'कांग्रेस की किस्‍मत बदल सकती हैं प्रियंका गांधी', पार्टी अध्‍यक्ष बनाने के लिए फिर तेज हुईं आवाजें

देश
Updated Jul 20, 2019 | 12:44 IST | श्वेता यादव

राहुल गांधी के कांग्रेस अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफे के बाद अब प्रियंका गांधी को यह जिम्‍मेदारी सौंपे जाने की मांग एक बार फिर जोर पकड़ने लगी है।

Priyanka Gandhi
प्रियंका गांधी (फाइल फोटो)  |  तस्वीर साभार: PTI
मुख्य बातें
  • राहुल गांधी के इस्‍तीफे के बाद कांग्रेस नेतृत्‍व के संकट से जूझ रही है
  • प्रियंका गांधी को कांग्रेस अध्‍यक्ष बनाने की मांग फिर तेज हुई है
  • कांग्रेस के कई नेताओं ने प्रियंका के पक्ष में आवाज उठाई है

नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद से ही कांग्रेस नेतृत्‍व के संकट से जूझ रही है। राहुल गांधी ने अध्‍यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है, जिसके बाद अब तक नए अध्‍यक्ष की तलाश नहीं की जा सकी है। हालांकि कांग्रेस कार्य समिति ने राहुल गांधी का इस्‍तीफा अभी औपचारिक तौर पर स्‍वीकार नहीं किया है, पर राहुल साफ कर चुके हैं कि वह इस पद पर बने नहीं रहेंगे। साथ ही उन्‍होंने कांग्रेस को नए अध्‍यक्ष की जल्‍द से जल्‍द तलाश करने के लिए भी कहा। इन सबके बीच प्रियंका गांधी को कांग्रेस अध्‍यक्ष बनाने की मांग पार्टी में एक बार फिर जोर पकड़ने लगी है, जो आम चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस से औपचारिक तौर पर जुड़ीं और पार्टी ने उन्‍हें महासचिव बनाते हुए पूर्वी यूपी का प्रभार सौंपा।

लोकसभा चुनाव में हालांकि प्रियंका कोई खास करिश्‍मा नहीं कर पाईं। कांग्रेस का प्रदर्शन न केवल पूर्वी यूपी में, बल्कि पूरे प्रदेश में निराशाजनक रहा। यहां तक कि पार्टी अमेठी की वह सीट भी गंवा बैठी, जो कांग्रेस में नेहरू-गांधी परिवार की परंपरागत सीट मानी जाती रही है। राहुल गांधी यहां से कांग्रेस के उम्‍मीदवार थे, जिन्‍हें बीजेपी की स्‍मृति ईरानी के मुकाबले हार का सामना करना पड़ा। इन चुनाव नतीजों के बावजूद कांग्रेस में प्रियंका को पार्टी की कमान सौंपे जाने की मांग एक बार फिर उठ रही है। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेटे व पूर्व सांसद अभिजीत मुखर्जी का कहना है कि पार्टी को इस संबंध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मांगों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। उन्‍होंने यह भी कहा कि अगर प्रियंका पार्टी की कमान अपने हाथों में लेती हैं तो पार्टी की किस्‍मत बदल सकती है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री व पार्टी के वरिष्ठ नेता अनिल शास्त्री ने भी कांग्रेस की नई अध्‍यक्ष के रूप में प्रियंका की पुरजोर वकालत करते हुए कहा है कि राहुल के इस्‍तीफे के बाद पार्टी के अस्तित्‍व पर सवाल आ गया है। ऐसे में जरूरी है कि पार्टी अध्‍यक्ष की तलाश जल्‍द से जल्‍द की जाए और प्रियंका इसके लिए सटीक नाम हो सकती हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीप्रकाश जयसवाल ने भी पार्टी के अन्‍य नेताओं के विचारों से सहमति जताते हुए प्रियंका को कांग्रेस अध्‍यक्ष बनाने की अपील की है।

हालांकि लोकसभा चुनाव में हार की नैतिक जिम्‍मेदारी लेते हुए कांग्रेस अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा देने वाले राहुल गांधी ने साफ तौर पर कहा था कि देश की सबसे पुरानी पार्टी को अपना नया अध्‍यक्ष किसी ऐसे नेता को चुनना चाहिए, जो गांधी परिवार से बाहर का हो। 25 मई को कांग्रेस कार्य समिति की अहम बैठक में पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने वाले राहुल ने अपनी बहन प्रियंका को कांग्रेस अध्‍यक्ष बनाए जाने की पार्टी कार्यकर्ताओं की मांग भी खारिज कर दी थी।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर