केरल: खाने के लिए मोहताज हुए प्रवासी मजदूर, सड़कों पर उतर की घर वापसी की मांग

दूसरे राज्यों के प्रवासी मजदूरों ने अपने-अपने गृहनगरों में वापस जाने के लिए केरल के कोट्टायम में सड़कों पर विरोध-प्रदर्शन किया। लॉकडाउन के दौरान उन्हें खाने-पीने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है।

kerala
केरल में सड़कों पर निकले मजदूर 

नई दिल्ली: कोरोनो वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए लागू किए गए 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बीच देश के कई हिस्सों से हजारों प्रवासी मजदूरों ने अपने-अपने गृहनगर वापस जाने का निर्णय लिया है। दिल्ली, नोएडा-एनसीआर से लगातार ऐसी तस्वीरें सामने आ रही हैं, जहां मजदूर पैदल ही हजारों किलोमीटर की यात्रा पर निकल गए हैं। अब केरल से भी इसी तरह की तस्वीरें सामने आई हैं। कोट्टायम में स्थित एक छोटे से शहर पयिप्पड़ में मजदूरों ने सड़कों पर आकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी मजदूरों ने दावा किया है कि पिछले 3 दिनों से वे भोजन और पानी के लिए संघर्ष कर रहे हैं। कुछ मजदूर बिहार, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ के हैं।

विरोध के दौरान प्रवासी श्रमिकों ने वाहनों की मांग की जिससे संकट के इस समय में वो अपने-अपने घर लौट सकें। प्रवासी श्रमिकों ने कहा कि वे अपने-अपने घरों को वापस जाना चाहते हैं।

हालांकि सरकारी प्राधिकारियों ने कहा कि प्रवासी श्रमिकों को लॉकडाउन जारी रहने तक भोजन और आवास उपलब्ध कराया जाएगा। केरल के पर्यटन मंत्री के सुरेंद्रन ने कहा, 'अगर उनकी यात्रा के लिए एक विशेष ट्रेन की व्यवस्था की जाती है, तो हम उनकी यात्रा को सुगम बनाएंगे।'

प्रवासी मजदूरों के पलायन पर संज्ञान लेते हुए केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासनों से लॉकडाउन के दौरान प्रवासी कामगारों की आवाजाही को रोकने के लिए प्रभावी तरीके से राज्य और जिलों की सीमा सील करने को कहा है। राज्यों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि शहरों में या राजमार्गों पर लोगों की आवाजाही नहीं हो। केवल सामान को लाने-ले जाने की अनुमति होनी चाहिए। इन निर्देशों का पालन करवाने के लिए जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक की निजी तौर पर जिम्मेदारी बनती है। मजदूरों सहित जरूरतमंद और गरीब लोगों को खाना और आश्रय मुहैया कराने के लिए समुचित इंतजाम किए जाएंगे। 

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर