Saradha Chit Fund: कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार नहीं पेश हुए सीबीआई के सामने 

देश
Updated Sep 15, 2019 | 01:23 IST

Kolkata Former Police Commissioner Rajiv Kumar:कोलकाता के पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार शनिवार को सीबीआई ऑफिस में नहीं पेश हुए।

rajeev kumar
कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार (फाइल फोटो) 

मुख्य बातें

  • राजीव कुमार पर संकट गहराता जा रहा है, वो शनिवार को सीबीआई ऑफिस में नहीं पेश हुए
  • CBI ने सारदा चिट फंड घोटाला मामले में समन भेजकर पेश होने के लिए कहा था
  • सीबीआई अधिकारियों की टीम कोलकाता में राजीव कुमार का इंतजार करती रही

नई दिल्ली: शारदा चिटफंड मामले (Saradha chit fund scam) में कोलकाता के पूर्व पुलिस क​मिश्नर राजीव कुमार पर संकट गहराता जा रहा है, वो शनिवार को सीबीआई ऑफिस में नहीं पेश हुए। गौरतलब है कि राजीव को CBI ने सारदा चिट फंड घोटाला मामले में समन भेजकर पेश होने के लिए कहा था मगर वो उनके सामने पेश नहीं हुए।

बताते हैं कि सीबीआई अधिकारियों की टीम कोलकाता में राजीव कुमार का इंतजार करती रही वहीं राजीव कुमार ने जांच एजेंसी के समन का कोई जवाब भी नहीं भेजा। गौरतलब है कि कलकत्ता हाई कोर्ट ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के एक नोटिस को रद्द करने के उनके अनुरोध को भी खारिज कर दिया था। 

इस नोटिस में कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर और फिलहाल अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक राजीव कुमार से मामले में पूछताछ के लिए पेश होने को कहा गया था। हाईकोर्ट के इस कदम से राजीव कुमार की मुश्किलें बढ़ गई हैं और कहा जा रहा है कि किसी भी वक्त उनकी गिरफ्तारी हो सकती है। राजीव उस विशेष जांच दल (SIT) का हिस्सा थे जिसे राज्य सरकार ने अन्य चिटफंड मामलों के साथ ही इस घोटाले की जांच के लिए बनाया था। लेकिन उच्चतम न्यायालय ने 2014 में इस मामले को सीबीआई (CBI) को सौंप दिया।

आशंका है कि राजीव कुमार को गिरफ्तार भी किया जा सकता है
हाईकोर्ट के फैसले के बाद सीबीआई के अधिकारी शुक्रवार की शाम राजीव कुमार के आवास पर पहुंचे। सीबीआई अधिकारी नोटिस सौंपकर लौट गए, राजीव उस वक्त घर में नहीं  थे,उन्हें पूछताछ के लिए तलब किया गया है। आशंका जताई जा रही है कि इस मामले में राजीव कुमार को गिरफ्तार भी किया जा सकता है।

इससे पहले कोलकाता हाईकोर्ट ने राजीव कुमार से कहा था कि वह सीबीआई के पास अपना पासपोर्ट जमा करवा दें, अधिकारियों ने कोलकाता हवाई अड्डे के अधिकारियों से भी अलर्ट रहने को बोला है।गौरतलब है कि सारदा ग्रुप ऑफ कंपनीज ने लाखों लोगों को कथित तौर पर निवेश पर ऊंचे रिटर्न का वादा कर उन्हें 2500 करोड़ रूपये का चूना लगाया था। 

 

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...