Gopal Kanda : भाजपा को समर्थन पर गोपाल कांडा बोले-पिता RSS से थे 

Gopal Kanda supporting BJP in Haryana : गीतिका शर्मा आत्महत्या केस में आरोपी और हरियाणा की सरकार में मंत्री रहे गोपाल कांडा ने भाजपा को अपना समर्थन देने की बात कही है।

Gopal Kanda says his father was from RSS thats why he is supporting BJP
गोपाल कांडा ने बनाई है हरियाणा लोकहित पार्टी।  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • साल 2012 के एयर होस्टेस गीतिका शर्मा के आत्महत्या में आरोपी हैं गोपाल कांडा
  • 2019 के विधानसभा चुनाव में विजयी हुए हैं गोपाल कांडा, भाजपा को दिया है अपना समर्थन
  • कांडा ने कहा-उनके पिता आरएसएस से जुड़े थे, इसलिए भाजपा की मदद के लिए आगे आए

नई दिल्ली : हरियाणा में सरकार बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को निर्दलीय विधायकों एवं छोटे दल का साथ मिलता जा रहा है। अब हरियाणा लोक हित पार्टी के विधायक गोपाल कांडा ने भाजपा को अपना समर्थन देने की बात कही है। कांडा ने शुक्रवार को दावा किया कि उनके खिलाफ कोई केस नहीं है। यहां तक कि किसी लड़की ने उनके खिलाफ छेड़छाड़ का केस दर्ज नहीं कराई है। कांडा ने कहा कि हरियाणा के सभी निर्दलीय विधायक भाजपा के साथ हैं। 

दिल्ली पुलिस की चार्जशीट के आरोपों को खारिज करते हुए कांडा ने टाइम्स नाउ से खास बातचीत में कहा कि उनके खिलाफ लगे सभी आरोप झूठे हैं। उन्होंने कहा, 'लोग मेरे खिलाफ आधारहीन आरोप लगाते हैं लेकिन उन आरोपों को साबित करने के लिए उनके पास कोई सबूत नहीं होता। मेरे खिलाफ कोई केस नहीं है।' यह पूछे जाने कि क्या समर्थन देने के लिए उनकी भाजपा के साथ कोई 'डील' हुई है, इस सवाल पर कांडा ने कहा कि उनके पिता आरएसएस से जुड़े थे इसलिए वह आज भाजपा का समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने कहा, 'भाजपा के साथ उनकी कोई डील नहीं हुई है और हरियाणा के विकास के लिए सभी निर्दलीय विधायकों ने भाजपा को समर्थन देने का फैसला किया है।' 

 

 

बताया जा रहा है कि कांडा की शुक्रवार को मनोहर लाल खट्टर के साथ मुलाकात होनी है। समझा जाता है कि इस मुलाकात में हरियाणा की अगली सरकार में निर्दलीय विधायकों की भूमिका पर चर्चा हो सकती है। बता दें कि 2012 के एयर होस्टेस गीतिका शर्मा आत्महत्या केस में कांडा आरोपी हैं। गीतिका ने जो अपना सुसाइड नोट छोड़ा था उसमें उसने अपनी आत्महत्या के लिए हरियाणा सरकार में तत्कालीन मंत्री गोपाल कांडा और उनके सहयोगी अरुण चड्ढा को जिम्मेदार ठहराया था।

गीतिका को आत्महत्या उकसाने के आरोप में केस दर्ज होने के बाद कांडा को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था। इस केस में अरुण चड्ढा की भी गिरफ्तारी हुई। गीतिका आत्महत्या केस देश में काफी चर्चित हुआ। गीतिका केस में कांडा के सजा दिलाने के लिए बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर उतरे। यहां तक कि भाजपा ने कांडा के खिलाफ प्रदर्शन किया था।   

मामले में दिल्ली पुलिस ने कांडा के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 376 और 377 के साथ अपना आरोपपत्र दायर किया। कुछ समय बाद गीतिका की मां अनुराधा शर्मा ने अशोक विहार के अपने आवास में खुदकुशी कर ली। 

बता दें कि हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजे गुरुवार को आए लेकिन किसी भी पार्टी को सरकार बनाने के लिए बहुमत नहीं मिला है। हरियाणा में विधानसभा की 90 सीटें हैं और सरकार बनाने के लिए 46 सीटों की जरूरत है। इस चुनाव में भाजपा को 40 सीटें मिली हैं। हरियाणा में सरकार बनाने के लिए मनोहर लाल खट्टर को निर्दलीय विधायकों के समर्थन की जरूरत है। वहीं, कांग्रेस का आरोप है कि निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल करने के लिए भाजपा उन पर दबाव बना रही है। इस बीच, हरियाणा में सरकार बनाने की संभावनाओं पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से चर्चा के लिए मनोहर लाल खट्टर दिल्ली पहुंचे हैं। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर