राजस्‍थान में ठंड ने कंपाया, माइनस में पहुंचा पारा, फसलों पर जमी बर्फ

जयपुर समाचार
Updated Dec 27, 2019 | 12:10 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

राजस्‍थान के कई इलाकों में तापमान माइनस में पहुंच गया है, जिसके कारण फसलों ओस की बूंदें बर्फ में बदल गई हैं। इसकी वजह से यहां फसलों के बर्बाद होने की आशंका भी बढ़ रही है।

extreme cold in rajasthan temperature plunge to -3C in fatehpur
फसलों पर ओस की बूंदें बर्फ में बदल गई हैं 

जयपुर : पूरा उत्‍तर भारत भीषण ठंड की चपेट में है। राजस्‍थान के कई जिलों में भी ठंड का कहर जारी है, जिसके कारण आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। यहां शेखावटी, फतेहपुर, माउंट आबू, चुरु में तापमान शून्‍य से नीचे पहुंच गया है, जिसके कारण कई जगह पानी बर्फ में तब्दील हो गया है। फसलों पर ओस की बूंदें भी बर्फ बन गई हैं। जगह-जगह लोग अलाव जलाकर इस हाड़ कंपा देने वाली ठंड से बचने की कोशिश कर रहे हैं।

सीकर जिले के फतेहपुर शेखावाटी स्थित कृषि अनुसंधान केंद्र में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन तापमान शून्‍य से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। लगातार दो दिनों से यहां तापमान माइनस में दर्ज किया जा रहा है, जिसे कारण इलाके में शीतलहर की स्थिति बनी हुई है। यहां पेड़-पौधों पर गिरी ओस की बूंदें जम गई हैं, जबकि खेतों में दिया जाने वाला पानी भी बर्फ में बन गया है।

क्षेत्र में लगातार पड़ रही भीषण ठंड का असर फसलों पर भी पड़ने के अनुमान जताए जा रहे हैं, जिसके कारण किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीरें नजर आने लगी हैं। राज्‍य में जारी शीतलहर के बीच जहां फतेहपुर में पारा माइनस 3 डिग्री में पहुंच गया है, वहीं माउंट आबू में यह माइनस 1 डिग्री में चुरु में माइनस 0.6 डिग्री सेल्सियस तक जा पहुंचा है।

राज्‍य के कई जिलों में कड़ाके की ठंड के साथ-साथ घना कोहरा भी छाया है, जिसके कारण दृश्‍यता बुरी तरह प्रभावित हुई है। सवाई माधोपुर और करौली में कोहरा के कारण सड़कों पर दूर तक कुछ भी देख पाना मुश्किल हो गया है। फिलहाल ठंड से बचने के लिए लोग अलाव का सहारा ले रहे हैं।

अगली खबर