शरद पवार ने क्यों कहा- नहीं है जेल का अनुभव, जाना पड़े तो दिक्कत नहीं

महाराष्ट्र चुनाव
Updated Sep 25, 2019 | 09:41 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

महाराष्ट्र सहकारी बैंक घोटाला मामले में ED द्वारा केस दर्ज किए जाने के बाद NCP प्रमुख शरद पवार ने कहा है कि अगर मुझे जेल जाना पड़े तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है।

Sharad Pawar
एनसीपी प्रमुख शरद पवार 

मुंबई: प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने महाराष्ट्र सहकारी बैंक घोटाला मामले में नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार, उनके भतीजे और पूर्व उप मुख्यमंत्री अजीत पवार व अन्य के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का आपराधिक मामला दर्ज किया है। यह घोटाला करीब 25 हजार करोड़ का बताया जा रहा है। इस फैसले का शरद पवार ने स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि जेल भी जाना पड़े तो कोई दिक्कत नहीं।

पवार ने कहा, 'केस दर्ज कर लिया गया है। अगर मुझे जेल जाना पड़े तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है। मुझे प्रसन्नता होगी क्योंकि मुझे यह अनुभव कभी नहीं हुआ। अगर किसी ने मुझे जेल भेजने की योजना बनाई है, तो मैं इसका स्वागत करता हूं।' 

उन्होंने व्यंग्यात्मक लहजे में एजेंसी को उस बैंक से संबंधित मामले में नाम घसीटने के लिए धन्यवाद दिया, जिसके वह ना तो सदस्य हैं और न ही किसी भी तरह से इसके निर्णय लेने की प्रक्रिया में शामिल हैं। उन्होंने कहा, 'मैं जांच एजेंसियों को धन्यवाद देता हूं क्योंकि उन्होंने ऐसे बैंक से संबंधित एक मामले में मेरा नाम शामिल किया है, जिसका मैं सदस्य भी नहीं हूं, मैं इसके निर्णय लेने में शामिल नहीं था।'

पवार ने कहा, 'अगर उन्होंने मेरे खिलाफ भी मामला दर्ज किया है, तो मैं इसका स्वागत करता हूं। मुझे तब आश्चर्य होता जब राज्य के विभिन्न जिलों में अपनी यात्राओं के दौरान मुझे मिली प्रतिक्रिया के बाद भी मेरे खिलाफ ऐसी कार्रवाई न की जाती।'

एनसीपी के प्रवक्ता नवाब मलिक ने आरोप लगाया कि यह राजनीति से प्रेरित कदम है, जिसका उद्देश्य विपक्षी नेताओं को चुनाव से पहले बदनाम करना है। महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग होनी है। 

पुलिस द्वारा दर्ज की गई एफआईआर के मुताबिक, एक जनवरी 2007 से 31 मार्च 2017 के बीच हुए महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक घोटाले के कारण सरकारी खजाने को कथित तौर पर 25 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर