अयोध्या फैसले से पहले योगी सरकार का बड़ा कदम, 7 PPS अधिकारियों को किया जबरन रिटायर

देश
Updated Nov 07, 2019 | 15:47 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

7 Police officers forced to take voluntary retirement: भ्रष्टाचार की वजह से उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने 7 पीपीएस अधिकारियों को जबरन रिटायर कर दिया है।

Yogi Aditynath
योगी आदित्यनाथ  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • योगी आदित्यनाथ सरकार ने 7 पीपीएस अधिकारियों को किया जबरन रिटायर
  • 2 वर्षों में योगी सरकार 200 से ज्यादा अफसरों और कर्मचारियों को कर चुकी है जबरन रिटायर
  • केंद्र की मोदी सरकार भी कर चुकी है कई अधिकारियों को जबरन रिटायर

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अयोध्या मामले पर फैसला आने से पहले बड़ा कदम उठाया है। सरकार ने भ्रष्टाचार के मामलों पर सख्त कार्रवाई करते हुए 7 पीपीएस अधिकारियों को जबरन रिटायर (Voluntary Retirement) कर दिया है। खबरों की मानें तो कुछ अधिकारियों को बर्खास्त भी किया गया है। इससे पहले यूपी सरकार पिछले दो वर्षों के दौरान 200 से भी अधिक अधिकारियों व कर्मचारियों को जबरन रिटायर कर चुकी है।

सरकार ने भ्रष्टाचार के आरोपी 7 पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वाले को 25000 रुपये का इनाम घोषित किया है। पिछले दो वर्षों के दौरान योगी सरकार 400 से अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों को या तो निलंबित कर चुकी है या फिर उन्हें डिमोट कर चुकी है।  जिन सात पीपीएस अधिकारियों को जब रिटायर किया गया है वो इस प्रकार हैं-

  • वरूण कुमार,- सहायक सेनानायक 15वीं वाहिनी पीएसी, जनपद आगरा
  • विनोद कुमार राणा- पुलिस उपाधीक्षक जनपद अयोध्या
  • नरेन्द्र कुमार राणा -पुलिस उपाधीक्षक जनपद आगरा
  • रतन कुमार यादव- सहायक सेनानायक 33वीं वाहिनी पीएसी, झांसी
  • तेजवीर सिंह यादव- सहायक सेनानायक 27वीं वाहिनी पीएसी, सीतापुर
  • संतोष कुमार सिंह- मण्डलाधिकारी मुरादाबाद
  • तनवीर अहमद खान- सहायक सेनानायक 30वीं वाहिनी पीएसी, गोण्डा

अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि स्क्रीनिंग कमेटी की संस्तुति पर शासन द्वारा निर्णय लेते हुए प्रान्तीय पुलिस सेवा संवर्ग के 50 वर्ष या उससे अधिक आयु के सात पुलिस उपाधीक्षकों/ सहायक सेनानायकों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति प्रदान कर दी गई है। आपको बता दें कि भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते केंद्र की मोदी सरकार भी कई अधिकारियों को जबरन रिटायर कर चुकी है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर