क्या रात को सोने से ठीक पहले पानी पीने की आदत है सही? जानिए ऐसा करना चाहिए या नहीं 

Habit of drink water just before going to bed: ऐसे तो पानी पीने का कोई समय नहीं होता है। लेकिन कुछ वक्त ऐसे भी होते हैं जब पानी पीने से शरीर को नुकसान हो सकता है।

drinking Water
drinking Water 

मुख्य बातें

  • जल के बगैर धरती पर जीवन संभव नही है हर जीव को है जल की आवश्यक्ता
  • मानव शरीर का 60 से 70 प्रतिशत हिस्सा जल से बना होता है
  • खाने के सही समय के बारे में हमें बताया गया है कि लेकिन पानी पीने के लिए ऐसा कुछ नहीं कहा गया है

नई दिल्ली: जल ही जीवन है ये कहावत बेहद लोकप्रिय है। इस कहावत का मुख्य रूप से उपयोग जल संरक्षण के संदर्भ में किया जाता है। लेकिन कुछ तथ्य ऐसे हैं जिससे इस बात की पुष्टि होती है कि पानी के बगैर धरती पर जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती। जिस तरह धरती के तकरीबन 70 प्रतिशत भाग पर पानी है वैसे ही मानव शरीर में भी 60 से 70 प्रतिशत हिस्सेदारी पानी की है। पानी और मानव का संबंध बेहद आसान भी है और जटिल भी।

हमें हमेशा से बताया गया है कि हमें खाना सही समय पर खाना चाहिए। लेकिन पानी के बारे में इस तरह की कोई बात स्पष्ट रूप से कभी नहीं बताई गई कि कब कितना पानी पीना चाहिए और कौन सा वक्त पानी पीने के लिए सही है। हमें जब कभी प्यास लगती है हम अपने आप गिलास भर पानी पी लेते हैं। 

लेकिन हम अगर आपसे ऐसा कहें कि पानी पीने का भी सही समय होता है तो आपको आश्चर्य होगा। जी हां, कुछ समय ऐसा भी होता है जब आपको पानी पीने से परहेज करना चाहिए। रात को सोने से ठीक पहले व्यक्ति को पानी पीने से बचना चाहिए। ये एकलौता वक्त है जब आपको पानी नहीं पीना चाहिए। ऐसा नहीं करने के भी तार्किक कारण हैं। 

पानी: जीवन की आवश्यक्ता
धरती पर रहने वाले सभी जीवों के लिए पानी आवश्यक है। जल के बगैर धरती पर जीवन संभव नहीं है। मानव शरीर का 60 प्रतिशत हिस्सा पानी से बना है। यह शरीर की प्रत्येक कोशिका, टिशू और अंग में उपस्थित होता है। यह हमारे शरीर के तापमान को नियंत्रित करता है और जोड़ों को चिकना रखता है। पानी ही कोशिकाओं की वृद्धि में मदद करता है साथ ही अवशिष्ट और जहरीले तत्वों को शरीर से बाहर निकालता है। यदि आप दिन भर पर्याप्त मात्रा में पानी न पिएं तो आपको कमजोरी, सिरदर्द सहित अन्य परेशानियां महससू हो सकती हैं। 

क्यों रात को सोने से पहले पानी पीना नहीं है सही 
रात को सोने से ठीक पहले पानी पीने से आपके नींद का चक्र प्रभावित हो सकता है। ज्यादा पानी पीने के कारण आपको बार बार पेशाब करने के लिए उठना पड़ सकता है। सामान्य तौर पर रात में शरीर में कम मात्रा में पेशाब बनती है। जिसके कारण व्यक्ति शांतिपूर्वक पांच से सात घंटे सो पाता है। यदि आप सोने से पहले एक से दो गिलास पानी पी लेते हैं तो आपको रात में बार-बार पेशाब लगती है। ऐसे में नींद पूरी नहीं होने के कारण अलगे दिन सिरदर्द, चक्कर आने जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है। इसके साथ ही ब्लड प्रेशर बढ़ने और ध्यान केंद्रित नहीं होने जैसी समस्या की भी सामना करना पड़ता है। एक अध्ययन के मुताबित 45 साल की उम्र से ज्यादा का व्यक्ति यदि रात में छह घंटे से कम सोता है तो उसे स्ट्रोक होने की ज्यादा संभावना होती है। 

रात में पानी पीने के फायदे
रात को खाना खाने के कुछ देर बाद एक से दो गिलास पानी पीना आपके लिए कई तरह से फायदेमंद साबित हो सकता है। भारी खाना खाने के बाद गुनगुना पानी पीने से बेहतर और कुछ नही है। पानी नेचुरल क्लीनर के रूप में कार्य करता है और आपके शरीर से टॉक्सिन( जहरीले अवशिष्ट पदार्थों) को बाहर निकालने में मदद करता है। ये पाचनक्रिया को तेज करता है और कुपच नहीं होने देता। 

कौन सा समय है पानी पीने के लिए सही
सही मात्रा में पानी पीना हमेशा अच्छा होता है लेकिन जरूरत से ज्यादा पानी पीने से नुकसान भी हो सकता है। दिन भर में कम से कम दो लीटर पानी पीने की कोशिश करना चाहिए। जहां तक सही समय की बात है तो सोने से 30 मिनट पहले पानी पीना चाहिए। ऐसा करने से आपको सही तरह से नींद आएगी। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर