LIVE BLOG
More UpdatesMore Updates

PM Modi Speech Today Updates: कोविड को लेकर बोले PM- जब तक युद्ध चल रहा है तब तक हथियार नहीं डाले जाते हैं

PM Modi Speech Today, PM Narendra Modi address to nation Today Live News Updates: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार राष्ट्र को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, 'हमारे देश ने एक तरफ कर्तव्य का पालन किया तो दूसरी तरफ उसे बड़ी सफलता भी मिली। भारत ने कल 100 करोड़ वैक्सीन डोज़ का कठिन लेकिन असाधारण लक्ष्य प्राप्त किया।'

PM Modi Speech Today, PM Narendra Modi address to nation Today News Updates: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को संबोधित किया।इस दौरान प्रधानमंत्री ने भारत के वैक्सीनेशन कार्यक्रम की तारीफ की और कहा, '00 करोड़ वैक्सीन डोज़ केवल एक आंकड़ा नहीं है, ये देश के सामर्थ्य का प्रतिबिंब है। ये उस नए भारत की तस्वीर है जो कठिन लक्ष्य निर्धारित कर उन्हें हासिल करना जानता है और अपने संकल्पों की सिद्धि के लिए परिश्रम की पराकाष्ठा करता है।' 

Oct 22, 2021  |  10:25 AM (IST)
पीएम ने कहा- मास्क को बनाना हो गा सहज स्वभाव


देश नए लक्ष्य बनाना और उसे हासिल करना बखूबी जानता है। लेकिन हमें लापरवाही नहीं बरतनी है। कवच कितना  मजबूत हो, लेकिन खतरा टलता नहीं है।जब तक युद्ध चल रहा है तब तक हथियार नहीं डाले जाते है। हमारे त्योहारों को पूरे सतर्कता से मनाना है। जहां तक मास्क की बात है, जैसे हमें जूते पहनकर बाहर जाने की आदत लग गई है, वैसे ही मास्क को सहज स्वभाव बनाना होगा। जिन्हें अभी तक वैक्सीन नहीं लगी है वो इसे प्राथमिकता दें - पीएम मोदी

Oct 22, 2021  |  10:20 AM (IST)
वोकल फॉर लोकल की वकालत

कोरोना काल में कृषि क्षेत्र ने अर्थव्यवस्था को संभाले रखा। आज किसानों के खाते में सीधे पैसे जा रहे हैं। हर सेक्टर में सकारात्मक गतिविधियां देखने को मिल रही है। एक जमाना था जब मेड इन ये कंट्री, मेड इन वो कंट्री, लेकिन आज मेड इन इंडिया की ताकत भारत देख रही है। मेड इन इंडिया की ताकत बहुत बड़ी होती है। भारतीयों द्वारा बनाई हुई चीज खरीदना, वोकल फॉर लोकल.. हमें व्यवहार में लाना ही होगा। हमें हर छोटी से छोटी चीज जो मेड इन इंडिया हो, जिसे बनाने में किसी भारतवासी का पसीना बहा हो, उसे खरीदने पर जोर देना चाहिए और ये सबके प्रयास से ही संभव होगा। सबके प्रयास से हम ये करने में भी कामयाब रहेंगे। पिछली दिवाली हर किसी के मन में तनाव था लेकिन इस दीवाली 100 करोड़ वैक्सीन डोज के कारण हर किसी के मन में विश्वास है। दिवाली के दौरान ब्रिकी की एक तरफ, और बांकि साल की बिक्री एक तरफ है। हमारे यहां त्योहारों के समय बिक्री एकदम बढ़ जाती है। दिवाली का समय छोटे-छोटे व्यापारियों, रेहड़ी पटरी वालों के लिए एक नई आशा बन जाता है- पीएम 

Oct 22, 2021  |  10:15 AM (IST)
देश के सामने थी कई चुनौतियां- पीएम मोदी

हमारे सामने वैक्सीन के प्रोडक्शन से लेकर मैन्युफैक्चरिंग तक की चुनौती थी। देश के दूरदराज के इलाकों में वैक्सीन पहुंचाना किसी भागीरथ प्रयास से कम नहीं था। देश के वैज्ञानिकों ने इसका रास्ता भी निकाला। किस राज्य को कितनी वैक्सीन मिलनी चाहिए, कब मिलनी चाहिए इसके लिए भी वैज्ञानिकों ने रास्ता बनाया। कोविन प्लेटफॉर्म ने सबको सुविधा दी और मेडिकल स्टाफ के काम को भी आसान बनाया। आज चारों तरफ एक उत्साह है, समाज, से लेकर अर्थव्यवस्था तक उत्साह है। आज भारतीय कंपनियों में ना केवल रिकॉर्ड निवेश आ रहा है बल्कि रोजगार के अवसर भी पैदा हो रहे हैं। हाउसिंग सेक्टर में भी नई ऊर्जा दिख रही है- पीएम मोदी

Oct 22, 2021  |  10:10 AM (IST)
आज दुनिया देख रही है भारत की ताकत- पीएम मोदी
दुनिया अब भारत को कोरोना से सुरक्षित मानेगी। पूरा विश्व आज भारत की इस ताकत को देख रहा है और महसूस कर रहा है। भारत का वैक्सीनेशन अभियान सबका साथ, सबका विकास और सबका प्रयास का जीवंत उदाहरण है। कोरोना महामारी की शुरूआत में इस बात की आशंका जताई जा रही थी कि भारत इस महामारी से मुश्किल से लड़ पाएगा। कहा जा रहा था कि इतना संयम और इतना अनुशासन कैसे चलेगा। सबको साथ लेकर देश ने मुफ्त वैक्सीन का अभियान शुरू किया। देश के हर कोने में एक ही मंत्र रहा कि अगर बीमारी भेदभाव नहीं करती तो वैक्सीन  भी भेदभाव नहीं करती है। देश ने ‘सबको वैक्सीन-मुफ़्त वैक्सीन’ का अभियान शुरू किया।गरीब-अमीर, गांव-शहर, दूर-सुदूर, देश का एक ही मंत्र रहा कि अगर बीमारी भेदभाव नहीं नहीं करती, तो वैक्सीन में भी भेदभाव नहीं हो सकता! इसलिए ये सुनिश्चित किया गया कि वैक्सीनेशन अभियान पर VIP कल्चर हावी न हो- पीएम मोदी
Oct 22, 2021  |  10:05 AM (IST)
आज कई लोग भारत के वैक्सीनेशन कार्यक्रम की तुलना दुनिया के दूसरे देशों से कर रहे हैं- मोदी

अपनी बात की शुरूआत एक वेद वाक्य के साथ शुरूआत करते हुए कहा कि हमारे देश ने एक तरफ कर्तव्य का पालन किया तो दूसरी तरफ उसे बड़ी सफलता भी मिली। कल 21 अक्टूबर को भारत ने 100 करोड़ डोज की असाधारण उपलब्धि हासिल की है। इसके पीछे 130 करोड़ देशवासियों की मेहनत लगी है। यह सफलता भारत और हर देशवासी की सफलता है। मैं इसके लिए हर देशवासी को इसके लिए बधाई देता हूं। 100 करोड़ वैक्सीन डोज केवल आंकड़ा नहीं है बल्कि देश के सामर्थ्य का प्रतिबिंब है। यह उस भारत की तस्वीर है जो कठिन लक्ष्य तय कर उसे हासिल करना जानता है। आज कई लोग भारत के वैक्सीनेशन कार्यक्रम की तुलना दुनिया के दूसरे देशों से कर रहे हैं। भारत ने जिस तेजी से 1 बिलियन का आंकड़ा तय किया है उसकी खूब तारीफ हो रही है- पीएम मोदी

Oct 22, 2021  |  09:58 AM (IST)
कोविड टीकाकरण को बताया कवच

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड रोधी टीकाकरण के तहत बृहस्पतिवार को भारत के 100 करोड़ खुराक का आंकड़ा पार करने पर कहा था कि देश के पास पिछले 100 वर्ष की सबसे बड़ी वैश्विक महामारी का मुकाबला करने के लिए अब एक मजबूत ‘सुरक्षा कवच’ है।

Oct 22, 2021  |  09:34 AM (IST)
पीएम मोदी ने कही ये बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को भारत के कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान को ‘चिंता से आश्वासन’ की ओर यात्रा के रूप में वर्णित किया, जिसने देश को मजबूत बनाया। उन्होंने ‘अविश्वास और दहशत पैदा करने के विभिन्न प्रयासों’ के बावजूद टीकों पर लोगों के विश्वास को इस सफलता का श्रेय दिया।

Oct 22, 2021  |  09:34 AM (IST)
कयासबाजी शुरू


पीएम नरेंद्र मोदी के भाषण को लेकर सोशल मीडिया पर काफी कयास लगाए जा रहे हैं। कई लोगों का मानना है कि पीएम मोदी 100 करोड़ वैक्सीनेशन की उपलब्धि का जिक्र करेंगे तो कई का मानना है कि आने वाले त्योहारों के लिए कोई बड़ा संदेश देंगे।