कोरोना ने लगाया हवाई सेवा पर भी ब्रेक, कल रात से घरेलू उड़ानों पर रोक

देश
किशोर जोशी
Updated Mar 23, 2020 | 17:38 IST

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए पहले रेल सेवाओं पर रोक लगाई गई थी और अब घरेलू उड़ानों पर भी रोक लगा दी गई है। यह रोक मंगलवार रात 12 बजे से लागू होगी

Operations of domestic scheduled commercial airlines shall cease with effect from midnight on March 24 due to coronavirus
कोरोना ने लगाया हवाई सेवा पर भी ब्रेक, घरेलू उड़ानों पर रोक 

मुख्य बातें

  • कोरोना को लेकर सरकार ने उठाया बड़ा कदम, सभी घरेलू उड़ानों पर लगाई रोक
  • इससे पहले सरकार ने लगाई थी रेल सेवाओं पर रोक
  • दरअसल देशभर में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना संक्रमण के मामले

नई दिल्ली:  केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए अब घरेलू उड़ानों के संचालन पर रोक लगा दी है, इससे पहले सरकार ने रेल सेवाओं पर रोक लगा दी थी। यह निर्णय कल रात 12 बजे से लागू हो जाएगा यानि रात 12 बजे तक पहुंचने वाली फ्लाइट्स को ही लैंडिंग की अनुमति होगी। देश भर में रोज लगभग सात हजार उड़ाने भरी जाती हैं जिनमें लाखों यात्री सफर करते हैं। सरकार ने इस निर्णय से कॉर्गो सेवा को बाहर रखा है।

नागर विमानन मंत्रालय के मुताबिक, 'विमानन कंपनियों को अपने सभी घरेलू उड़ानों के यात्रियों को मंगलवार देर रात 11 बजकर 59 मिनट तक उनके गंतव्य पर छोड़ना होगा। घरेलू मालवाहक विमानों का संचालन सामान्य रूप से जारी रहेगा।'


कई देश उठा चुके हैं इस तरह के कदम

विश्व के 170 से अधिक देशों में यह वायरस दस्तक दे चुका है जिसकी वजह से कई देश कोरोना के चलते अपने यहां भी इसी तरह के कदम उठा चुके हैं। सोमवार को ही संयुक्त अरब अमीरात ने घोषणा की कि वह कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए अपने यहां सभी यात्री विमानन सेवाएं दो सप्ताह के लिए निलंबित कर रहा है। इसमें वहां से हो कर आने जाने वाली दूसरे देशों की उड़ाने भी शामिल होंगी।

रेल सेवाओं पर पहले ही लगी थी रोक

इससे पहले सरकार ने कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कई एहतियाती कदम उठाए थे जिसमें रेल सेवाओं के अलावा अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगा दी थी।इसके अलावा कई राज्यों ने अपने यहां लॉकडाउन कर दिया है। कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसके खिलाफ लड़ाई में मीडिया की गंभीरता और जागरूकता फैलाने के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने आगे एक लम्बी लड़ाई है, जहां सामाजिक दूरी के बारे में जागरूकता, ताजा गतिविधियों एवं सरकार के निर्णयों के बारे में तेजी से सूचना पहुंचाना महत्वपूर्ण है ।

राज्यों में लॉकडाउन

कोरोना वायरस के देश में अभी तक 430 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं जिसमें से 9 की मौत हो चुकी है। सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र से आए हैं। इसके अलावा दिल्ली, राजस्थान, बिहार, पंजाब, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, झारखंड, सहित कई राज्यों ने कोरोना के खतरे को देखते हुए 31 मार्च तक लॉकडाउन करने का फैसला किया है। लॉकडॉउन के दौरान मेट्रो और रेल सेवाएं भी बंद रहेंगी।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर