कानपुर के गांव भी बनेंगे अब 'शहर', नगर निगम में जुड़ने वाले गांवों में लाखों की अबादी होगी लाभान्वित

Kanpur nagar nigam: कानपुर में नगर निगम ने शहरी सीमा विस्तार की तैयारी शुरू कर दी है। विस्तार के प्रथम चरण में 18 गांवों को जोड़ने का कार्य होगा। नगर निगम की सीमा में आने से गांवों की सूरत बदल जायेगी। नगर निगम ने विस्तार को लेकर अभी प्रथम चरण में 18 गांव शामिल किए जा रहे हैं।

kanpur news
कानपुर नगर निगम   |  तस्वीर साभार: Facebook
मुख्य बातें
  • कानपुर में नगर निगम ने शहरी सीमा विस्तार की तैयारी शुरू कर दी है
  • प्रथम चरण में 18 गांवों को जोड़ने का कार्य होगा
  • विस्तार में उत्तर, दक्षिण और पश्चिम क्षेत्र के गांवों को शामिल किया गया है

Kanpur nagar nigam: उत्तर प्रदेश के कानपुर में नगर निगम ने शहरी सीमा विस्तार की तैयारी शुरू कर दी है। शहर के विस्तार के लिए 59 गांवों को जोड़ने की योजना बनाई गई थी। अब शहर विस्तार के प्रथम चरण में 18 गांवों को जोड़ने का कार्य होगा। नगर निगम की सीमा में आने से गांवों की सूरत बदल जाएगी। कानपुर के नगर निगम सीमा के विस्तार को लेकर एक बार फिर तैयारी शुरू हो गई है। पहले 59 गांवों को शामिल किया जा रहा था, अब प्रथम चरण में 18 गांव शामिल किए जा रहे हैं। उत्तर, दक्षिण और पश्चिम क्षेत्र के गांवों को शामिल किया गया है।

नगर निगम सीमा में शामिल होने से इन गांवों की रूप रेखा बदल जाएगी। विकास के साथ- साथ ही शहर से जुड़ी सारी सुविधाएं भी मिलेंगी। कानपुर नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने अफसरों को आदेश दिए हैं कि टीम गठित कर एक-एक गांव का सर्वे करा कर एक हफ्ते में रिपोर्ट दी जाए। 

निकाय चुनाव से पहले वार्डों की संख्या बढ़ाने के संकेत

कानपुर के 18 गांवों में करीब दो लाख लोगों को शहर जैसी सुविधाएं प्राप्त होंगी। शासन के निर्देश पर इन गांवों को नगर निगम सीमा में शामिल करने की तैयार चल रही है। इससे करीब दो लाख ग्रामीण लाभान्वित होंगे। निकाय चुनाव से पहले शहर में वार्डों की संख्या भी 110 से बढ़कर 125 होने के संकेत दिए गए हैं। इसे निकाय चुनावों से भी जोड़कर देखा जा रहा है, जो आगामी नवंबर में प्रस्तावित हैं। 267 वर्ग किलोमीटर के नगर निगम सीमा क्षेत्र में 110 वार्ड हैं। 

सर्वे टीम में ये होंगे शामिल 

नगर निगम की सर्वे टीम में मुख्य कर निर्धारण अधिकारी, प्रभारी अधिकारी (संपत्ति), जोनल प्रभारी जोन दो, तीन, पांच व छह और प्रभारी जनगणना शामिल होंगे। सर्वे में एक-एक गांव की आबादी, सुविधाएं क्या-क्या हैं, आवासीय व व्यावसायिक संपत्ति कितनी है, अभी आय क्या है व नगर निगम सीमा में आने पर क्या आय होगी और कौन-कौन जोन से जुड़ेंगे आदि बातें शामिल होंगी। यह सभी जानकारी सर्वे के दौरान एकत्रित कर एक सप्ताह में रिपोर्ट देनी होगी। 

यह होगी नगर निगम में जुडे़ गांवों की तस्वीर 

निगम सीमा विस्तार से जुड़े गांवों की सड़कें, नाली के साथ पार्क भी विकसित किए जाएंगे। इसके साथ ही बिजली की लाइनें भूमिगत की जाएंगी। पेयजल, सीवर लाइन, गैस पाइप लाइन, रोड लाइट्स की सुविधाएं भी दी जाएंगी। शहर में जुड़ने के जमीनों की कीमत भी बढ़ेगी।नए मार्केट विकसित किए जाएंगे। इन क्षेत्रों में अब ग्रामीण बैंक नहीं, राष्ट्रीयकृत बैंकों की शाखाएं खोली जाएंगी। 

ये गांव होंगे शहर में शामिल 

उत्तरी दिशा से गंगापुर चकबंदी, संभलपुर, सिंहपुर कछार, गंभीरपुर कछार, नारामऊ कछार, ख्योरा कटरी गांव शहरी क्षेत्र में शामिल होंगे। दक्षिण दिशा से मर्दनपुर, मेहरबान सिंह का पुरवा, नगवां, धुरवाखेड़ा, कोरिया, जरकला, भौंती खेड़ा, भौंती प्रतापपुर, पनका बहादुर नगर को जोड़ा जाएगा। वहीं पश्चिम दिशा से मकसूदाबाद, नसेनिया, बहेड़ा शामिल होंगे। 

Kanpur News in Hindi (कानपुर समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर