Unnao Rape:बलात्कार पीड़िता और उनके वकील एम्स में लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर, दोनों की हालत नाजुक 

देश
Updated Aug 07, 2019 | 22:01 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Unnao Rape Victim:उन्नाव रेप की पीड़िता और उनके वकील को बेहतर इलाज के लिए दिल्ली लाया गया है, यहां एम्स में उनका इलाज चल रहा है, बताया जा रहा है कि पीड़िता और उनके वकील की हालत नाजुक बनी हुई है। 

AIIMS
ट्रॉमा सेंटर में भर्ती पीड़िता और उनके वकील की हालत नाजुक बनी हुई है 

मुख्य बातें

  • ट्रॉमा सेंटर में भर्ती पीड़िता और उनके वकील की हालत नाजुक बनी हुई है
  • उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली ( life support system) पर रखा गया है
  • दोनों मरीज़ों का इलाज अलग अलग विभागों के डॉक्टरों की एक टीम कर रही है

नयी दिल्ली। Unnao rape Victim Treatment in AIIMS:उत्तर प्रदेश के उन्नाव में साल 2017 में हुए रेप कांड की पीड़िता का हाल ही में रायबरेली में रोड एक्सीडेंट हो गया था जिसमें उसकी चाची और एक रिश्तेदार की मौत हो गई थी वहीं पीड़िता और उसके वकील इस हादसे में बुरी तरह से घायल हो गए थे जिन्हें इलाज के लिए पहले लखनऊ और बाद में दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था।

गौरतलब है कि पीड़िता ने विधायक कुलदीप सेंगर पर रेप का आरोप लगाया था जिसके बाद में अब रायबरेली जाते समय ये रोड एक्सीडेंट सामने आया है जिसमें घायल होकर पीड़िता की हालत नाजुक बनी हुई है और एम्स के ट्रॉमा सेंटर में उसका और उसके वकील का इलाज चल रहा है। 

ट्रॉमा सेंटर में भर्ती पीड़िता और उनके वकील की हालत नाजुक बनी हुई है और उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया है।अस्पताल के अधिकारियों ने कहा था कि उन्हें निमोनिया हो गया है। घटना में उनके वकील के सिर पर चोटें आईं थी, उन्हें यहां ट्रॉमा सेंटर में भर्ती किया गया था। एम्स के अधिकारियों ने बताया कि उनके मस्तिष्क में गंभीर चोट आई है और कई हड्डियां भी टूट गई हैं।

एम्स प्रशासन ने बताया कि दोनों की हालात गंभीर है और उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया है।उन्होंने बताया कि दोनों मरीज़ों का इलाज अलग अलग विभागों के डॉक्टरों की एक टीम कर रही है।

राय बरेली में 28 जुलाई को कार-ट्रक की टक्कर में 19 साल की पीड़िता तथा उनके वकील गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें बेहतर इलाज के लिए सोमवार को लखनऊ के एक अस्पताल से एयर लिफ्ट कराकर नई दिल्ली के अस्पताल पहुंचाया गया था। इसके लिए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से ट्रॉमा सेंटर पहुंचाने के लिए ‘ग्रीन कॉरीडोर’ बनाया था।

गौरतलब है कि उन्नाव रेप केस की पीड़िता के रोड एक्सीडेंट के मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, उनके भाई मनोज सिंह सेंगर और 8 अन्य के खिलाफ 29 जुलाई को एफआईआर दर्ज की गई थी। सेंगर और उनका भाई पहले ही जेल में हैं, सेंगर के खिलाफ हत्या और हत्या की साजिश का मामला दर्ज किया गया था। 

हादसे के बाद पीड़िता के परिवार ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बीजेपी का पत्र लिखा और मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की थी।बाद में बीजेपी ने कुलदीप को पार्टी से निकाल दिया था। सेंगर पर रेप के साथ-साथ हत्या का भी मामला दर्ज है, कुलदीप सिंह फिलहाल उत्तर प्रदेश के बांगरमाऊ से विधायक है। 

 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर