दिल्ली में बिजली टैरिफ में होगी कटौती, चुनाव से पहले 'आप' सरकार का फैसला

देश
Updated Jul 31, 2019 | 18:43 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

लगातार विरोध के बाद दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने बिजली टैरिफ में कटौती करने की घोषणा कर दी है। बीजेपी नेता मनोज तिवारी ने इसे बिजली टैरिफ दामों का विरोध करने वाले लोगों की जीत बताया है।

Delhi Government reduce electricity tariff
दिल्ली सरकार ने घटाया बिजली पर लगने वाला टैरिफ 

मुख्य बातें

  • AAP सरकार ने की बिजली टैरिफ में कटौती की घोषणा
  • 1 अगस्त से लागू होंगी टैरिफ की नई दरें
  • मनोज वाजपेयी ने फैसले को बताया जनता की जीत

नई दिल्ली। Delhi Government Traiff: दिल्ली में विधानसभा चुनाव से पहले बुधवार को आम आदमी पार्टी की सरकार ने बड़ी घोषणा की है। इस घोषणा के तहत राजधानी में हर बिजली कनेक्शन के फिक्स चार्ज पर लगने वाले टैरिफ में कमी की जाएगी। दिल्ली के विद्युत नियामक आयोग (डीईआरसी) ने भी इस बारे में अधिसूचना जारी की है।  इस अधिसूचना में चालू वित्त वर्ष 2019-2020 के लिए नए टैरिफ में कमी की घोषणा की गई है। नए टैरिफ चार्ज 1 अगस्त से लागू हो जाएंगे।

नए टैरिफ आदेश के अनुसार, 15 किलोवाट तक की खपत वाले घरों के लिए बिजली की इकाइयों के तय चार्ज स्लैब के अनुसार घटाया गया है। जो इस प्रकार है: 2 किलोवाट तक, 125 रुपए से 20 रुपए तक, 2-5 किलोवाट के लिए, 140 रुपए से 50 रुपए तक और 5-15 किलोवाट के लिए 175 से 100 रुपए तक की कमी की जाएगी।

घरों में इस्तेमाल होने वाली बिजली के मामले में जहां 1200 यूनिट से ज्यादा की खपत हो रही है वहां बिजली के दाम 7.75 रुपए प्रति यूनिट से बढ़ाकर 8 रुपए प्रति यूनिट कर दिए गए हैं। गौरतलब है कि जो लोग बिजली की एक भी यूनिट का इस्तेमाल नहीं करते हैं उन्हें भी बिजली बिल के रूप में एक निश्चित राशि का भुगतान करना होता है इसे फिक्स चार्ज कहा जाता है। बीते साल सभी स्लैब में फिक्स चार्ज को बढ़ा दिया गया था। इस फैसले के बाद कई हल्कों में अरविंद केजरीवाल सरकार की आलोचना हुई थी।

यहां देखें पिछले साल टैरिफ ऑर्डर के अनुसार फिक्स्ड चार्ज कैसे बढ़ाया गया था- : 2-5 किलोवाट के लिए- 35 रुपए से 140 रुपए तक, 5-15 किलोवाट के लिए- 45 रुपये से 175 रुपये तक, 15-25 किलोवाट के लिए- 60 रुपये से 200 रुपये तक और 25 किलोवाट से अधिक के लिए- 100 रुपए से 250 रुपए तक।

दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने टैरिफ में कमी करने के फैसले को जनता और सरकार के फैसले का विरोध करने वाले सभी लोगों और दिल्ली की जनता की जीत बताया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने बढ़े हुए टैरिफ को कम तो कर दिया है लेकिन जो पैसा अब तक दिल्ली के लोगों से बसूला जा चुका है उसकी भरपाई भी जरूरी है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर