Haryana assembly elections 2019: एक को छोड़कर मनोहर लाल खट्टर कैबिनेट के सभी मंत्री हारे!

हरियाणा चुनाव
Updated Oct 24, 2019 | 15:58 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Haryana assembly elections 2019 के नतीजे करीब-करीब आ चुके हैं। सीएम मनोहर लाल खट्टर कैबिनेट के करीब-करीब सभी मंत्री चुनाव हारते नजर आ रहे हैं।

Manohar Lal Khattar
Manohar Lal Khattar 

नई दिल्ली : हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Vidhan Sabha Chunav 2019) में सीएम मनोहर लाल खट्टर कैबिनेट (Manohar Lal Khattar cabinet collapsed) के करीब सभी मंत्री चुनाव हारते नजर आ रहे है। इस चुनावी लड़ाई में एक को छोड़कर सभी दम तोड़ते दिख रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के लिए इससे भी अधिक बुरी बात यह है कि उसके प्रदेश प्रमुख सुभाष बराला अपने टोहाना निर्वाचन क्षेत्र से नवगठित क्षेत्रीय पार्टी जननायक जनता पार्टी के देवेंद्र सिंह बबली से पीछे हैं। हालांकि सीएम खट्टर अपने करनाल निर्वाचन क्षेत्र से जीत रहे हैं।

वित्त मंत्री रहे कैप्टन अभिमन्यु अपने नारनौंद निर्वाचन क्षेत्र से जेजेपी के राम कुमार गौतम से हार गए हैं। गौतम बीजेपी के पूर्व विधायक थे।

राम बिलास शर्मा, जो शिक्षा और भाषा मंत्री हैं, अपने महेंद्रगढ़ निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के राव दान सिंह से पीछे हैं।

इसी तरह, ओम प्रकाश धनखड़, जो कृषि, विकास और पंचायत मंत्री हैं, बादली निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के कुलदीप वत्स से पीछे हैं।

परिवहन मंत्री रह चुके कृष्ण लाल पंवार इसराना से कांग्रेस के बलबीर सिंह से पीछे हैं। लड़ाई तीव्र है और मार्जिन कम है।

कविता जैन, जो कला और सांस्कृतिक मामले, महिला और बाल विकास मंत्री हैं, अपने सोनीपत निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के सुरेंद्र पंवार से पीछे हैं।

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष, जगाधरी से भाजपा विधायक कंवर पाल कांग्रेस के अकरम खान से पीछे हैं। यहां बहुजन समाज पार्टी के आदर्श पाल सिंह कांग्रेस और भाजपा दोनों उम्मीदवारों को कड़ी टक्कर दे रहे हैं।

दो मौजूदा मंत्रियों राव नरबीर सिंह और विपुल गोयल को बीजेपी ने टिकट नहीं दिया। उनकी जगह नए चेहरों को उतारा गया। राव नरबीर सिंह, लोक निर्माण मंत्री हैं। बादशाहपुर से भाजपा के विधायक थे। इस बार बीजेपी से मनीष यादव को टिकट दिया गया। यादव एक निर्दलीय उम्मीदवार राकेश दलातबाद से पीछे हैं।

फरीदाबाद से विपुल गोयल के स्थान पर बीजेपी ने नरेंद्र गुप्ता पर विश्वास दिखाया था। उनके पास स्पष्ट बढ़त है लेकिन कांग्रेस लखन कुमार सिंगला को कड़ी टक्कर दे रही है।

अनिल विज खट्टर कैबिनेट के एकमात्र मंत्री हैं जो अपनी अंबाला छावनी से चुनाव जीते हैं। हालांकि, एक निर्दलीय उम्मीदवार चित्रा सरवारा कड़ी टक्कर दी।

TikTok स्टार और बीजेपी उम्मीदवार सोनाली फोगट कांग्रेस के दिग्गज कुलदीप बिश्नोई से चुनाव हार गई हैं।  TikTok  वीडियो से प्रसिद्ध हुई फोगट को इस क्षेत्र में लोकप्रियता के कारण टिकट दिया गया था।

कुश्ती में राष्ट्रमंडल स्वर्ण पदक विजेता बबीता फोगट और जो इस साल अगस्त में बीजेपी में शामिल हुई थीं, निर्दलीय उम्मीदवार सोमबीर से पीछे हैं।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर