शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों पर BJP के दिलीप घोष का शर्मनाक बयान, 'इनमें से किसी की मौत क्यों नहीं हो रही'

शाहीन बाग में सीएए का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों पर पश्चिम बंगाल के बीजेपी प्रमुख दिलीप घोष ने एक विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि इनमें से अभी तक कोई मरा क्यों नहीं है।

dilip ghosh
दिलीप घोष  |  तस्वीर साभार: IANS

नई दिल्ली : पश्चिम बंगाल बजेपी प्रमुख दिलीप घोष एक बार फिर से अपने एक बयान के कारण विवादों में हैं। मंगलवार को उन्होंने कहा कि इतनी ठंड के बावजूद सीएए के खिलाफ शाहीन बाग प्रदर्शन में कोई मर क्यों नहीं रहा है कोई बीमार क्यों नही हो रहा है। उन्होंने कहा कि जबकि नोटबंदी के समय बैंकों के बाहर लंबी लाइनों में खड़े रहने में कई लोगों ने अपनी जानें गंवाई थी। उनके इस बयान ने बड़ा विवाद का रूप ले लिया है। 

उन्होंने कहा कि इतनी कड़ाके की ठंड में शाहीन बाग में महिलाएं और बच्चे खुले आसमान के नीचे महीनों से दिन रात प्रदर्शन कर रहे हैं उनमें से अभी तक कोई बीमार या फिर कोई मर क्यों नहीं रहा है, जबकि नोटबंदी के समय दो तीन घंटे लाइन में खड़े रहने में कई लोग मर गए थे।

कोलकाता प्रेस क्लब में आयोजित एक कार्यक्रम में घोष बोल रहे थे। इतना ही नहीं उन्होंने इस पर सवाल खड़े किए कि शाहीन बाग में हो रहे प्रदर्शन को कौन फंड कर रहा है। 

उन्होंने कहा कि ताज्जुब की बात है कि इतनी ठंड में महिलाएं बच्चे खुले आसमान के नीचे बैठे हैं उन्हें कुछ होता क्यों नहीं है, क्यों अभी तक एक भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई, क्यों कोई अभी तक बीमार भी नहीं पड़ा है?

क्या उन्होंने कोई अमृत पी रखा है जो उन्हें कुछ नहीं हो रहा है। सैकड़ों महिलाएं साउथ दिल्ली के शाहीन बाग में सीएए, एनसीआर और एनपीआर के खिलाफ महीनों से प्रदर्शन में बैठी हैं।

आपको बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब दिलीप घोष ने सीएए के खिलाफ विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों पर हमला बोला है। इसके पहले उन्होंने कहा था कि उत्तर प्रदेश, असम और कर्नाटक में सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने वालों को कुत्तों की तरह गोली मार देनी चाहिए।

इसके साथ ही उन्होंने पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी की सरकार पर प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कोई कड़ा कदम ना उठाने के लिए आलोचना की थी। इसके साथ ही उन्होंने सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे बुद्धिजीवियों को शैतान कहा था। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर