएगा।

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर