मुंबई में बारिश का कहर: 'महालक्ष्‍मी एक्‍सप्रेस' में राहत कार्य पूरा, सुरक्षित निकाले गए करीब 900 यात्री

देश
Updated Jul 27, 2019 | 17:00 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

"महालक्ष्मी एक्सप्रेस" मुंबई में लगातार हो रही बारिश की वजह से ट्रैक पर पानी भरा होने के कारण बदलापुर और वंगानी स्टेशन के बीच फंस गई, ट्रेन में करीब 900 यात्री सवार थे।

MALAXMI EXPRESS
बारिश से हुए जलभराव की वजह से "महालक्ष्मी एक्सप्रेस" बदलापुर और वंगानी स्टेशन के बीच रुक गई  

नई दिल्ली।Mahalaxmi Epress: मुंबई में बारिश कहर बनी हुई है और इसका असर रोड ट्रैफिक से लेकर एयर ट्रैफिक पर भी पड़ रहा है वहीं रेल यातायात भी इससे खासा प्रभावित हुआ है। महालक्ष्मी एक्सप्रेस बदलापुर और वंगानी स्टेशन के बीच रुक गई क्योंकि पटरियों पर इतना भारी जलजमाव हो गया था कि ट्रेन का आगे बढ़ पाना मुश्किल होने लगा था।

बताया जा रहा है लगातार बारिश और जलभराव से ये ट्रेन पानी के बीच में ही खड़ी हो गई, ट्रेन में करीब 900 यात्री सवार थे। इस खबर के बाद रेल महकमे में हड़कंप मच गया और तुरंत ही सिविक एजेंसियों के माध्यम से राहत के कार्य शुरू किए गए।

एनडीआरएफ के डीजी एसएन प्रधान ने बचाव अभियान पर कहा कि पहले महिलाओं और बच्चों को निकाला गया, जिसमें 9 गर्भवती महिलाएं थीं। इसके बाद बुजुर्ग लोगों और फिर आखिर में पुरुष यात्रियों को निकाला गया। ऑपरेशन लगभग 8 घंटे तक चला और लगभग 900 यात्रियों को सुरक्षित निकाला गया है।

ट्रेन में राहत बचाव कार्य के तहत महिलाओं और बच्‍चों समेत सभी 900 लोगों को ट्रेन से निकालकर सुरक्षित स्‍थान पर पहुंचाया जा चुका है। इन यात्रियों के राहत और बचाव कार्य में नेवी, एयरफोर्स, एनडीआरएफ और स्थानीय प्रशासन की टीमें ने हिस्‍सा लिया।

 

 

इन यात्रियों को बदलापुर स्‍टेशन पहुंचाया गया है वहीं सेंट्रल रेलवे ने कहा है कि एक 19 कोच वाली स्‍पेशल ट्रेन महालक्ष्‍मी एक्‍सप्रेस के यात्रियों को लेकर कल्‍याण से कोल्‍हापुर के लिए रवाना होगी। 

 

 

 

 

महालक्ष्मी एक्सप्रेस बचाव अभियान पर मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि सभी यात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। 

 

 

 

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि राहत बचाव में सात नेवी टीम, इंडियन एयरफोर्स के दो हेलिकॉप्टर, सेना की दो टुकड़ी के अलावा स्थानीय प्रशासन भी लगा है।

 

 

 

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) की एक टीम वहां पहुंच गई है जहां पर महालक्ष्मी एक्सप्रेस बदलापुर और वांगणी के बीच फंसी हुई है और उसने वहां राहत का काम शुरू कर दिया है।

 

 

तीन डाइविंग टीम सहित नौसेना से आठ बाढ़ बचाव दल बचाव सामग्री, नावों और लाइफ जैकेट के साथ वहां मदद कर रहे हैं।

पश्चिमी नौसेना कमान इस स्थिति पर कड़ी नजर रखे हुए है और राज्य प्रशासन के साथ निरंतर संपर्क में है ताकि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में आवश्यक सहायता प्रदान कर सके।
 

 

 

उसमें फंसे 2 हजार यात्रियों को निकालने के लिए रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स पहुंच चुकी है। फंसे हुए यात्रियों को बिस्किट और पीने का पानी दिया गया।

 

प्रशासन ने बताया कि इस स्थिति के चलते बदलापुर और वांगनी स्टेशनों के बीच फंसी महालक्ष्मी एक्सप्रेस के यात्रियों को सकुशल निकालने के लिए तीन नौकाएं वहां भेजी गई हैं ताकि यात्रियों को सुरक्षित निकाला जा सके।  

 

 

वायु सेना के एक हेलिकॉप्टर को भी मदद के लिए तैयार रखा गया है। गौरतलब है कि मुंबई में लगातार हो रही भारी बारिश से जनजीवन बेहाल है। मुंबई में शुक्रवार को जमकर बारिश हुई, सड़कें, रेल यातायात और यहां तक कि हवाई यातायात पर भी इस भारी बारिश का काफी असर देखने को मिला।

मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड ने बताया कि अब तक 17 फ्लाइट डायवर्ट की जा चुकी हैं। मुंबई एयरपोर्ट पर से शनिवार सुबह 8 से 9 बजे के बीच की 7 उड़ानें रद्द कर दी गई है। 

एयरपोर्ट प्रशासन ने बताया कि बारिश के कारण उड़ानें औसत समय से आधे घंटे लेट हो रही हैं। फ्लाइट पर ही नहीं बारिश का असर ट्रेनों के आवागमन पर भी देखने को मिल रहा है।  कुर्ला-थाने और कल्याण में भारी बारिश दर्ज की गई है। एहतियातन तौर पर हमने कल्याण से कर्जत/खोपोली की ट्रेन सेवाएं रद्द कर दी हैं। 

 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर