क्‍या लाख कोश‍िशों के बाद भी ब‍िखर रहा है आपका र‍िश्‍ता, राश‍ि में छिपी हो सकती है इसकी वजह

rashi ke anusar rishta : भारतीय समाज में ज्योतिष शास्त्र और राशियों को काफी ज्यादा माना जाता है। इसलिए हमारे यहां विवाह से पहले कुंडली मिलाई जाती है। जानें इसकी वजह।

Know which zodiac pairs do not match at all in terms of marriage rashi ke anusar rishta
Rashi ke anusar risha, राश‍ि के अनुसार र‍िश्‍ता   |  तस्वीर साभार: Shutterstock

मुख्य बातें

  • एक दूसरे से प्रेम करने के अलावा इन दोनों राशियों में और कुछ भी सामान्य नहीं होता है
  • कुंभ राशि के लोग हमेशा अपने आप को स्वतंत्र रखना चाहते
  • सिंह और वृश्चिक राशियों के गुण आपस में समान होते हैं

जब आप किसी से प्रेम करते हैं तब उस रिश्ते की नींव आप राशि के अनुसार नहीं रखते बल्कि अपने प्रेम के आधार पर रखते हैं। हालाँकि राशि आपको अपने व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ बता सकता है जिससे आपको यह समझ आ सकता है कि आपके पार्टनर के गुणों के साथ आपके गुण मैच करते हैं या नहीं। इससे आप भविष्य में आने वाली तमाम समस्याओं से निपटने के लिए हमेशा तैयार रहेंगे।

आइए जानते हैं कुछ ऐसी ही जोड़ियों के बारे में जिनका जल्दी आपस में मेल नहीं होता।

मेष और वृषभ

एक दूसरे से प्रेम करने के अलावा इन दोनों राशियों में और कुछ भी सामान्य नहीं होता है। जहां मेष एनर्जेटिक और तेजतर्रार व्यक्तित्व का स्वामी होता है वही वृषभ थोड़ा स्लो और अपने में आराम से जीवन जीने वाला व्यक्ति होता है। हालांकि कुछ वक्त बाद अगर इन दोनों ने आपस में सामंजस्य बना लिया तो इनका रिश्ता दूर तक निभता है।

मीन और मिथुन

मीन और मिथुन दोनों राशियों के लोग किसी भी भावना को अलग-अलग तरह से देखते हैं। जहां मीन संवेदनशील होता है और भावनाओं के बारे में सोचता है वही मिथुन इन सब चीजों पर ध्यान नहीं देता। अगर इन दोनों राशियों के लोग एक साथ रहे तो उन्हें भविष्य में तकलीफ हो सकती है।

कर्क और धनु

कर्क और धनु राशि के व्यक्तित्वों के जीवन जीने और उसे देखने का नजरिया आपस में बिल्कुल अलग होता है। जहां कर्क राशि वाले बेहद कंजूस और अपने सहयोगियों पर निर्भर हो सकते हैं, वही धनु राशि वाला इससे कोसों दूर खुलकर जीवन जीने वाला और अपने दम पर जीने वाला व्यक्ति होता है।

सिंह और वृश्चिक

सिंह और वृश्चिक राशियों के गुण आपस में समान होते हैं यही कारण होता है कि इनके बीच हमेशा टकराव बनी रहती है। क्योंकि यह दोनों ही अपने आप को सबसे श्रेष्ठ समझते हैं, इसलिए इन दोनों राशियों को एक साथ नहीं रहना चाहिए।

वृषभ और धनु

धनु राशि के लोग साहसी होते हैं तथा हमेशा कुछ नया करने की उनमें ललक रहती है। दूसरी ओर वृषभ राशि के लोग बेहद आलसी और सुस्त प्राणी होते हैं, इसलिए इन दोनों राशियों में आपस में जल्दी नहीं बनती।

कुंभ और कर्क

कुंभ राशि के लोग हमेशा अपने आप को स्वतंत्र रखना चाहते हैं भले ही किसी रिश्ते में कितनी गहराई तक हो लेकिन अगर उन्हें लगता है कि उनकी आजादी पर खतरा है तो वह उस रिश्ते से निकल जाएंगे। वही कर्क राशि बेहद इमोशनल और रिश्तो को संजो कर रखने वाला होता है। इस वजह से यह दोनों राशि का एक दूसरे से बिल्कुल ही विपरीत हैं।

कन्या और मिथुन

इनके रिश्ते की शुरुआत तो अच्छी हो सकती है पर धीरे-धीरे यह दोनों लोग अलग होते जाते हैं। उसका कारण यह है कि दोनों की राशियों का व्यक्तित्व एक दूसरे से बिल्कुल विपरीत होता है। जिसमें मिथुन राशि हंसमुख पर जीवन को आनंद से जीने वाला होता है, वहीं कन्या राशि बेहद स्ट्रिक्ट और डिसीप्लिन से भरी जिंदगी जीना पसंद करता है।

मकर और सिंह

सिंह राशि के लोग बेहद भावुक और बुद्धिमान होते हैं, वहीं मकर राशि के लोग बहुत व्यावहारिक होते हैं। जिस वजह से शुरुआत में इनके रिश्ते अच्छे होते हैं लेकिन धीरे-धीरे सिंह राशि मकर राशि पर हावी होना चाहता है जिस वजह से उनके रिश्ते में दूरियां बढ़ने लगती हैं और या अलग हो जाते हैं
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर