Monsoon ke side effect: बरसात में फुंसियों व मुंहासे से कैसे अपने आप को बचाएं, ये तरीके आएंगे बेहद काम

Skin care in Monsoon: मॉनसून की पहली बारिश ने चिलचिलाती गर्मी से राहत दे दी है। लेकिन मॉनसून अपने साथ कई साइड इफेक्ट भी लेकर आता है जिसका नुकसान हमारे स्वास्थ्य को उठाना पड़ता है।

skin care in monsoon
मॉनसून में स्किन केयर (Source: Pixabay) 

मुख्य बातें

  • मॉनसून की पहली बारिश ने चिलचिलाती गर्मी से दे दी है राहत
  • मॉनसून की बारिश हमारे स्वास्थ्य व स्किन के लिए नुकसानदेह हो सकती है
  • मॉनसून में स्किन की केयर करने के लिए खास तौर पर ध्यान देने की जरूरत होती है

चिलचिलाती गर्मी के बाद मॉनसून की पहली बारिश ऐसे राहत देती है जैसे प्यासे को पानी। हालांकि एक तरफ ये गर्मी से राहत देते हैं तो दूसरी तरफ अपने साथ नमी भी लेकर आते हैं जिससे बैक्टीरिया के तेजी से पनपने का खतरा रहता है। हवा में नमी के कारण पनप रहे बैक्टीरिया का हमारे त्वचा पर भी बुरा असर पड़ता है। बैक्टीरिया के संपर्क में आने से त्वचा में मुंहासे, फुंसियां व ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स होने लगते हैं।

यहां हम आपको आज इसी से बचाव के तरीके बताने जा रहे हैं ताकि मॉनसून के शुरू होने के पहले ही आप इससे सावधानी बरतना सीख जाएं।
टीनेजर्स में चेहरे पर फोड़े फुंसियां होना बेहद आम बात है। बरसात के मौसम में इसका खतरा और भी बढ़ जाता है। इससे बचने के कुछ बेहद कारगर उपाय हैं जिन्हें अपनाकर आप बारिश के इन साइड इफेक्ट से खुद को बचा सकते हैं-

क्लींजर

माथे पर, गर्दन पर, जॉ लाइन पर और गालों पर खास तौर पर फुंसियां होते हैं। ये जगह एक्ने प्रोन एरिया कहलाते हैं। इन जगहों को बराबर क्लींजिंग करते रहें ताकि वहां से बैक्टीरिया का भी सफाया होता रहे और त्वचा के पोर्स की भी अंदर तक सफाई होती रहे। माइल्ड सोप फ्री क्लींजर का दिन में कम से कम दो बार इस्तेमाल करें। ऑइली स्किन को ध्यान में रखते हुए उसी हिसाब से क्लींजर का चुनाव करें।

टोनर

स्किन पर से धूल और गंदगी हटाने के लिए टोनर का इस्तेमाल करें। त्वचा के पोर्स में जमे हुए ऑइल और धूल को हटाने का काम करता है टोनर। अगर आप मार्केट में उपलब्ध टोनर का इस्तेमाल नहीं करना चाहती हैं तो आप घर पर ही इसे बना सकते हैं। इसके लिए ग्रीन टी, नींबू का जूस, रोज वॉटर, ककड़ी का जूस को मिलाकर टोनर तैयार कर सकते हैं। ये टोनर ऑल टाइप स्किन के लिए फायदेमंद होता है।  

करें मॉइश्चराइज

बरसात के मौसम में हालांकि आपकी त्वचा नम ही रहती है पर फिर भी आपको इस मौसम में अपने स्किन को मॉइश्चराइज करना नहीं भूलना चाहिए। मॉइश्चराइजर आपकी स्किन को हाइड्रेटेड रखता है। लाइट वेट के मॉइश्चराइजर का चुनाव करें जिसमें सनफ्लॉर की मात्रा हो। ये आपकी स्किन के लिए बेस्ट होता है। ये ड्राई स्किन को सही करता है।

भरपूर पानी पीएं

मॉनसून में गर्मी और ठंड के मुकाबले पानी ज्यादा मात्रा में पीना चाहिए। हालांकि आप गर्मी में जैसे पानी पीने की इच्छा महसूस करते हैं उस तरह आपको मॉनसून में पानी पीने की इच्छा महसूस नहीं होगी लेकिन पानी नहीं पीने से त्वचा में कई तरह की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है इसलिए पानी पीने से परहेद ना करें ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं। ज्यादा से ज्यादा पानी पीने से त्वचा के आधे रोग यूं ही खत्म हो जाते हैं।

अच्छा डाइट लें और एक्सरसाइज

मॉनसून के मौसम में खाने को लेकर आम तौर पर लोग लापरवाही बरतते हैं जिसका खामियाजा ना सिर्फ हमारे स्वास्थ्य को भुगतना पड़ता है बल्कि त्वचा पर भी इसका काफी नुकसान होता है। इसलिए बरसात के मौसम में हमेशा स्वच्छ और हेल्दी भोजन ही करें। इसके साथ ही साथ एक्सरसाइज भी करते रहें।

अगली खबर