मुश्किल हालात का ऐसे करें सामना, लॉकडाउन में बचे हुए दिनों का इस तरह करें सदुउपयोग

देश में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है। बता दें कि लोग लॉकडाउन के खत्म होने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। ताकी वह अपने दोस्त और परिवार के लोगों से जाकर मिल सकें।

Tackle rest 12 days lockdown
Tackle rest 12 days lockdown  |  तस्वीर साभार: Representative Image

मुख्य बातें

  • लॉकडाउन के बचे हुए दिनों में कुछ प्रोडक्टिव करें।
  • परिवार और हॉबी के अलावा लिखें डायरी।
  • लॉकडाउन के इन दिनों में हर रोज कुछ नया करें।

कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए देशभर में 21 दिन का लॉकडाउन किया गया है। लेकिन यह फैसला काफी मुश्किल परिस्थिती आने पर लिया गया है। ऐसे में देश के नागरिको का फर्ज है कि वह सरकार के निर्देशों का पालन करें और खुद को इस वायरस के चपेट में आने से बचाए। हालांकि यह वक्त काफी मुश्किल है, लेकिन माहौल को पॉजिटिव बनाए रखना बेहद जरूरी है। ऐसे में लॉकडाउन के बचे हुए दिन में कुछ प्रोडक्टिव चीजे करें।

लॉकडाउन के कुछ दिनों में कई ऐसे लोग हैं, जिन्होंने नींद पूरी करने और फिल्म देखने में बिताया है। बता दें कि अभी भी लॉकडाउन खुलने में लगभग एक हफ्ता बाकी है, ऐसी स्थिति में खुद को व्यस्त रखने के लिए प्रोडक्टिव काम करें, इससे आप बोर नहीं होंगे। 

डायरी लिखें
फोन और लैपटॉप के जमाने में लोग डायरी लिखना भूल चुके हैं। डायरी लिखना कभी लोगों की हॉबी हुआ करती, जहां वो अपनी हर छोटी और बड़ी बातों को डायरी में लिखना पसंद करते थे। डायरी में दिल की बाते लिखना लोगों को पसंदीदा काम हुआ करता था। इस दौरान दिल की हर बात लिखते थे, जिसे वह कभी दोस्त और अपने परिवार से नहीं कह पाए। डायरी लिखना यानी खुद से बाते करना, जहां आप बिना किसी झिझक के वह सब कह जाते, जिसे हर किसी से छुपा रहे थे। ऐसे में मुश्किल हालात में बताएं, आप क्या महसूस कर रहे हैं। धीरे-धीरे ये आदत आपको अंदर से मजबूत बनाएगी।

परिवार के साथ बिताएं वक्त
कॉलेज, ऑफिस और सोशल मीडिया ने मानो परिवार से दूर कर दिया हो। ऐसे में लॉकडाउन के बचे दिनों को परिवार के साथ बिताएं। सोचे कि आप यही वक्त है, जहां आप परिवार के साथ बैठकर बात कर सकते हैं। बुरा समय के साथ अच्छा समय भी आता है, लेकिन यह मान कर चले कि बुरे वक्त में भी साथ मुस्कराना है। लॉकडाउन की इस स्थिति में अपने परिवार के हर एक पल को एन्जॉय करें, चाहे वो खाना खाने का वक्त हो या फिर मस्ती करने का। वहीं इस पल में किसी से शिकायत किए बिना आगे बढ़ें क्या पता ये वक्त मिले या न मिले।
 
कुछ नया सीखें
आज कल ऐसी कई चीजे दुनिया में होती है, जिसके बारे में हमें कोई जानकारी नहीं होती है। ऐसे में हालात में हर दिन कुछ नया सीखें और इस तरह आप समय का सदुपयोग कर पाएंगे। ध्यान रहे कि हर दिन और एक मिनट हमारे लिए अनमोल है। ऐसे में इसे इस्तेमाल करें, क्योंकि यह फिर लौट के नहीं आएगा। इन दिनों यूट्यूब के अलावा कई ऐसी वेबसाइट हैं, जहां हम बहुत कुछ सीख सकते हैं या फिर कुछ नया जान सकते हैं। 

हॉबी को करें पूरा
नौकरी और जिम्मेदारियों के बीच हम अक्सर वो भूल जाते हैं, जिसे हम दिल से करना चाहते थे। हर किसी की अपनी एक हॉबी होती है, जैसे पेटिंग, किताबे पढ़ना, घर सजाना, सिलाई आदि। इसके अलावा कई बार अपके अंदर एक टैलेंट भी छिपा होता है, लेकिन आपको उसका अंदाजा नहीं होता, ऐसे में इस वक्त में उसके बारे में सोचें। आज कल यूट्यूब और ऑनलाइन मीडिया के जरिए हम अपने टैलेंट को निखार सकते हैं। इस तरह आप अपने हॉबी को करियर बना सकते हैं।

पुराने दिनों को करें याद
कई बार घर की दीवारों पर ऐसी कई तस्वीरें टंगी होती है, जिन्हें रोजाना की दिनों में नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन माहौल को खुशनुमा बनाने के लिए सिर्फ उन तस्वीरों को ही नहीं बल्कि किसी कोने में पड़ी उस एल्बम को भी निकाले। जिसमें आपका बचपन छिपा हुआ है। पुरानी तस्वीरों को देखकर बीते दिनों याद करना बेहद सूकून भरा होता है। कॉलेज और स्कूल के दिनों की ऐसी कई बाते होंगी, जिन्हें आप सोचकर मुस्कुरा देते होंगे। उन तस्वीरों को देखकर उन पलों को याद करें। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर