Happy Father's Day 2022 Hindi Shayari, Wishes: शानदार शायरियां बयां करती हैं पिता का महत्व, फादर्स डे पर पापा को भेजें बधाई

Happy Father's Day 2022 Wishes Hindi Shayari, Images, Messages: फादर्स डे यानी पिता दिवस जून के तीसरे रविवार को मनाया जाता है और इस बार यह 19 जून को मनाया जा रहा है। आप इस मौके पर पिता के प्रति आदर और प्यार को समर्पित शुभकामना संदेश भेज सकते हैं।

Father's Day, Father's Day 2022, happy Father's Day, happy Father's Day, Father's Day shayari in hindi, Father's Day wishes shayari in hindi, happy Father's Day shayari in hindi, happy Father's Day shayari in hindi, happy Father's Day wishes shayari
Father's Day shayari in hindi,फादर्स डे की शायरी 
मुख्य बातें
  • फादर्स डे यानी पिता दिवस हर साल जून महीने के तीसरे रविवार को मनाया जाता है
  • इस साल यानी 2022 में फादर्स डे 19 जून को मनाया जा रहा है।
  • फादर्स डे के मौके पर आप कोट्स के जरिए भी संदेश भेज सकते हैं

Happy Father's Day 2022 Wishes Hindi Shayari, Images, Messages: फादर्स डे यानी पिता दिवस हर साल जून महीने के तीसरे रविवार को मनाया जाता है और इस साल यानी 2022 में फादर्स डे 19 जून को मनाया जा रहा है। फादर्स डे के मौके पर आप कोट्स के जरिए भी संदेश भेज सकते हैं। इस दिन आप इन शानदार शायरियों के जरिए भी अपने पिता को शुभकामना संदेश और तस्वीरें भेज सकते हैं। आइए हम आपको इसके लिए कई विकल्प देते हैं जिसके जरिए आप इन संदेशों और तस्वीरों को भेजकर पिता को खुशी प्रदान कर सकते हैं। 

हमें पढ़ाओ न रिश्तों की कोई और किताब
पढ़ी है बाप के चेहरे की झुर्रियां हम ने
(मेराज फैजाबादी)

मुझ को छांव में रखा और खुद भी वो जलता रहा
मैं ने देखा एक फरिश्ता बाप की परछाईं में
(अज्ञात)

बेटियां बाप की आँखों में छुपे ख्वाब को पहचानती हैं
और कोई दूसरा इस ख्वाब को पढ़ ले तो बुरा मानती हैं
(इफ्तिखार आरिफ)

देर से आने पर वो खफा था आखिर मान गया
आज मैं अपने बाप से मिलने कब्रिस्तान गया
(अफजल खान)

मैं ने हाथों से बुझाई है दहकती हुई आग
अपने बच्चे के खिलौने को बचाने के लिए
(शकील जमाली)

बच्चे मेरी उंगली थामे धीरे धीरे चलते थे
फिर वो आगे दौड़ गए मैं तन्हा पीछे छूट गया
(खालिद महमूद)

अज़ीज-तर मुझे रखता है वो रग-ए-जां से
ये बात सच है मेरा बाप कम नहीं मां से
(ताहिर शहीर)

हड्डियां बाप की गूदे से हुई हैं खाली
कम से कम अब तो ये बेटे भी कमाने लग जाएँ
(रऊफ खैर)

मैं अपने बाप के सीने से फूल चुनता हूं
सो जब भी साँस थमी बाग़ में टहल आया
(हम्माद नियाजी)

मुद्दत के बाद ख़्वाब में आया था मेरा बाप
और उस ने मुझ से इतना कहा खुश रहा करो
(अब्बास ताबिश)

घर की बुनियादें दीवारें बाम-ओ-दर थे बाबू जी
सब को बांध के रखने वाला खास हुनर थे बाबू जी
(आलोक श्रीवास्तव)

बिन बताए वह हर बात जान जाते हैं,
मेरे पापा मेरी हर बात मान जाते है
(अज्ञात)

पिता के बिना जिंदगी वीरान है,
सफर तन्हा और राह सुनसान है​।
वही मेरी जमीं वही आसमान है,
वही खुदा वही मेरा भगवान है।

हंसते रहे आप करोड़ों के बीच सदा
खिलते रहे आप लाखों के बीच सदा
रोशन रहे आप हज़ारों के बीच सदा
जैसे रहता है सूरज आसमान के बीच सदा

हजारों की भीड़ मे भी पहचान जाते हैं,
पापा कुछ कहे बिना ही सब जान जाते हैं

ख्यालों में भी मेरा ही ख्याल रखतें हैं;
मेरे हर दर्द का अपनी बाँहों मे इलाज रखतें हैं,
खरोंच मेरी एक, उन्हें कई रातें जगा जाती है
बाबा भी ना,दिल अपने पास और धड़कने
मेरे होठों की मुस्कान में रखतें हैं।

मेरे अजीज हो आप,
मेरे सबसे अच्छे दोस्त हो आप,
हर इच्छा पूरी करने वाले,
खुदा से बढ़कर हो पापा आप।

उनको समझ नहीं पाया मैं, वो भूल थी मेरी,
आज बना हूं पिता तो सब समझ में आता है,
कि पिता की है हर डांट में प्यार छुपा होता है।

मंजिल दूर और सफ़र बहुत है
छोटी सी जिन्दगी की फिकर बहुत है
मार डालती ये दुनिया कब की हमे
लेकिन पापा  के प्यार में असर बहुत है

पिता के बिना जिंदगी वीरान है,
सफर तन्हा और राह सुनसान है​।
वही मेरी जमीं वही आसमान है,
वही खुदा वही मेरा भगवान है।

हंसते रहें आप करोड़ों के बीच सदा
खिलते रहें आप लाखों के बीच सदा
रोशन रहें आप हज़ारों के बीच सदा
जैसे रहता है सूरज आसमान के बीच सदा

मेरे अजीज हो आप,
मेरे सबसे अच्छे दोस्त हो आप,
हर इच्छा पूरी करने वाले,
खुदा से बढ़कर हो पापा आप।

जो भूले न भुला सके प्यार
वो है मेरे प्यारे पापा का प्यार
दिल में जिसके मैं हूं, वो है मेरा सारा संसार

हजारों की भीड़ मे भी पहचान जाते हैं,
पापा कुछ कहे बिना ही सब जान जाते हैं
फादर्स डे की आपको ढेर सारी बधाई
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर