Jharkhand election result: बाबूलाल मरांडी की पार्टी JVM का विलय BJP में होगा?

Jharkhand chunav result: झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 रिजल्ट आज आ जाएंगे। सरकार बनाने के लिए बीजेपी और झामुमो-कांग्रेस-आरजेडी गठबंधन छोटी पार्टियों से संपर्क करना  शुरू कर दिया है।

Jharkhand election result: बाबूलाल मरांडी की पार्टी JVM का विलय BJP में होगा?
झारखंड चुनाव रिजल्ट के बीच जेवीएम का बीजेपी में विलय?  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • झारखंड चुनाव के रिजल्ट के रूझान तेजी उलटफेर हो रहे हैं, किसकी सरकार बनेगी अभी तय नहीं हो सका है
  • बाबूलाल मरांडी ने कहा कि हमारी पार्टी बीजेपी के साथ भी सकती है
  • खबर के अनुसार बीजेपी मरांडी को विलय का ऑफर देगी

नई दिल्ली: बीजेपी सूत्रों के मुताबिक चार सीटों पर आगे चल रहे बाबूलाल मरांडी के नेतृत्व वाले झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) बीजेपी के लिए खुशी की बात है। मरांडी के करीबी सहयोगी के मुताबिक मरांडी और बीजेपी नेता ओम माथुर के बीच बैठक होगी। जिसमें बीजेपी मरांडी की पार्टी का अपनी पार्टी में विलय बात करना चाहती है। चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, भारतीय जनता पार्टी 31 सीटों पर आगे चल रही है, जबकि गठबंधन 40 सीटों पर आगे चल रहा है। लेकिन बीजेपी सोचती है, उसकी पार्टी 30 पार कर जाएगी। आईएनएस के मुताबिक बीजेपी बालू लाल मरांडी को मर्जर का ऑफर दे सकती है।

सरकार बनाने के लिए 42 के जादुई आंकड़े के साथ, इसे न केवल अपने पूर्व सहयोगी AJSU बल्कि मरांडी की पार्टी की भी जरूरत होगी। जबकि बीजेपी AJSU के साथ सौदा करने के लिए आश्वस्त है, यह JVM के बारे में निश्चित नहीं है। यही कारण है, जेवीएम की ओर बीजेपी हाथ बढ़ाना चाहती है।

बीजेपी को उम्मीद है कि मरांडी खुद बीजेपी के पूर्व सदस्य रहे हैं और उनके नेतृत्व में बीजेपी ने राज्य में सफलता का स्वाद चखा है। हालांकि खुद संथाल होने के नाते मरांडी की राजनीति हमेशा झामुमो विरोधी रही है। यह बीजेपी के भरोसेमंद होने का एक और कारण है। बीजेपी स्वीट डील के बदले बीजेपी में विलय करने के लिए मरांडी की पेशकश करने के विकल्प भी तलाश रही है। मरांडी ने 2006 में बीजेपी से इस्तीफा दे दिया और अपनी राजनीतिक पार्टी बनाई।

बीजेपी के लिए खुशी की बात है, जब मरांडी ने सोमवार सुबह रांची में मीडिया से बात करते हुए बीजेपी के साथ चुनाव बाद गठबंधन करने से यह कहते हुए कि इनकार नहीं किया, वह कुछ पार्टियों के साथ संपर्क में है। बीजेपी के एक सूत्र ने कहा कि ओम माथुर, जो बीजेपी के उपाध्यक्ष हैं और बीजेपी के झारखंड के चुनाव प्रभारी भी हैं। उन्होंने पहली बैठक में कहा कि मरांडी की मांग को सुनने बैठक की जाएगी। लेकिन, यह सब बीजेपी के लिए तभी मायने रखेगा, जब 35 सीटों के भीतर झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन सिमट जाएगा।

 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर