Maharashtra Chunav: जोश में भरे शरद पवार बोले-'मैं अभी भी जवान हूं, सत्तारुढ़ सरकार को भेजूंगा घर'

महाराष्ट्र चुनाव
Updated Oct 09, 2019 | 22:43 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

abhi to main jawan hoon : महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रह चुके और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार अपनी वाकपटुता के लिए खासे जाने जाते हैं, उन्होंने एक चुनावी रैली में इसका एक नमूना दिखाया। 

sharad pawar
एनसीपी चुनाव प्रचार में लगी है पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार भी चुनावी प्रचार में जोशो खरोश के साथ जुटे हैं 

मुख्य बातें

  • महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए NCP अध्यक्ष शरद पवार चुनावी कैंपेन में जोशो खरोश के साथ जुटे हैं
  • पार्टी के एक नेता ने उनके राजनीतिक करियर के प्रति सम्मान जताते हुए उन्हें '80 वर्ष का प्यारा नेता' कहा
  • शरद पवार ने कहा कि वह अब भी जवान हैं और बीजेपी-शिवसेना को परास्त करने तक आराम नहीं करेंगे

मुंबई: महाराष्ट्र में चुनावी सरगर्मियां तेजी के साथ आगे बढ़ रही हैं और राजनीतिक दल राज्य की सत्ता पर कब्जा करने की रणनीति बनाकर चुनाव प्रचार में जुट गई हैं, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) चुनाव प्रचार में लगी है पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार भी चुनावी कैंपेन में जोशो खरोश के साथ जुटे हैं।

प्रदेश के अकोला में एक रैली को संबोधित करने के दौरान शरद पवार के लिए थोड़ी देर को असहज स्थिति हो गई जब पूर्व विधायक और पार्टी के अधिकारी तुकाराम बिडकर ने पवार के 55 वर्ष से ज्यादा के राजनीतिक करियर के प्रति सम्मान जताते हुए उन्हें '80 वर्ष का प्यारा नेता' कहा।

इस पर शरद पवार ने इसका जबाव अपने ही अंदाज में दिया, उन्होंने अपने कुछ पार्टी कार्यकर्ताओं से पूछा, 'क्या मैं बूढ़ा हो गया हूं। फिर शरद पवार ने कहा कि वह अब भी जवान हैं और महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना को परास्त करने तक आराम नहीं करेंगे।

उन्होंने जैसे ही यह कहा, वहां मौजूद लोगों ने ठहाकों के साथ उनके तंज का स्वागत किया। पवार ने लोगों को शांत रहने का इशारा करते हुए कहा, 'अभी तो मैं जवान हूं। घर जाने से पहले मैं सबको कहीं और भेज दूंगा।' गौरतलब है कि राज्य में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होना है सत्ता हासिल करने में सभी पॉलीटिकल पार्टियां जुटी हैं।

गौरतलब है कि पिछले महीने पहले प्रवर्तन निदेशालय ने महाराष्ट्र सहकारी बैंक घोटाला मामले में शरद पवार, उनके भतीजे और पूर्व उप मुख्यमंत्री अजीत पवार व अन्य के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का आपराधिक मामला दर्ज किया था। यह घोटाला करीब 25 हजार करोड़ का बताया जा रहा है। इस फैसले का शरद पवार ने स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि जेल भी जाना पड़े तो कोई दिक्कत नहीं।

पवार ने कहा, 'केस दर्ज कर लिया गया है। अगर मुझे जेल जाना पड़े तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है। मुझे प्रसन्नता होगी क्योंकि मुझे यह अनुभव कभी नहीं हुआ। अगर किसी ने मुझे जेल भेजने की योजना बनाई है, तो मैं इसका स्वागत करता हूं।' 

 

 

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर